1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दिल्ली में 100 रुपए प्रति किलो हुआ प्‍याज का दाम, थोक मंडी में कीमत घटने के बावजूद रिटेल भाव बढ़ा

दिल्ली में 100 रुपए प्रति किलो हुआ प्‍याज का दाम, थोक मंडी में कीमत घटने के बावजूद रिटेल भाव बढ़ा

प्याज की आवक बढ़ने और आयात से कीमतों पर नियंत्रण रखने के सरकार के फैसले के बाद बुधवार को प्याज के थोक दाम में करीब 50 फीसदी की गिरावट आई, लेकिन खुदरा में लोग 100 रुपए प्रति किलो प्याज खरीद रहे थे।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Updated on: November 06, 2019 19:24 IST
onion- India TV Paisa
Photo:PTI

onion

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली की आजादपुर मंडी में दो दिन पहले प्याज का थोक भाव 80 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गया था, लेकिन आवक बढ़ने और आयात से कीमतों पर नियंत्रण रखने के सरकार के फैसले के बाद बुधवार को प्याज के थोक दाम में करीब 50 फीसदी की गिरावट आई, लेकिन खुदरा में लोग 100 रुपए प्रति किलो प्याज खरीद रहे थे। आने वाले समय में प्याज के दाम में और बढ़ोतरी की संभावना बनी हुई है।

बुधवार को दिल्ली में केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान ने बढ़ती प्याज की कीमतों और प्याज आयात के मुद्दे पर बुधवार को उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय के सचिव एके श्रीवास्तव और खाद्य सचिव रविकांत से मुलाकात की। पासवान ने कहा कि बारिश और बाढ़ की वजह से प्याज की फसल खराब हुई है। प्याज की कीमत बढ़ते ने का मुख्य कारण मांग और आपूर्ति में गैप की वजह से बढ़ रही हैं। नवंबर के अंत तक प्याज की बढ़ती कीमतों से राहत मिल जाएगी।  बुधवार को 

गौरतलब है कि एक दिन पहले केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने बताया कि प्याज आपूर्ति जल्द ही विदेशों से आरंभ होने वाली है, जिसके बाद कीमतें नियंत्रण में रहेंगी। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने कहा है कि सरकार अन्य देशों से प्याज के आयात करने का फैसला लिया है, ताकि इसकी कीमतों में कमी आए। मंगलवार को अंतर-मंत्रालय समिति की बैठक में प्याज की उपलब्धता और कीमतों की फिर से समीक्षा की गई।

onion price

किन देशों से आएगा प्याज

अफगानिस्तान, मिस्र, तुर्की और ईरान स्थित भारतीय मिशनों को भारत को प्याज की आपूर्ति के लिए कहा गया है। उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही 80 से 100 कंटेनरों में प्याज भारत पहुंचेंगे। प्याज के आयात का निर्णय लिया जाना इसकी घरेलू उपलब्धता पर्याप्त न होने का संकेत है। सरकार महाराष्ट्र एवं अन्य दक्षिणी राज्यों से उत्तर भारत में प्याज की आपूर्ति का प्रयास कर रही है। गौरतलब है कि बेमौसम बारिश और आवक कम होने के कारण एक बार फिर प्याज के दाम आसमान छू रही हैं। 

आजादपुर ऑनियन मर्चेंट एसोसिएशन के प्रेसीडेंट राजेंद्र शर्मा ने आईएएनएस को बताया कि राजस्थान से प्याज की आवक बढ़ने से कीमतों में गिरावट आई है। उन्होंने बताया कि सोमवार को मंडी में प्याज का भाव 40-80 रुपए प्रति किलो हो गया था जोकि घटकर अब 20-45 रुपए प्रति किलो हो गया है। उन्होंने बताया कि बुधवार को मंडी में प्याज की आवक करीब 1,700 टन थी जोकि दो दिन पहले 1,000 टन से भी कम हो गई थी।

आजादपुर एपीएमसी की कीमत सूची के अनुसार, दिल्ली में प्याज का भाव बुधवार को 17.50-50 रुपये प्रतिकिलो था और आवक 1126.5 टन थी। दिल्ली-एनसीआर के विभिन्न इलाकों में खुदरा में प्याज 60-100 रुपये प्रति किलो बिक रहा था। कारोबारियों ने बताया कि सस्ता प्याज आएगा तो खुदरा भाव भी कम हो जाएगा।

शर्मा ने बताया कि भारत में प्याज की किल्लत की वजह बेमौसम बरसात है। राजस्थान, महाराष्ट्र में हुई बेमौसम बरसात के कारण प्याज की आवक कम हो गई है। भारत प्याज की आपूर्ति में कमी को दूर करने के लिए अफगानिस्तान, मिस्र, तुर्की और ईरान से आयात करने पर विचार कर रहा है। उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही 80 से 100 कंटेनरों में प्याज भारत पहुंचेगी। प्याज कारोबार से जुड़े एक व्यापारी ने बताया कि देश के प्रमुख प्याज उत्पादक प्रदेशों में बारिश के कारण फसल खराब हुई है, इसलिए आयात नहीं होने पर आपूर्ति का टोटा बना रहेगा।

इसलिए बढ़ रही प्याज की कीमत

किसानों का कहना है कि मार्केट में प्याज की कमी के कारण दाम में इजाफा हो रहा है। आने वाले 10-15 दिनों तक राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। किसानों के विरोध प्रदर्शन के चलते मंडियों में प्याज और टमाटर की आपूर्ति में काफी अड़चन आ रही है। इस वजह से प्याज और टमाटर के दामों में इजाफा हो गया है। जब प्याज थोक मंडी से रिटेल बाजार में जाती है, तो इसके दाम 60 से 70 रुपए प्रति किलोग्राम हो जाते हैं। वहीं टमाटर रिटेल मार्केट में इन दिनों 70 से 80 रुपए प्रति किलोग्राम बिक रहा है। गौरतलब है कि हाल ही में केंद्र सरकार ने प्याज और दालों के दाम को नियंत्रण में रखने के लिए नैफेड को बफर स्टॉक से दाल और प्याज की सप्लाई जारी रखने का निर्देश दिया था। (इनपुट- भाषा/IANS)

Write a comment