Saturday, June 22, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. इन प्राइवेट कंपनियों को मिला काला सोना निकालने का जिम्मा, भंडार के बारे में सामने आई बड़ी जानकारी

इन प्राइवेट कंपनियों को मिला काला सोना निकालने का जिम्मा, भंडार के बारे में सामने आई बड़ी जानकारी

Coal Big Information: छह कोयला खदानों की नीलामी सफलतापूर्वक संपन्न होने के साथ अबतक कुल 92 खदानों की वाणिज्यिक नीलामी पूरी की जा चुकी है।

Edited By: Vikash Tiwary @ivikashtiwary
Published on: August 04, 2023 21:40 IST
Coal- India TV Paisa
Photo:INDIA TV Coal

Mining of Coal: सार्वजनिक क्षेत्र की एनएलसी इंडिया एवं एनटीपीसी के अलावा तीन निजी कंपनियों को सातवें दौर की नीलामी में छह कोयला खदानें आवंटित हुई हैं। कोयला मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी बयान में कहा कि सातवें दौर की नीलामी में छह खदानों का आवंटन कर दिया गया है। इनमें से दो खदानें पूरी तरह उत्खनित हैं जबकि चार खदानें आंशिक रूप से ही उत्खनित हैं। मंत्रालय के मुताबिक, एनएलसी को झारखंड के उत्तरी धादु (पश्चिमी भाग) कोयला ब्लॉक मिला है जिसमें 43.4 करोड़ टन कोयला भंडार संभावित है। 

ये है भंडार की डिटेल

इसके साथ सार्वजनिक क्षेत्र की एनटीपीसी लिमिटेड को उत्तरी धादु (पूर्वी भाग) कोयला ब्लॉक मिला है जिसमें 43.9 करोड़ टन कोयला भंडार मौजूद है। इस नीलामी में निजी क्षेत्र की हिंडाल्को इंडस्ट्रीज, बजरंग पावर एंड इस्पात लिमिटेड और नीलकंठ कोल माइनिंग को भी कोयला ब्लॉक मिले हैं। हिंडाल्को को ओडिशा में मीनाक्षी वेस्ट ब्लॉक मिला है, जिसमें 95 करोड़ टन कोयला भंडार है। वहीं नीलकंठ कोल माइनिंग को छत्तीसगढ़ का शेरबंद कोयला ब्लॉक मिला है जिसमें नौ करोड़ टन कोयला भंडार होने का अनुमान है। बजरंग पावर एंड इस्पात लिमिटेड को मध्य प्रदेश में दो कोयला खदानें इस नीलामी में मिली हैं। पथोरा ईस्ट और पथोरा वेस्ट कोयला ब्लॉक की भंडार क्षमता क्रमशः 11.04 करोड़ टन एवं 8.16 करोड़ टन है। 

Coal

Image Source : PTI
कोयला पर पीटीआई की रिपोर्ट

मंत्रालय ने दी जानकारी

मंत्रालय ने कहा कि इन छह कोयला खदानों की नीलामी सफलतापूर्वक संपन्न होने के साथ अबतक कुल 92 खदानों की वाणिज्यिक नीलामी पूरी की जा चुकी है। कोयला मंत्रालय ने कहा कि इन खदानों से वर्तमान उच्च क्षमता के आधार पर करीब 34,185 करोड़ रुपये का सालाना राजस्व पैदा होने की संभावना है। इन खदानों के चालू होने पर कुल 34,486 करोड़ रुपये का पूंजी निवेश आने और करीब 3.10 लाख लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। मंत्रालय ने कहा कि कोयला खदानों की वाणिज्यिक नीलामी शुरू कर सरकार ने कोयला क्षेत्र में सुधारों का जो सिलसिला शुरू किया था, यह उसकी कामयाबी को भी दर्शाता है। 

ये भी पढ़ें: चीन को पछाड़ भारत बनेगा 'दुनिया का कारखाना', आनंद महिंद्रा ने बताया प्लान

 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Business News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement