1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. जल्द ही चार्जिग स्टेशनों पर रियल टाइम डेटा प्रदान करेगा मोबाइल ऐप, जानिए कैसे होगा संभव

जल्द ही चार्जिग स्टेशनों पर रियल टाइम डेटा प्रदान करेगा मोबाइल ऐप, जानिए कैसे होगा संभव

यह सुनिश्चित करने के लिए कि इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करने वाले मोटर चालकों को निकटतम सक्रिय चार्जिग स्टेशनों पर रियल टाइम डेटा तक पहुंच मिल सके, इसे लेकर ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (BEE) एक मोबाइल ऐप के साथ-साथ एक वेब पोर्टल भी विकसित कर रहा है।

India TV Business Desk Edited By: India TV Business Desk
Updated on: September 25, 2022 16:59 IST
चार्जिग स्टेशनों पर...- India TV Hindi
Photo:IANS चार्जिग स्टेशनों पर रियल टाइम डेटा प्रदान करेगा App

Highlights

  • बीईई इन चार्जर्स को विकसित करेगी
  • बिजली मंत्रालय ने जारी किया था आदेश
  • स्कूटर और कार के लिए होगी चार्जिंग सुविधा

यह सुनिश्चित करने के लिए कि इलेक्ट्रिक वाहनों का उपयोग करने वाले मोटर चालकों को निकटतम सक्रिय चार्जिग स्टेशनों पर रियल टाइम डेटा तक पहुंच मिल सके, इसे लेकर ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (BEE) एक मोबाइल ऐप के साथ-साथ एक वेब पोर्टल भी विकसित कर रहा है। ऐप और वेब पोर्टल अपने मार्ग पर उपलब्ध निकटतम सक्रिय चार्जिग स्टेशनों के बारे में मोटर चालकों को वास्तविक समय की जानकारी प्रदान करेगा।

बिजली मंत्रालय ने जारी किया था आदेश

बीईई इन सॉफ्टवेयर्स को विकसित करने वाली केंद्रीय नोडल एजेंसी है। वह इस पर काम जल्द ही पूरा करेगी, ऐसी उम्मीद जताई जा रही है। बिजली मंत्रालय ने इस साल जनवरी में इन सॉफ्टवेयर्स को विकसित करने के लिए दिशानिर्देश जारी किए थे। चार्जिग इन्फ्रास्ट्रक्चर पर लाइव डेटा प्रदान करने वाले मोबाइल ऐप और वेब पोर्टल में गतिशीलता सेवाओं में सुधार करने में मदद मिलेगी।

बीईई इन चार्जर्स को विकसित करेगी

सरकार समर्पित स्थानों पर इलेक्ट्रिक पोल पर स्मार्ट मीटर स्थापित करने और राजमार्गो, शहरों और यहां तक कि गांवों में छोटे चार्जिग स्टेशन बनाने में भी काम कर रही है। इलेक्ट्रिक वाहन मालिकों को उनके वाहनों की बैटरी चार्ज करने के लिए स्मार्ट कार्ड दिए जाएंगे। बीईई इन चार्जर्स को विकसित करेगी, जिसमें दो-पहिया वाहनों और तीन-पहिया वाहनों जैसे हल्के इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिए चार्जर शामिल होंगे।

बीईई के अनुसार, इन चार्जर्स के पास इलेक्ट्रिक एनर्जी को मापने और पंजीकृत करने के लिए प्रावधान में निर्मित होगा और मोबाइल ऐप के माध्यम से उपयोगकर्ता प्रमाणीकरण पर इलेक्ट्रिक वाहनों के चार्ज करने के लिए एक प्रावधान होगा।  इस तरह के चार्जर्स को सार्वजनिक पार्किंग स्थानों में बिजली के खंभे पर रखा जाएगा।

इन राज्यों में मिलेगी चार्जिंग की सुविधा

इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर कारोबार से जुड़े स्टार्टअप ईवोल्ट इंडिया ने इसके लिएउ इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) के साथ करार किया है। इसके तहत ईवोल्ट इंडिया भारत में 75 से अधिक चार्जिंग स्टेशनों की स्थापना करेगी। ईवोल्ट इंडिया ने एक बयान में यह जानकारी दी। इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग की सुविधा इंडियन ऑयल के 75 पेट्रोल पंप पर मिलेगी। यह सुविधा सबसे पहले उत्तर भारत के तीन प्रमुख राज्यों पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में मिलेगी। सबसे पहले ये चार्जिंग स्टेशन इन्हीं तीन राज्यों में इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंपों पर स्थापित किए जाएंगे। 

स्कूटर और कार के लिए चार्जिंग सुविधा 

करार के तहत ईवोल्ट इन क्षेत्रों में मौजूद इंडियन ऑयल पेट्रोल पंपों पर दोपहिया और चार पहिया वाहनों के लिए 3.3 किलोवॉट और 7.4 किलोवॉट के एसी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करेगी। ईवोल्ट दिल्ली में तीन डिस्कॉम - बीएसईएस राजधानी पावर, बीएसईएस यमुना पावर और टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रीब्यूशन - के सूचीबद्ध वेंडर भी है।

Latest Business News