1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. उर्वरक की कीमतों में वृद्धि पर सरकार ने दिया बड़ा बयान, केंद्रीय मंत्री ने कही ये बात

उर्वरक की कीमतों में वृद्धि पर सरकार ने दिया बड़ा बयान, केंद्रीय मंत्री ने कही ये बात

मीडिया रपटों में आई खबर ने किसानों को परेशानी में डाल दिया । इसमें बताया गया था कि देश की सबसे बड़ी फर्टिलाइजर कंपनी इफको ने डीएपी की कीमतों में 58 फीसदी की वृद्धि कर दी है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: April 09, 2021 15:18 IST
Iffco- India TV Paisa
Photo:IFFCO

Iffco

खरीफ सीजन से पहले गुरुवार को कुछ मीडिया रपटों में आई खबर ने किसानों को परेशानी में डाल दिया था। इसमें बताया गया था कि देश की सबसे बड़ी फर्टिलाइजर कंपनी इफको ने डीएपी की कीमतों में 58 फीसदी की वृद्धि कर दी है। हालांकि कीमत वृद्धि न करने को लेकर इफको की ओर से सफाई भी आई थी। इस बीच सरकार की ओर से भी साफ कर दिया गया है कि कीमतों में वृद्धि नहीं की जाएगी। सरकार ने कंपनियों को कीमतें न बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। 

केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री मनसुख मांडविया ने कहा, “उर्वरक की कीमतों में वृद्धि और इसकी उपलब्धता के बारे में देश में स्थिति पर चर्चा के लिए भारत सरकार द्वारा एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई थी। किसानों के हितों को प्राथमिकता देते हुए, केंद्र सरकार ने उर्वरक कंपनियों को उर्वरकों की कीमतों में वृद्धि नहीं करने का निर्देश दिया है। उर्वरक कंपनियां उससे सहमत हैं।

कीमत बढ़ाने पर IFFCO का आया बयान

इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर्स को-ऑपरेटिव लिमिटेड (IFFCO) द्वारा उर्वरक की कीमत में 55 से 60 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी करने से हो रही किरकिरी के बाद इफको के चेयरमैन डा. यूएस अवस्‍थी ने सोशल मीडिया प्‍लेटफॉर्म ट्विटर के जरिये इस कदम का बचाव किया है। उन्‍होंने कहा है कि कीमतों को बढ़ाना एक अनिवार्य प्रक्रिया है और किसानों को पुराने कीमत पर ही उर्वरक उपलब्‍ध करवाई जाएगी। इफको ने डाई-अमोनियम फोस्‍फेट (डीएपी) उर्वरक और नाइट्रोजन, फॉसफोरस और पोटेशियम (एनपीके) उर्वरक के विभिन्‍न ग्रेड की कीमत बढ़ाई है। इफको के इस कदम के बाद दीपक फर्टिलाइजर्स, राष्‍ट्रीय केमिकल्‍स और नेशनल फर्टिलाइजर्स के शेयरों में 13 से 18 प्रतिशत का उछाल आया है।

डीएपी की कीमत को लेकर ये कहा

इफको ने डीएपी की कीमत को 1200 रुपये बढ़ाकर 1900 रुपये प्रति बैग कर दिया है। यह मूल्‍यवृद्धि एक अप्रैल, 2021 से प्रभावी हो गई है। इन खबरों पर स्‍पष्‍टीकरण देते हुए इफको के चेयरमैन डा. यूएस अवस्‍थी ने कहा कि इफको के पास 11.26 लाख टन उर्वरक का पुराना स्‍टॉक है और इसे पुरानी कीमत पर ही बेचा जाएगा। उन्‍होंने बताया कि डीएपी को 1200 रुपये, एनपीके 10:26:26  को 1175 रुपये, एनपीके 12:32:16  को 1185 रुपये और एनपीएस 20:20:0:13 को 925 रुपये प्रति बैग की पुरानी कीमत पर ही किसानों को उपलब्‍ध कराया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि नई कीमत के साथ आने वाले बैग की बिक्री किसी को नहीं की जाएगी। 

Write a comment
X