Saturday, April 20, 2024
Advertisement

लोकसभा चुनाव के दौरान हिंसा करना चाहते हैं नक्सली, कई क्षेत्र के युवाओं को किया जा रहा ब्रेनवाश; आईजी ने किया बड़ा खुलासा

महाराष्ट्र के मुंबई, नासिक, थाणे, गोंदिया, भंडारा, पुणे के शहरी क्षेत्र में युवाओं का ब्रेनवाश किया जा रहा है। महाराष्ट्र नक्सल ऑपरेशन के आईजी संदीप पाटिल ने बड़ा खुलासा किया है।

Reported By : Yogendra Tiwari Edited By : Shailendra Tiwari Published on: February 22, 2024 18:21 IST
Naxal operation IG Sandeep Patil- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV नक्सल ऑपरेशन के आईजी संदीप पाटिल

नागपुर: जैसे जैसे लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहा है, नक्सलवादियों के टारगेट पर कई शहरी भाग तेजी से आ रहे हैं। महाराष्ट्र के नागपुर, पुणे, नासिक, मुंबई,थाने,नासिक और गोंदिया जैसे शहरों में नक्सली घुसपैठ होने के प्रमाण एंटी नक्सल की टीम को मिला है। माओवादियों से जुड़े अर्बन नक्सली स्लम इलाकों में युवाओं का ब्रेन वास कर उन्हें शासन, प्रशासन के खिलाफ लडाई लड़ने के लिए तैयार कर रहे हैं। पिछले दिनों पुलिस ने ऑपरेशन के दौरान नक्सलियों के गोपनीय दस्तावेज जब्त किए थे। इससे साफ पता चला है कि नक्सली शहरी भागों में विश्वास तौर पर स्लम इलाकों में सक्रिय हुए हैं। इस बात का खुलासा महाराष्ट्र नक्सल ऑपरेशन के आईजी संदीप पाटिल ने किया है। 

डेढ़ महीने पहले बैठक

संदीप पाटिल ने कहा कि कुछ ऐसे दस्तावेज मिले जिसमें नक्सलवादियों ने जो रणनीति तय की है उसके अनुसार प्राइमरी एनिमी से लड़ने के लिए सेकेंडरी एनिमी को एलायंस करना पड़ेगा। प्राइमरी एनिमी को आने वाले दो महीने में हारने के लिए सिविल राइट ग्रुप, दलित ग्रुप, स्टूडेंट ग्रुप, माइनॉरिटी ग्रुप को सरकार के खिलाफ इन सबको तैयार किया जाएगा। लोकसभा चुनाव में सरकार को कैसे नुकसान हो जाए इस तरीके से रणनीति तय की गई है। पाटिल ने समझाते हुए बताया कि सत्ता में जो है वह प्राइमरी एनिमी है और अपोजिशन में जो है वह सेकेंडरी एनिमी है। इस संबंध में वे मुंबई नासिक, थाने, नई मुंबई इन तमाम जगहों पर डेढ़ महीने पहले बैठक भी कर चुके हैं।

स्लम इलाकों में सक्रिय

महाराष्ट्र नक्सल ऑपरेशन के आईजी संदीप पाटिल ने बताया कि नक्सली शहरी भागों में विशेष तौर पर स्लम इलाकों में सक्रिय हुए हैं। शहर की झोपड़िया में रहने वाले गरीब युवाओं को निशाना बनाया जा रहा है। ऐसे युवक जो किसी न किसी वजह से सरकार या सरकारी मशीनरी से नाराज हैं। उन्हें बताया जा रहा है कि सरकार उनके लिए कुछ नहीं कर रही है। आईजी पाटिल ने आगे बताया कि माओवादियों से जुड़े अर्बन नक्सली स्लम इलाकों में युवाओं का ब्रेन वास कर उन्हें शासन और प्रशासन के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए तैयार कर रहे हैं। यह वाकई में चिंताजनक बात है, नकारात्मक मानसिकता वाले कमजोर युवा जल्दी इस तरफ की गतिविधियों के लिए आकर्षित हो सकते हैं, जो सरकार के खिलाफ इन परिस्थितियों का फायदा उठाने का इरादा रखते हैं।

ये भी पढ़ें:

ठाणे में 4 साल की बच्ची से रेप मामले में दोषी को 20 साल की सजा, पड़ोसी ने बहला-फुसलाकर की थी दरिंदगी

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें महाराष्ट्र सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement