Monday, June 17, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. बाजार
  4. INDIA Vix उछलने से शेयर बाजार में वोलैटिलिटी बढ़ी, सेंसेक्स-निफ्टी लुढ़के, जानें वजह

INDIA Vix उछलने से शेयर बाजार में वोलैटिलिटी बढ़ी, सेंसेक्स-निफ्टी लुढ़के, जानें वजह

आम चुनाव के परिणाम चार जून को घोषित किए जाएंगे। मार्केट एक्सपर्ट का कहना है कि बाजार में चुनाव परिणाम को लेकर तस्वीर साफ नहीं हो रही है। इसके चलते डर का माहौल बना हुआ है। यह स्थिति 4 जून तक देखने को मिलेगी। उसके बाद बाजार की दिशा तय होगी।

Edited By: Alok Kumar @alocksone
Updated on: May 28, 2024 16:49 IST
Share Market- India TV Paisa
Photo:PTI शेयर बाजार

आम चुनाव खत्म होने की ओर जैसे-जैसे बढ़ रहा है, शेयर बाजार में वोलैटिलिटी बढ़ती जा रही है। आज INDIA Vix 4.59% उछलकर 24.26 पर पहुंच गया। यह 22 महीने का ​उच्चतम आंकड़ा है।। इसके चलते बाजार में उथल-पुथल बढ़ गई है। मंगलवार को शेयर बाजार हरे निशान में खुलने के बाद लाल निशान में बंद हुआ। बीएसई सेंसेक्स 220.05 अंक टूटकर 75,170.45 अंक पर बंद हुआ। वहीं, एनएसई निफ्टी 44.30 अंक लुढ़ककर 22,888.15 अंक पर बंद हुआ। मार्केट एक्सपर्ट का कहना है कि बाजार में चुनाव परिणाम को लेकर तस्वीर साफ नहीं हो रही है। इसके चलते डर का माहौल बना हुआ है। यह स्थिति 4 जून तक देखने को मिलेगी। उसके बाद बाजार की दिशा तय होगी। 

मजबूती के साथ खुला था शेयर बाजार

घरेलू बाजारों में मंगलवार को शुरुआती कारोबार में तेजी रही थी। बीएसई का 30 शेयर वाला सूचकांक सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 194.9 अंक चढ़कर 75,585.40 अंक पर खुला था। एनएसई निफ्टी 59.95 अंक बढ़कर 22,992.40 अंक पर पहुंच गया था। सेंसेक्स में सूचीबद्ध कंपनियों में से विप्रो, लार्सन एंड टुब्रो, महिंद्रा एंड महिंद्रा, एचडीएफसी बैंक लाभ में रहे। टेक महिंद्रा, आईटीसी, पावर ग्रिड, एशियन पेंट्स और टाइटन के शेयर को नुकसान हुआ। आम चुनाव के परिणाम चार जून को घोषित किए जाएंगे।

वैश्विक बाजार में मिला-जुला रुख 

एशियाई बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी तथा हांगकांग का हैंगसेंग फायदे में रहे, जबकि जापान का निक्की और चीन का शंघाई कम्पोजिट नुकसान में रहे। अमेरिकी बाजार सोमवार को ‘मेमोरियल डे’ के मौके पर बंद थे। वैश्विक तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.23 प्रतिशत की बढ़त के साथ 83.29 अमेरिकी डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा था। शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में सोमवार को बिकवाल रहे और शुद्ध रूप से 541.22 करोड़ रुपये की कीमत के शेयर बेचे। 

उतार-चढ़ाव जारी रहने की संभावना

जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘हाल में तेजी के बाद भारतीय बाजार में हल्की गिरावट देखने को मिली है। अनिश्चितता को लेकर उतार-चढ़ाव जारी रह सकता है, इसका कारण चुनाव परिणाम का समय करीब आ रहा है।’’ कुछ वाहनों, बैंक तथा आईटी शेयरों में तेजी से सेंसेक्स और निफ्टी सोमवार को कारोबार के दौरान रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचे थे। हालांकि, बाद में निवेशकों की मुनाफावसूली से दोनों मानक सूचकांक नुकसान में बंद हुए थे। विश्लेषकों के अनुसार, मझोली और छोटी कंपनियों के शेयरों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा जबकि औषधि और दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों के शेयरों में तेजी रही। एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का नक्की, चीन का शंघाई कम्पोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग नुकसान में रहे। यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में मिला-जुला रुख रहा। अमेरिकी बाजार में सोमवार को अवकाश था। 

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Market News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement