1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Jio ने सस्‍ती और तेज इंटरनेट सर्विस उपलब्‍ध कराने के लिए उठाया कदम, बिछाएगी अंडरसी केबल नेटवर्क

Reliance Jio ने सस्‍ती और तेज इंटरनेट सर्विस उपलब्‍ध कराने के लिए उठाया कदम, बिछाएगी अंडरसी केबल नेटवर्क

रिलायंस जियो ने कहा कि वह स्ट्रीमिंग वीडियो, रिमोट वर्कफोर्स, 5जी, इंटरनेट ऑफ थिंग्स जैसी मांगों को पूरा करने के लिए आईएएक्स और आईईएक्स सिस्टम बना रही हैै।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: May 19, 2021 10:26 IST
Reliance Jio joins global consortium to build undersea cable network- India TV Paisa
Photo:FILE PHOTO

Reliance Jio joins global consortium to build undersea cable network

नई दिल्‍ली। अरबपति कारोबारी मुकेश अंबानी के नेतृत्‍व वाली रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (RIL) की टेलीकॉम सब्सिडियरी रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने कहा कि बढ़ती डाटा मांग को पूरा करने के लिए वह भारत केंद्रित सबसे बड़ी अंतरराष्‍ट्रीय सबमरीन केबल सिस्‍टम का निर्माण कर रही है। कंपनी ने इसके लिए वैश्विक भागीदारों और सबमरीन केबल आपूर्तिकर्ता सबकॉम के साथ गठजोड़ किया है। कंपनी की योजना दो सबमरीन केबल सिस्‍टम को स्‍थापित करने की है, जिसमें से एक भारत को सिंगापुर, थाईलैंड, मलेशिया के जरिये एशिया पेसीफि‍क मार्केट से जोड़ेगा और दूसरा इसे इटली, मध्‍य अफ्रीका और उत्‍तरी अफ्रीका से जोड़ेगा।  

रिलायंस जियो के बयान के मुताबिक कंपनी भारत और आसपास के क्षेत्रों की डाटा जरूरतों को पूरा करने के लिए अंतरराष्ट्रीय सबमरीन केबल प्रणाली तैयार कर रही है। क्षेत्र में डाटा की मांग में अभूतपूर्व वृद्धि को देखते हुए कंपनी फिलहाल अगली पीढ़ी की दो सबमरीन केबल डालेगी। इसमें कहा गया है कि भारत-एशिया-एक्सप्रेस (आईएएक्स) प्रणाली भारत को पूर्व की ओर सिंगापुर और उससे आगे कनेक्ट करेगी, जबकि भारत-यूरोप-एक्सप्रेस (आईईएक्स) प्रणाली भारत को पश्चिम की ओर पश्चिम एशिया और यूरोप से जोड़ेगी।

आईएएक्स और आईईएक्स से भारत और भारत से बाहर डाटा और क्लाउड सेवाओं को पहुंचाने की क्षमता बढ़ेगी तथा ग्राहकों को और बेहतर सेवाएं मिलेगी। बयान के अनुसार इस उच्च गति की प्रणाली से 16,000 किलोमीटर से अधिक की दूरी तक 200 टीबीपीएस (टेरा बिट प्रति सेकेंड) से अधिक की क्षमता प्रदान करेगा। रिलायंस जियो के अध्यक्ष मैथ्यू ओमन ने इस बारे में कहा कि रिलायंस जियो स्ट्रीमिंग वीडियो, रिमोट वर्कफोर्स, 5जी, इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) जैसी मांगों को पूरा करने के लिए अपनी तरह के पहले भारत-केंद्रित आईएएक्स और आईईएक्स सिस्टम बनाने का नेतृत्व कर रही है।

उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी के बीच इस महत्वपूर्ण काम को अंजाम तक पहुंचाना एक चुनौती है किंतु इस महामारी ने डिजिटल सेवाओं के लिए उच्च-स्तरीय कनेक्टिविटी की आवश्यकता को भी रेखांकित किया है। सबमरीन केबल नेटवर्क का उपयोग इंटरनेट और टेलीकॉम सेवाओं के निर्बाध संचालन के लिए देशों को आपस में जोड़ने के लिए किया जाता है।

यह भी पढ़ें:Tata Motors की अच्‍छी बिक्री के बाद भी हुआ साल भर में इतना बड़ा नुकसान

यह भी पढ़ें:जानिए भारत के कब और कैसे आएंगे फ‍िर अच्‍छे दिन....

यह भी पढ़ें:809 रुपये वाला LPG Gas Cylinder सिर्फ 9 रुपये में करें बुक, 31 मई तक है मौका

यह भी पढ़ें:मनी ट्रांसफर के लिए NEFT का इस्‍तेमाल करने वालों को RBI ने किया अलर्ट...

 

Write a comment
Click Mania
bigg boss 15