Tuesday, May 21, 2024
Advertisement

यूक्रेन युद्ध में श्रीलंका के 16 पूर्व सैनिकों की मौत, हताश जेलेंस्की को अमेरिका देगा 2 अरब डॉलर के अतिरिक्त हथियार

अमेरिका इजरायल के बाद अब यूक्रेन पर भी रहम दिल दिखा रहा है। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिकंन ने अपने कीव दौरे के दौरान यूक्रेन को 2 अरब अमेरिकी डॉलर से अधिक के हथियार यूक्रेन को देने के सौदे को मंजूरी दी है। वहीं यूक्रेन युद्ध में अपने 16 पूर्व सैनिकों के मारे जाने से श्रीलंका परेशान है।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: May 15, 2024 19:02 IST
यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की और अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन।- India TV Hindi
Image Source : PTI यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की और अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन।

कीवः अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने यूक्रेन के लिए दो अरब अमेरिकी डॉलर के हथियार सौदे की घोषणा की। ब्लिंकन यूक्रेन को अमेरिकी मदद को लेकर आश्वस्त करने के लिए कीव में हैं और इस दौरान बुधवार को यह घोषणा की गई। यूक्रेन रूस के नये हमलों का मुकाबला करने की तैयारी कर रहा है। ब्लिंकन ने कीव की दो दिवसीय यात्रा के दौरान बुधवार को अपने अंतिम कार्यक्रम में कहा कि बाइडन प्रशासन ने यूक्रेन के लिए दो अरब अमेरिकी डॉलर, मध्यम और दीर्घकालिक विदेशी सैन्य वित्तपोषण पैकेज को मंजूरी दे दी है।

अधिकारियों ने कहा कि ज्यादातर पैसा लगभग 1.6 अरब अमेरिकी डॉलर, कांग्रेस द्वारा पारित और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा हस्ताक्षरित पूरक विदेशी सहायता कानून में यूक्रेन को आवंटित 60 अरब अमेरिकी डॉलर की धनराशि के तहत मिला है। इस यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की हताशा काफी हद तक दूर हो जाएगी। 

 यूक्रेन-रूस युद्ध में  मारे गए श्रीलंका के 16 पूर्व सैनिक

इधर यूक्रेन और रूस के बीच जारी युद्ध में अबतक तक श्रीलंका के कम से कम 16 पूर्व सैनिक मारे गए हैं। द्वीपीय देश के रक्षा मंत्रालय ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि विदेशी रोजगार एजेंसियों द्वारा विदेश में अच्छी नौकरी दिलाने के दिए गए छलावे में आकर श्रीलंका के कई पूर्व सैनिक रूस और यूक्रेन की सेना में शामिल हो गए हैं। रक्षा राज्यमंत्री प्रेमिथा बंद्रा तेन्नाकून ने बताया कि रूस-यूक्रेन युद्ध में श्रीलंका के 16 पूर्व सैनिक मारे गए हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘यह प्रमाणिक सूचना है जो हमें मिली है।’’ तेन्नाकून ने बताया कि इस समय रूस और यूक्रेन में मौजूद श्रीलंकाई नागरिकों को वापस लाने की योजना बनाई जा रही है। तेन्नाकून ने बताया, ‘‘ अबतक मिली जानकारी के मुताबिक ऐसे सैनिकों की संख्या 288 है। उनके परिजनों से शिकायत मिलने के बाद सरकार उनकी वापसी के लिए कदम उठाएगी। (एपी) 

यह भी पढ़ें

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। US News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement