1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. चक्रवाती तूफान 'निवार' से तमिलनाडु में 3 लोगों की मौत, 1000 से ज्यादा पेड़ उखड़े

चक्रवाती तूफान 'निवार' से तमिलनाडु में 3 लोगों की मौत, 1000 से ज्यादा पेड़ उखड़े

भीषण चक्रवाती तूफान 'निवार' गुरुवार को पुडुचेरी के पास समुद्र तट पर पहुंच गया। वहीं, इस वजह से हुयी भारी बारिश के कारण तमिलनाडु में तीन लोगों की मौत हो गयी और एक हजार से अधिक पेड़ उखड़ गए तथा कई निचले इलाकों में पानी भर गया।

Bhasha Bhasha
Updated on: November 26, 2020 22:52 IST
चक्रवाती तूफान 'निवार' से तमिलनाडु में 3 लोगों की मौत, 1000 से ज्यादा पेड़ उखड़े- India TV Hindi
Image Source : PTI चक्रवाती तूफान 'निवार' से तमिलनाडु में 3 लोगों की मौत, 1000 से ज्यादा पेड़ उखड़े

चेन्नई: भीषण चक्रवाती तूफान 'निवार' गुरुवार को पुडुचेरी के पास समुद्र तट पर पहुंच गया। वहीं, इस वजह से हुयी भारी बारिश के कारण तमिलनाडु में तीन लोगों की मौत हो गयी और एक हजार से अधिक पेड़ उखड़ गए तथा कई निचले इलाकों में पानी भर गया। इसके बाद निवार कमजोर होकर चक्रवाती तूफान तब्दील हो गया तथा उसके बाद यह और कमजोर होकर कम दबाव के क्षेत्र में तब्दील हुआ। 

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अधिकारियों के अनुसार, यह दोपहर में 1430 बजे तिरुपति से पश्चिम दक्षिण-पश्चिम में केंद्रित था। IMD के अनुसार, अगले छह घंटों में यह कम दबाव के क्षेत्र में बदल जाएगा। इस तूफान के कारण तमिलनाडु और पुडुचेरी में भारी बारिश हुयी जिससे बड़ी संख्या में पेड़ उखड़ गए वहीं निचले इलाकों में पानी भर गया। 

केन्द्रीय मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, ‘‘हम तमिलनाडु और पुडुचेरी में चक्रवात निवार की स्थिति पर करीबी नजर बनाए हुए हैं। तमिलनाडु और पुडुचेरी के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की और उन्हें केन्द्र की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। एनडीआरएफ के दल लोगों की मदद के लिए पहले ही मौके पर मौजूद हैं।’’ 

अधिकारियों ने बताया कि तमिलनाडु में तीन लोगों की मौत हो गयी और 1,086 पेड़ उखड़ गए। उन सभी पेड़ों को हटा दिया गया है। कई पेड़ बिजली के तारों पर और वाहनों पर भी गिर गए। चेन्नई में, कई इलाकों में नागरिकों ने इंटरनेट सेवाओं के बाधित होने की शिकायत की। 

पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने कुडलूर का दौरा किया और वहां नुकसान का जायजा लिया। पानी भरे इलाकों में बचाव कर्मियों ने नावों का उपयोग कर लोगों तक खाना पहुंचाया। वहीं, कुछ लोग रिश्तेदारों के यहां चले गए। शहरी इलाकों में नगर निकाय के कार्यकर्ताओं ने जमा हो गए पानी को बाहर निकाला। 

अधिकारियों ने बताया कि हाल के वर्षों में बुनियादी ढांचे को मजबूत बनाने से पानी को बाहर निकालने में काफी मदद मिली। हवाई अड्डे, मेट्रोरेल और बसों का संचालन बृहस्पतिवार को फिर से शुरू हो गया। कई जिलों में 24 नवंबर से ही स्थगित राज्य परिवहन बस सेवाएं दोपहर में फिर शुरू हो गयीं। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment