1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. NCC कैडेट्स को 'अग्निपथ' स्कीम में भर्ती के दौरान दिए जायेंगे बोनस अंक, जानिए कौन होगा पात्र

Agnipath Sceme: NCC कैडेट्स को 'अग्निपथ' स्कीम में भर्ती के दौरान दिए जायेंगे बोनस अंक, जानिए कौन होगा पात्र

Agnipath Sceme: केंद्र सरकार ने देश की तीनों सेनाओं में भर्ती करने के लिए 'अग्निपथ' स्कीम लाई है। इसी स्कीम के तहत अब तीनों सेनाओं में भर्तियां की जाएंगी। इस स्कीम के अनुसार चार साल तक सेवाएं देने के बाद 75% अग्निवीरों को रिटायर कर दिया जाएगा और बकाया 25% अग्निवीरों को आगे 15 सालों तक नियमित कर दिया जाएगा।

Sudhanshu Gaur Edited by: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Published on: June 24, 2022 15:00 IST
NCC- India TV Hindi
Image Source : NATIONAL CADET CORPS TWITTER NCC

Highlights

  • वर्ष 1948 में की गई थी NCC की स्थापना
  • स्कूल-कॉलेजों में एनसीसी को किया जा सकता है अनिवार्य
  • अग्निपथ योजना में भर्ती होने वाले एनसीसी कैडेट्स को बोनस अंक दिए जाएंगे

Agnipath Sceme: सेना में नई भर्ती योजना 'अग्निपथ' को लेकर एक नई घोषणा की गई है। राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल गुरुबीरपाल सिंह ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय सेना की अग्निपथ योजना में भर्ती होने वाले एनसीसी कैडेट्स को बोनस अंक दिए जाएंगे। इसके अलावा, उन्होंने कहा कि एनसीसी के अधिकारी कैडेट्स के बीच जाकर भारतीय सेना की इस योजना को समझाएंगे, जिससे ज्यादा से ज्यादा युवा भारतीय सेना के साथ जुड़ सकें। 

सर्टिफिकेट धारकों को भर्ती में मिलेंगे बोनस अंक 

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एनसीसी महिला अधिकारियों की दीक्षांत परेड में हिस्सा लेने आए लेफ्टीनेंट जनरल सिंह ने बताया कि, ‘‘एनसीसी में महिला कैडेट्स 1950 से ही शामिल हैं और इन्होंने शानदार काम किया है। हाल में भारतीय सेना ने अग्निपथ योजना के जरिए सेना भर्ती प्रक्रिया शुरू की है। एनसीसी कैडेट्स जो ए, बी एवं सी प्रमाणपत्र धारक हैं, उन्हें अग्निवीर की भर्ती में बोनस अंक मिलेंगे।’’ उन्होंने कहा कि इस समय देश के हर जिले में एनसीसी है और ज्यादातर युवा ग्रामीण क्षेत्रों से एनसीसी में आते हैं। ऐसे युवा अग्निवीर बनकर भारतीय सेना में सेवा तो करेंगे ही, साथ में जब चार वर्ष बाद समाज में वापस जाएंगे, तो बेहतर नागरिक बन सकेंगे और शेष भारतीय सेना में काम करेंगे। यह पूछे जाने पर कि क्या स्कूल-कॉलेजों में एनसीसी को अनिवार्य किया जा रहा है, इस पर उन्होंने कहा, ‘‘एनसीसी में और क्या सुधार हो सकते हैं या इसकी अनिवार्यता के बारे में उच्च स्तरीय अधिकार समिति बनाई गई है, जिसकी रिपोर्ट अभी आनी है।"

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने देश की तीनों सेनाओं में भर्ती करने के लिए 'अग्निपथ' स्कीम लाई है। इसी स्कीम के तहत अब तीनों सेनाओं में भर्तियां की जाएंगी। इस स्कीम के अनुसार चार साल तक सेवाएं देने के बाद 75% अग्निवीरों को रिटायर कर दिया जाएगा और बकाया 25% अग्निवीरों को आगे 15 सालों तक नियमित कर दिया जाएगा।