Sunday, June 16, 2024
Advertisement

दिल्ली में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी, तापमान 47 डिग्री के पार, अभी नहीं मिलने वाली है राहत

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गर्मी चरम पर है, रविवार को नजफगढ़ का तापमान देश में सबसे ज्यादा रहा। मौसम विभाग ने कहा है कि अगले सप्ताह तक गर्मी से राहत नहीं मिलने वाली है।

Edited By: Kajal Kumari @lallkajal
Updated on: May 19, 2024 23:55 IST
delhi heatwave- India TV Hindi
Image Source : PTI दिल्ली में हीटवेव से राहत नहीं

दिल्ली में भीषण गर्मी का प्रकोप जारी है। राष्ट्रीय राजधानी रविवार को भी भीषण गर्मी से तपती रही और अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया, जो इस मौसम का अब तक का सबसे अधिक तापमान है। दिल्ली का नजफगढ़ क्षेत्र राष्ट्रीय राजधानी और देश में सबसे गर्म क्षेत्र रिकॉर्ड किया गया, जहां रविवार को अधिकतम तापमान 47.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। मौसम विभाग ने कहा है कि एक सप्ताह तक गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है क्योंकि राष्ट्रीय राजधानी में राजस्थान से गर्म हवाएं आ रही हैं।

दिल्ली के मुख्य मौसम केंद्र सफदरजंग वेधशाला में रविवार को अधिकतम तापमान 44.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य सीमा से चार डिग्री अधिक है, जबकि न्यूनतम तापमान 28.2 डिग्री सेल्सियस था, जो सामान्य सीमा से दो डिग्री अधिक है। दिल्ली के अधिकांश क्षेत्रों में अधिकतम तापमान 45-47 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया, जो सामान्य सीमा से चार से छह डिग्री अधिक है।  

दिल्ली में लू को लेकर रेड अलर्ट जारी

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दिल्ली के कई हिस्सों में लू चलने की भविष्यवाणी की है और रेड अलर्ट जारी किया है। विभाग ने आंशिक रूप से बादल छाए रहने और 25 से 35 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने का भी अनुमान लगाया है। मौसम अधिकारियों ने लोगों को सतर्क रहने की चेतावनी दी और उनसे शिशुओं, बुजुर्गों और पुरानी बीमारियों वाले लोगों सहित "कमज़ोर लोगों" की अत्यधिक देखभाल सुनिश्चित करने का आग्रह किया।

हीटस्ट्रोक से बचने की सलाह जारी

विभाग ने कहा, "सभी उम्र के लोगों में गर्मी की बीमारी और हीट स्ट्रोक से प्रभावित होने की बहुत अधिक संभावना है, खासकर शिशुओं, बुजुर्गों और पुरानी बीमारियों वाले कमजोर व्यक्तियों के स्वास्थ्य के लिए चिंता का विषय है। गर्मी के संपर्क में आने से बचें और डीहाइड्रेशन से बचें।"

मौसम कार्यालय ने हाइड्रेटेड रहने के लिए पर्याप्त पानी पीने और ओआरएस या घर पर बने पेय जैसे लस्सी, तोरानी (चावल का पानी), नींबू पानी और छाछ का उपयोग करने का सुझाव दिया है। आईएमडी के अनुसार, हीटवेव को तब परिभाषित किया जाता है जब किसी मौसम केंद्र पर अधिकतम तापमान कम से कम 40 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है, जो सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री या उससे अधिक हो जाए, अधिकतम तापमान सामान्य से 6.5 डिग्री अधिक होने पर भीषण लू की घोषणा की जाती है।

राजस्थान, गुजरात से भी ज्यादा गर्म दिल्ली

आईएमडी के अनुसार, राजस्थान के बीकानेर में रविवार का तापमान 44.6 डिग्री सेल्सियस, बाड़मेर का तापमान 45.8 डिग्री सेल्सियस, जोधपुर का तापमान 45.6 डिग्री सेल्सियस, कोटा का तापमान 46.2 डिग्री सेल्सियस और श्रीगंगानगर का तापमान 46.7 डिग्री सेल्सियस रहा लेकिन दिल्ली का तापमान इससे भी ज्यादा था। गुजरात का अधिकतम तापमान 33-45 डिग्री सेल्सियस के बीच था। सुरेंद्रनगर राज्य का सबसे गर्म शहर रहा, जहां अधिकतम तापमान 45.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। उत्तर प्रदेश में आगरा में सबसे अधिक तापमान 47.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

इन राज्यों के लिए जारी किया गया रेड अलर्ट

आईएमडी ने हीटवेव की स्थिति के कारण दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और पश्चिमी राजस्थान के लिए रेड अलर्ट और पूर्वी राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया था। मौसम विभाग ने कहा कि 22 मई तक राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कई हिस्सों में और 19 मई को पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में लू से लेकर गंभीर लू चलने की संभावना है।

22 मई तक पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात, मध्य प्रदेश और ओडिशा के कुछ हिस्सों में हीटवेव की स्थिति की भविष्यवाणी की गई है। 20 मई तक बिहार, गंगीय पश्चिम बंगाल और झारखंड में भी इसी तरह की स्थिति बने रहने की उम्मीद है।

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें दिल्ली सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement