1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. 5G Service: अभी हाई स्पीड इंटरनेट के लिए करना होगा इंतजार, दूरसंचार राज्य मंत्री ने दी वास्तविक जानकारी

5G Service: अभी हाई स्पीड इंटरनेट के लिए करना होगा इंतजार, दूरसंचार राज्य मंत्री ने दी वास्तविक जानकारी

5G Service: लगभग एक महीने में देश में 5जी मोबाइल सेवाएं शुरू हो जाएंगी, जिसका सभी क्षेत्रों के विकास पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

Alok Kumar Edited By: Alok Kumar @alocksone
Published on: August 08, 2022 15:05 IST
5G Service - India TV Hindi News
Photo:INDIA TV 5G Service

5G Service: अगर आप देश में 5जी सेवा शुरू होने का इंतजार बेसब्री कर रहें हैं तो आपको थोड़ा इंतजार करना होगा। देश में 5G सेवा की शुरुआत में अभी एक महीने का वक्त लग सकता है। दूरसंचार राज्य मंत्री देवुसिंह चौहान ने सोमवार को कहा कि लंबे समय से प्रतीक्षित उच्च गति वाली 5जी सेवाएं लगभग एक महीने में शुरू हो सकती हैं। चौहान ने एशिया और ओशिनिया क्षेत्र के लिए अंतरराष्ट्रीय दूरसंचार संघ के क्षेत्रीय मानकीकरण मंच (आरएसएफ) के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए यह उम्मीद जताई।

देश में 6जी पर भी काम शुरू हुआ

उन्होंने कहा कि भारत इस साल के अंत तक 5जी सेवाओं के लिए स्वदेश में विकसित और निर्मित 5जी दूरसंचार गियर तैनात कर सकता है। उन्होंने कहा, ‘‘लगभग एक महीने में देश में 5जी मोबाइल सेवाएं शुरू हो जाएंगी, जिसका सभी क्षेत्रों के विकास पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। एक 6जी प्रौद्योगिकी नवाचार समूह भी स्थापित किया गया है, जो स्वदेशी 6जी स्टैक के विकास की दिशा में काम कर रहा है।’’ चौहान ने कहा कि सरकार स्वदेशी रूप से डिजाइन, विकसित और निर्मित उन्नत दूरसंचार प्रौद्योगिकी को बढ़ावा दे रही है, और इसके चलते भारत में आज एक मजबूत घरेलू 5जी मोबाइल संचार पारिस्थितिकी तंत्र है। मंत्री ने कहा, ‘‘हमने पूरी तरह से स्वदेशी 5जी ‘टेस्ट बेड’ विकसित किया है, जो 5जी नेटवर्क तत्वों के परीक्षण की सुविधा देगा।

1.5 लाख करोड़ रुपये की बोलियां मिलीं

भारत में 5जी नेटवर्क को लागू करने के लिए हमें वर्ष के अंत तक स्वदेशी रूप से विकसित और निर्मित 5जी स्टैक तैयार होने की संभावना है।’’ मंत्री ने कहा कि भारतीय दूरसंचार बाजार में वृद्धि मोदी सरकार की बाजार अनुकूल नीतियों से हुई है। चौहान ने कहा, ‘‘हमने दूरसंचार क्षेत्र में कई संरचनात्मक और प्रक्रियात्मक सुधारों की शुरुआत की है। इन सुधारों ने दूरसंचार उद्योग के लिए एक बेहद सकारात्मक और future oriented वातावरण तैयार किया है। नतीजतन, भारत में हाल ही में 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी में 20 अरब अमेरिकी डॉलर (1.5 लाख करोड़ रुपये) की बोलियां मिलीं।’’ उन्होंने कहा कि भारतीय इंजीनियरों ने 5जी मानकों का एक सेट विकसित किया है, जिससे ग्रामीण इलाकों में 5जी नेटवर्क के प्रसार में आसानी होगी।

Latest Business News

navratri-2022