1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए अधिक बजट आवंटन स्वागत योग्य कदम: उद्योग

स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए अधिक बजट आवंटन स्वागत योग्य कदम: उद्योग

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को पेश आम बजट 2021-22 में स्वास्थ्य के लिए 2,23,846 करोड़ रुपये का बजटीय प्रावधान किया, जो मौजूदा वित्त वर्ष के 94,452 करोड़ रुपये की तुलना में 137 प्रतिशत अधिक है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: February 02, 2021 22:02 IST
फार्मा सेक्टर ने बजट...- India TV Paisa
Photo:PTI

फार्मा सेक्टर ने बजट का किया स्वागत

नई दिल्ली। दवा और स्वास्थ्य सेवा उद्योग ने आम बजट में क्षेत्र के लिए आवंटन बढ़ाने के सरकार के फैसले का स्वागत किया और कहा कि इस कदम से देश में चिकित्सा देखभाल की उपलब्धता बढ़ेगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को पेश आम बजट 2021-22 में स्वास्थ्य के लिए 2,23,846 करोड़ रुपये का बजटीय प्रावधान किया, जो मौजूदा वित्त वर्ष के 94,452 करोड़ रुपये की तुलना में 137 प्रतिशत अधिक है। सरकार ने अगले वित्त वर्ष के लिए कोविड-19 टीकों के लिए 35,000 करोड़ रुपये के प्रावधान रखा है साथ ही सालाना 50,000 से अधिक मौतों को रोकने के लिए देश भर में न्यूमोकोकल टीकों को लगाने की घोषणा भी की।

जायडस कैडिला के अध्यक्ष पंकज आर पटेल ने एक बयान में कहा कि स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के लिए बजटीय प्रावधान में 137 प्रतिशत की बढ़ोतरी एक स्वागत योग्य कदम है और टीकाकरण के लिए 35,000 करो़ड़ रुपये के आवंटन से कोविड-19 के प्रकोप को रोकने में मदद मिलेगी। इंडियन ड्रग मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन (आईडीएमए) के कार्यकारी निदेशक अशोक मदान ने कहा कि अर्थव्यवस्था के प्रमुख स्तंभ के रूप में स्वास्थ्य क्षेत्र को बढ़े हुए आवंटन के साथ इसका उचित हिस्सा दिया गया है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय अनुसंधान फाउंडेशन के लिए 50,000 करोड़ रुपये का आवंटन देश में अनुसंधान और विकास तथा नवाचार के लिए महत्वपूर्ण साबित होगा।

इंडियन फार्मास्युटिकल अलायंस (आईपीए) के महासचिव सुदर्शन जैन ने कहा कि स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र के लिए आवंटन में 137 प्रतिशत वृद्धि एक सकारात्मक कदम है। राजीवगांधी कैंसर इंस्टिट्यूट एंड रिसर्च सेंटर के सीईओ डीएस नेगी ने स्वास्थ्य क्षेत्र के बजट में वृद्धि को आबादी में सबके लिए स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लक्ष्य की दिशा में एक बहुत सकारात्मक कदम बताया। उन्होंने कहा कि सरकार ने बीमारियों की रोक थाम, चिकित्सा और लोगों के स्वस्थ जीवन तीनों पहलुओं पर ध्यान दिया है। नेटहेल्थ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष हर्ष महाजन ने कहा, ‘यह बजट बाजी पलटने वाला है। स्वास्थ्य सेवाएं सरकार की प्राथमिकताओं के केंद्र में आ गयी हैं।’ एसआरएल डाइग्नास्टिक्स के सीईओ अनंद ने भी कहा कि इस बजट से स्वास्थ्य सेवाओं केविस्तार को प्रोत्साहन मिलागा जो कि जरूरी है। एमएसडी के प्रबंध निदेशक रेहान ए खान ने कहा कि हेल्थ एवं वेलनेस केंद्रों की तथा हर जिले में समन्वित सार्वजनिक स्वाथ्य प्रयोगशालाओं की स्थापना से स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार होगा।

बुजुर्गों के कल्याण के लिए काम करने वाले संगठन नागरिक समाज समूह दादी दादा फाउंडेशन के निदेशक मुनिशंकर पांडे ने बजट में सरकार के ऐलानों पर कहा कि यह कदम देश में बुज़ुर्गों के स्वास्थ से जुड़ी समस्याओं से लड़ने में एक कारगर कदम साबित होगा। एशिया हेल्थकेयर होल्डिंग के कार्यकारी चेयरमैन विशाल बाली ने बजट में स्वास्थ्य क्षेत्र का आवंटन बढाने का स्वागत करते हुए कहा कि ‘स्वस्थ भारत भारत की आर्थिक वृद्धि की दृष्टि से केंद्रीय महत्व रखता है।

Write a comment
X