1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. हवाई जहाज में अब चप्पल नहीं सिर्फ सूट-बूट, ATF में 7 बार की बढ़ोत्तरी के बाद अब मुंह चिढ़ा रहे हवाई किराए

आम आदमी के लिए अब ट्रेन ही सस्ता विकल्प, ATF में 7 बार की बढ़ोत्तरी के बाद अब मुंह चिढ़ा रहे हवाई किराए

हवाई किराए की ट्रेन से तुलना अब कर दीजिए बंद, इस सातवीं बार ATF महंगा होने के चलते बिगड़ेगा गर्मी की छुट्टियों का बजट 

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: April 01, 2022 13:07 IST
Air Travel- India TV Hindi News
Photo:FILE

Air Travel

नई दिल्ली: यदि आप भी ट्रेन की जगह सस्ते किराये में हवाई यात्रा का सपना देख रहे थे तो जाग जाइए। इस साल की शुरुआत से ही हवाई टिकटों में पर लग गए थे। वहीं अब 1 अप्रैल से साल में 7वीं बार विमान ईंधन या एविएशन टर्बाइन फ्यूल (ATF) की कीमतों के बाद हवाई टिकटों के दाम घटने की रही बची उम्मीद भी हवा में उड़ गई है। 

सरकारी तेल कंपनियों ने 1 अप्रैल से एविएशन टर्बाइन फ्यूल (ATF) की कीमतों में फिर दो फीसदी की बढ़ोतरी कर दी है। इससे देशभर में एटीएफ की कीमत रेकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। इस साल सातवीं बार एटीएफ की कीमत में इजाफा किया गया है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल (crude) की कीमतों में बढ़ोतरी के बीच एटीएफ के दाम आसमान पर पहुंच गए हैं। 

रिकॉर्ड कीमत पर एटीएफ के दाम 

सरकारी क्षेत्र की पेट्रोलियम कंपनियों की अधिसूचना के मुताबिक इस बढ़ोतरी के बाद राष्ट्रीय राजधानी में एटीएफ की कीमत 2,258.54 रुपये प्रति किलोलीटर यानी दो फीसदी की वृद्धि के साथ 1,12,924.83 रुपये प्रति किलोलीटर पर पहुंच गई है। एटीएफ की कीमतों में 16 मार्च को अब तक की सर्वाधिक 18.3 फीसदी (17,135.63 रुपये प्रति किलोलीटर) बढ़ोतरी की गई थी। एटीएफ की कीमतों में 2022 की शुरुआत से हर पखवाड़े वृद्धि हुई है। एक जनवरी से अभी तक एटीएफ की कीमतों में 38,902.92 किलोलीटर या लगभग 50 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

सस्ती टिकटों का दौर खत्म 

विमान ईंधन की कीमत में हर महीने की पहली और 16वीं तारीख को बदलाव होता है। यह बदलाव अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेंचमार्क फ्यूल की पिछले पखवाड़े की कीमत पर आधारित होता है। किसी भी विमान के रनिंग कॉस्ट में करीब 40 फीसदी हिस्सा जेट फ्यूल का होता है। एटीएफ की कीमत में बढ़ोतरी से हवाई किराए में बढ़ोतरी लाजमी है। इससे गर्मियों की छुट्टियों में यात्रा की तैयारी कर रहे लोगों को हवाई टिकट के लिए ज्यादा पैसा खर्च करना पड़ सकता है। पिछली बार एटीएफ में बढ़ोतरी के बाद से हवाई टिकट लगभग दोगुना हो चुका है।

दिल्ली से मुंबई या पटना जाना हुआ महंगा 

दिल्ली से मुंबई का किराया पिछले साल इकोनोमी क्लास में 2500 से 4000 रुपये के बीच मिल जाता था। लेकिन इस साल सितंबर तक किराया 7500 रुपये के पार है। दूसरी ओर दिल्ली और पटना के बीच एसी-2 टायर का किराया 2,200 रुपये था जबकि हवाई जहाज का टिकट 2,000 रुपये में मिल रहा था। यही वजह है कि लोग ट्रेन के बजाय हवाई जहाज में यात्रा करने लगे थे। लेकिन एटीएफ की कीमत में हुई बढ़ोतरी ने सारा गणित बदल दिया है। दिल्ली-पटना के बीच हवाई जहाज का न्यूनतम किराया जो कुछ दिन पहले तक 2,000 रुपये था, वह अब बढ़कर 4,274 रुपये हो गया है। 

Latest Business News

Write a comment