1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. इस कंपनी के कर्मचारी गोवा या मनाली से भी कर पाएंगे काम, मिली वर्कप्लेस चुनने की 'लाइफ टाइम' आजादी

इस कंपनी के कर्मचारी गोवा या मनाली से भी कर पाएंगे काम, मिली वर्कप्लेस चुनने की 'लाइफ टाइम' आजादी

दफ्तर से दूर रहकर काम करने वाले कर्मचारियों को तिमाही बैठकों में भौतिक रूप से शामिल होने और पर्यटन स्थलों की सालाना सैर का भी मौका देगी।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: February 07, 2022 19:11 IST
इस कंपनी के कर्मचारी...- India TV Paisa

इस कंपनी के कर्मचारी गोवा या मनाली से भी कर पाएंगे काम, मिली वर्कप्लेस चुनने की 'लाइफ टाइम' आजादी

Highlights

  • वर्क फ्रॉम होम के बाद अब कंपनियां आपको वर्कप्लेस चुनने की भी आजादी दे रही हैं
  • मीशो ने कर्मचारियों को उनकी पसंद की जगह से काम करने की सुविधा देने की घोषणा की
  • कर्मचारी घर, दफ्तर या अपनी पसंद के किसी अन्य स्थान से भी काम कर सकते हैं

नयी दिल्ली। वर्क फ्रॉम होम के बाद अब कंपनियां आपको वर्कप्लेस चुनने की भी आजादी दे रही हैं। अब आप चाहें तो गोवा और मनाली जैसे पर्यटन स्थल या फिर किसी भी शहर से दफ्तर का काम कर सकते हैं।  ई-कॉमर्स कंपनी मीशो ने अपने सभी कर्मचारियों को उनकी पसंद की जगह से काम करने की सुविधा स्थायी तौर पर देने की सोमवार को घोषणा की।

मीशो ने एक बयान में कहा कि कर्मचारी घर, दफ्तर या अपनी पसंद के किसी अन्य स्थान से भी काम कर सकते हैं। कर्मचारियों को यह सुविधा स्थायी तौर पर दी जाएगी। बेंगलुरु मुख्यालय वाली कंपनी देशभर में दफ्तर खोलने की योजना पर भी काम करेगी। नए दफ्तर खोलने के बारे में कोई भी फैसला प्रतिभाओं की मांग एवं उनकी संख्या के आधार पर किया जाएगा। 

मीशो के मुख्य मानव संसाधन अधिकारी आशीष कुमार सिंह ने कहा, ‘‘हमने इस नए दृष्टिकोण तक पहुंचने से पहले विभिन्न कामकाजी मॉडलों का अध्ययन किया है। भविष्य में यह कामकाजी मॉडल दुनियाभर की प्रतिभाओं को मीशो के लिए काम करने का मौका देगा।" 

वर्तमान में मीशो के साथ करीब 1,700 कर्मचारी काम करते हैं। नया कामकाजी मॉडल सभी कर्मचारियों पर लागू होगा। मीशो इस मॉडल के तहत दफ्तर से दूर रहकर काम करने वाले कर्मचारियों को तिमाही बैठकों में भौतिक रूप से शामिल होने और पर्यटन स्थलों की सालाना सैर का भी मौका देगी। 

Write a comment
erussia-ukraine-news