1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Coronavirus: इन दो राज्यों के बीच 20 मार्च से बसों की आवाजाही पर लगी अस्थायी रोक

Coronavirus: इन दो राज्यों के बीच 20 मार्च से बसों की आवाजाही पर लगी अस्थायी रोक

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के बीच अंतरराज्यीय बसों की आवाजाही पर अस्थायी रूप से 20 मार्च से 31 मार्च तक के लिए रोक लगाने का फैसला लिया गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: March 18, 2021 23:22 IST
Coronavirus: इन दो राज्यों के बीच 20 मार्च से बसों की आवाजाही पर लगी अस्थायी रोक- India TV Hindi
Image Source : SOCIAL MEDIA Coronavirus: इन दो राज्यों के बीच 20 मार्च से बसों की आवाजाही पर लगी अस्थायी रोक

नई दिल्ली। देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के बीच अंतरराज्यीय बसों की आवाजाही पर अस्थायी रूप से 20 मार्च से 31 मार्च तक के लिए रोक लगाने का फैसला लिया गया है। मध्य प्रदेश के राज्य परिवहन प्राधिकरण के अनुसार, "कोरोना के बढ़ते मामलों देखते हुए महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के बीच अंतरराज्यीय बसों की आवाजाही को अस्थायी रूप से 20 मार्च से 31 मार्च तक के लिए रोक दिया जाएगा।" 

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 25,833 नए मामले सामने आए

महाराष्ट्र में गुरुवार (18 मार्च) को कोरोना वायरस संक्रमण के 25,833 नये मामले सामने आये जो पिछले साल मार्च से रोजाना के सबसे अधिक मामले हैं। इन नये मरीजों को मिलाकर राज्य में संक्रमण के मामलों की कुल संख्या बढ़कर 23,96,340 हो गई है। गुरुवार को 58 मरीजों की मौत हो जाने के बाद राज्य में अबतक 53,138 लोग इस वायरस के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं। राज्य में कोविड-19 की दूसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है। केंद्रीय दल ने अपनी रिपोर्ट में ऐसा कहा था। 

मुंबई में एक दिन में सर्वाधिक 2,788 मामले सामने आए

वहीं, मुंबई में भी एक दिन में सर्वाधिक 2,788 मामले सामने आए। अधिकारी ने बताया कि दिन के दौरान 12,764 मरीजों को अस्पतालों से छुट्टी दी गई जिससे स्वस्थ हुए लोगों की कुल संख्या 21,75,565 हो गई है। राज्य में इस समय 1,66,353 मरीज उपचाराधीन हैं। नागपुर शहर में दूसरे दिन कोविड-19 के सबसे अधिक 2,926 मामले सामने आये। इसके बाद मुंबई शहर में 2,877और पुणे में 2,791 मामले दर्ज किये गये। मुम्बई में अबतक के सबसे अधिक नये मामले सामने आये हैं। आठ मरीजों की मौत हो जाने के साथ ही अबतक यहां 11,555 लोग इस संक्रमण से जान गंवा चुके हैं। 

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिए निर्देश

इस बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने संभागीय आयुक्तों से कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए घोषित पाबंदियों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है। डिजिटल बैठक में ठाकरे ने कहा कि राज्य में रोजाना मामले बड़ी तेजी से बढ़े हैं लेकिन टीकाकरण अभियान ने भी रफ्तार पकड़ी है। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले साल इस महामारी के आने के बाद बृहस्पतिवार को सर्वाधिक मामले के मद्देनजर जिला प्रशासन संक्रमितों के संपर्क में आने व्यक्तियों की पहचान की गति बढ़ाए, पाबंदियां एवं सुरक्षा नियम लागू करें।’’ ठाकरे ने कहा कि रोजाना तीन लाख टीके लगाना लक्ष्य होना चाहिए। स्वास्थ्य सचिव प्रदीप व्यास ने कहा कि यदि रोजाना मामलों में वृद्धि जारी रही जो अप्रैल के पहले सप्ताह में राज्य में तीन लाख मरीज उपचाराधीन होंगे।

कोरोना को लेकर फिर बढ़ रही चिंताएं 

वहीं मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस की बात करें तो बीते 24 घंटों में कुल 917 नए कोरोना मामले सामने आए हैं। इसके अलावा 500 मरीज इस बीमारी से ठीक हुए हैं और 1 मरीज की मौत हुई है। इसके साथ ही राज्य में कोरोना के कुल एक्टिव मामलों की संख्या 6,032 पहुंच गई है। देश के कई हिस्सों में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इस बीच कोरोना को लेकर चिंताएं बढ़ती ही जा रही हैं। कई विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि यह कोरोना की दूसरी लहर भी साबित हो सकती है। कोरोना के बढ़ते मामलों का असर देश के कई राज्यों में देखने को मिल रहे हैं। कहीं नाइट कर्फ्यू तो, कहीं तरह-तरह पाबंदिया लगाई जा रही हैं। 

ये भी पढ़ें: 

'फटी जींस' बयान पर प्रियंका गांधी का तंज, मोदी-भागवत-गडकरी की फोटो शेयर करते हुए कही ये बात

राम मंदिर में लगाया जाएगा श्रीलंका के सीता एलिया का पत्थर, जानिए क्यों है खास

इन खास रूटों पर चलने वाली Special Trains के परिचालन अवधि में किया गया विस्तार, देखिए पूरी लिस्ट

"मैं भी कोरोना वैक्सीन लगवाऊंगा", किसान नेता राकेश टिकैत का बयान

IMD Alert: होली से पहले मौसम मारेगा पलटी? बारिश के साथ ओलावृष्टि की संभावना

Click Mania
uttar pradesh chunav manch 2021