दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी को थमाया एक और नोटिस और कहा-जल्द जवाब दीजिएगा, गरमाई सियासत

स्पेशल सीपी (एल एंड ओ) डॉ सागर प्रीत हुड्डा ने बताया कि पुलिस ने आज तीसरी बार राहुल गांधी के आवास का दौरा किया। अभी तक राहुल गांधी की ओर से हमें कोई जानकारी नहीं दी गई है। हमने उनसे जल्द से जल्द जानकारी उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

Kajal Kumari Edited By: Kajal Kumari
Updated on: March 19, 2023 17:00 IST
delhi police notice to rahul gandhi- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO दिल्ली पुलिस ने राहुल गांधी को थमाया एक और नोटिस

दिल्ली: Delhi police to rahul gandhi, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी का बयान लेने के लिए दिल्ली पुलिस की टीम रविवार (19 मार्च) को उनके घर पहुंची। दरअसल,  श्रीनगर में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी के 'यौन उत्पीड़न' पीड़ितों पर दिए बयान के सिलसिले में पुलिस उनसे पीड़िताओं के बारे में जानकारी लेना चाहती थी। उनसे इस संबंध में पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी सागर प्रीत हुड्डा उनके घर पहुंचे। दो घंटे के बाद राहुल गांधी ने उनसे मुलाकात की लेकिन अपना बयान दर्ज नहीं करवाया।

पुलिस ने किया आग्रह-जल्द जानकारी दे दें राहुल

इसके बाद पुलिस उन्हें एक और नोटिस थमाकर उनके घर से वापस लौट गई है। बता दें कि इससे पहले 16 मार्च को पुलिस ने राहुल को पहला नोटिस भेजा था। स्पेशल सीपी (लॉ एंड ऑर्डर) डॉ. सागर प्रीत हुड्डा ने कहा कि उन्होंने अपनी टीम के साथ आज कांग्रेस सांसद राहुल गांधी से उनके दिल्ली स्थित आवास पर मुलाकात की और उनसे उन 'यौन उत्पीड़न' पीड़ितों के बारे में जानकारी देने का आग्रह किया, जिनका उन्होंने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान अपने भाषण में जिक्र किया था। हुड्डा ने कहा कि पुलिस ने आज तीसरी बार राहुल गांधी के आवास का दौरा किया। अभी तक राहुल गांधी की ओर से हमें कोई जानकारी नहीं दी गई है। हमने उनसे जल्द से जल्द जानकारी उपलब्ध कराने का आग्रह किया है।

गरमाई सियासत, संबित पात्रा-हिमंत बिस्वा सरमा ने कसा तंज

इस मामले को लेकर अब सियासत गरमा गई है। बीजेपी नेता संबित पात्रा ने कहा कि एक महिला के साथ रेप हुआ है और अगर राहुल गांधी ने सांसद के तौर पर देश के सामने यह बात कही है तो पुलिस को यह जानने का अधिकार है। आज पुलिस नोटिस देने उनके घर गई और उनसे उन महिलाओं के बारे में बताने को कहा। अब कांग्रेस कह रही है कि लोकतंत्र खतरे में है।

इसपर, असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि अगर राहुल गांधी पीड़ित महिलाओं (कथित यौन उत्पीड़न की) के नाम नहीं देंगे तो उन्हें न्याय कैसे मिलेगा? उन्होंने तो यह भी कहा था कि वे उग्रवादियों से मिले हैं, तो क्या उन्हें पुलिस को सूचित नहीं करना चाहिए? राहुल गांधी हिंडनबर्ग रिपोर्ट के बारे में क्यों बोल रहे हैं? इस बारे में SC को फैसला करने दें। विदेशी धरती पर देश को बदनाम करने के लिए उन्हें संसद में माफी मांगनी चाहिए।

 

ये भी पढ़ें:

जल्द गिरफ्तार होगा फरार खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल सिंह, पंजाब पुलिस ने दी ये बड़ी जानकारी, जानें

'भारत जोड़ो यात्रा को खत्म हुए 45 दिन हो गए, दिल्ली पुलिस राहुल गांधी से सवाल पूछने अब क्यों आई?' - कांग्रेस

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन