Wednesday, February 21, 2024
Advertisement

इजरायल ने गाजा पर बरपाया सबसे बड़ा कहर, बीते 24 घंटे में हमास आतंकियों के 450 ठिकाने तबाह

इजरायल ने शुक्रवार को गाजा पर अब तक का सबसे भीषण और बड़ा हमला बोला है। आइडीएफ ने बीते 24 घंटों में गाजा के 450 ठिकानों को तबाह कर दिया है। हमास के अनुसार इजरायल के इस हमले में 350 से ज्यादा फिलिस्तीनियों की मौत हुई है। नागिरकों की इसस मौत पर अमेरिका ने भी गहरी चिंता जाहिर की है।

Dharmendra Kumar Mishra Written By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: December 08, 2023 20:14 IST
गाजा पर बमबारी करती इजरायली सेना।- India TV Hindi
Image Source : AP गाजा पर बमबारी करती इजरायली सेना।

इजरायल ने गाजा पर अब तक का सबसे बड़ा हमला किया है। इजरायली डिफेंस फोर्सेज (आइडीएफ) का दावा है कि उसने गाजा में बीते 24 घंटे में हमास आतंकियों के 450 ठिकानों को तबाह कर दिया है। गाजा में इतने बड़े हमले के बाद अमेरिका भी चिंतित हो उठा है। क्योंकि हर हमले में भारी संख्या में फिलिस्तीनी नागरिकों की भी मौत हो रही है। इजरायल के इस भीषण हमले के बाद एक बार फिर तेजी से युद्ध भड़क गया है। हमास ने बताया कि इजरायली सेना के साथ उत्तर में गाजा शहर के शेजाइया जिले में और साथ ही दक्षिण में खान यूनिस में सबसे तीव्र झड़पें हो रही थीं। इस दौरान इजरायली सैनिक बुधवार को एन्क्लेव के दूसरे सबसे बड़े शहर के केंद्र में पहुंच गए थे।

इज़रायल ने गाजा पट्टी पर अपने हमले को और अधिक तेज कर दिया है। इजरायली सेना ने फिलिस्तीनी के दूरस्थ क्षेत्र पर हमला किया और युद्ध के इस नए और विस्तारित चरण में सैकड़ों लोगों को मार डाला। इजरायल के इस हमले के बाद अमेरिका भी चिंतित हो गया है। वाशिंगटन ने कहा कि इजरायल का यह हमला फिलिस्तीनी नागरिकों की रक्षा के इजरायली वादे का खंडन करता है। इज़रायली सेना ने शुक्रवार को कहा कि उसने पिछले 24 घंटों में गाजा में जमीन, समुद्र और हवा से 450 से अधिक लक्ष्यों पर हमला किया है - जो पिछले सप्ताह संघर्ष विराम टूटने के बाद से सबसे अधिक है। यह तब से आम तौर पर रिपोर्ट किए गए दैनिक आंकड़ों से लगभग दोगुना है।

गाजा के अधिकांश लोग विस्थापित, 350 लोग मारे गए

इजरायल-हमास में चल रहे भीषण युद्ध के चलते गाजा के अधिकांश लोग अब विस्थापित हो गए हैं और किसी भी सहायता तक पहुंचने में असमर्थ हैं। अस्पतालों में भीड़ बढ़ गई है और भोजन खत्म हो गया है। विस्थापितों की मदद कर रही संयुक्त राष्ट्र की मुख्य एजेंसी ने कहा कि समाज "पूरी तरह से पतन के कगार पर है"। निवासियों और इज़रायली सेना दोनों ने दोनों उत्तरी क्षेत्रों में तीव्र लड़ाई की सूचना दी, जहां इज़रायल ने पहले कहा था कि उसके सैनिकों ने पिछले महीने अपने कार्यों को काफी हद तक पूरा कर लिया था, साथ ही दक्षिण में भी जहां उन्होंने इस सप्ताह एक नया हमला शुरू किया। गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को इस हमले में 350 लोगों के मारे जाने की सूचना दी है। इसके साथ ही गाजा में गत दो महीने के इजरायली अभियान में मरने वालों की संख्या 17,170 से अधिक हो गई, जबकि हजारों लोग लापता हैं और माना जाता है कि वे मलबे में दबे हुए हैं।

खान यूनिस और उत्तरी गाजा के शहरों में बरप रहा कहर

इजरायली सेना के भीषण हमले से खान यूनिस और उत्तरी गाजा तबाह हो रहा है। शुक्रवार की सुबह दक्षिण में खान यूनिस, केंद्र में नुसीरात शिविर और उत्तर में गाजा शहर में अधिक हमले की सूचना मिली। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने गुरुवार को वाशिंगटन में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, "जैसा कि हम दक्षिण में इस अभियान में लगभग एक सप्ताह से यहां खड़े हैं... यह जरूरी है कि इजरायल नागरिक सुरक्षा पर प्रीमियम लगाए। अमेरिका ने कहा कि फिलिस्तीनी नागरिकों की रक्षा करने के इजरायल के वाद और ज़मीन पर हम जो वास्तविक परिणाम के बीच एक अंतर बना हुआ है।"

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement