ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दिसंबर में 14 प्रतिशत बढ़ी नौकरियां, इंश्योरेंस और ऑटो सेक्टर में मिले मौके: रिपोर्ट

दिसंबर में 14 प्रतिशत बढ़ी नौकरियां, इंश्योरेंस और ऑटो सेक्टर में मिले मौके: रिपोर्ट

रिपोर्ट के अनुसार बीमा क्षेत्र में नौकरियों में सबसे ज्यादा बढ़त देखने को मिली। इसके अलावा ऑटो और उससे जुड़े सेक्टर, बैंक वित्तीय सेवाएं, औषधि/जैव-प्रौद्योगिकी और एफएमसीजी सेक्टर में ज्यादा जॉब मिले। वहीं सबसे ज्यादा मौके दिल्ली और पुणें में दर्ज किए गए।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: January 07, 2021 21:40 IST
दिसंबर में बढ़ी...- India TV Paisa
Photo:PIXABAY

दिसंबर में बढ़ी नौकरियां

नई दिल्ली। देश में दिसंबर 2020 में मिली नई नौकरियों में इससे पिछले महीने के मुकाबले 14 प्रतिशत की बढ़त दर्ज हुई। मुख्य रूप से बीमा, वाहन और सहयोगी क्षेत्रों में रोजगार के नए मौके मिले हैं। दिसबर 2020 के लिये ‘द नौकरी जॉब स्पीक इंडेक्स’ पिछले महीने के मुकाबले 14 प्रतिशत बढ़कर 1,972 रहा। नवंबर 2020 में यह 1,727 पर रहा था। हालांकि, सालाना आधार पर यानी दिसंबर 2019 के मुकाबले दिसंबर 2020 में नियुक्ति गतिविधियों में 10 प्रतिशत की गिरावट आयी। कोविड-19 महामारी के बाद के महीनों में यह सबसे कम गिरावट है।

नौकरी डॉट कॉम के मुख्य व्यवसाय अधिकारी पवन गोयल ने कहा, ‘‘वर्ष 2020 पूर्ण रूप से चुनोंतियों का साल रहा और सभी प्रमुख उद्योगों में नियुक्ति गतिविधियां प्रभावित रहीं। इस साल जून तिमाही में पिछले साल की इसी तिमाही के मुकाबले नियुक्ति में 56 प्रतिशत की गिरावट आयी। उसके बाद की तिमाही में सुधार देखने को मिला।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ होटल और रेस्तरां, यात्रा, वाहन और खुदरा क्षेत्र अभी पटरी पर आ रहे हैं और तिमाही आधार पर जो सुधार देखने को मिल रहा है, उससे 2021 में मजबूत रिकवरी की उम्मीद है।’’

नौकरी जॉब स्पीक मासिक सूचकांक है जो नौकरी डॉट कॉम की वेबसाइट पर डाली गयी नौकरियों के आधार पर मासिक आधार पर नियुक्ति गतिविधियों का पता लगाता है। रिपोर्ट के अनुसार बीमा क्षेत्र में दिसंबर महीने में इससे पूर्व माह के मुकाबले 45 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसका कारण लोग कोविड-19 संकट के दौरान अपने स्वास्थ्य और कारोबार को सुरक्षित करने की जरूरत महसूस कर रहे हैं। इसके अलावा वाहन और सहयोगी क्षेत्र में नियुक्ति गतिविधियों में तेजी देखी गयी। इसका कारण साल के अंत में उपभोक्ता मांग में वृद्धि है। बैंक वित्तीय सेवाएं, औषधि/जैव-प्रौद्योगिकी, दैनिक उपयोग का सामान बनाने वाली कंपनियों (एफएमसीजी) और आईटी-सॉफ्टवेयर में भी मासिक आधार पर दिसंबर में नियुक्ति गतिविधियों में तेजी देखी गयी।

रिपोर्ट के अनुसार महानगरों में पुणे और दिल्ली में नियुक्ति गतिविधियां तेज रही। इन शहरों में नियुक्ति गतिविधियां दिल्ली में 18 प्रतिशत से अधिक और पुणे में 16 प्रतिशत से अधिक बढ़ी। उसके बाद क्रमश: कोलकाता (14 प्रतिशत) और मुंबई (10 प्रतिशत) का स्थान रहा।

Write a comment
elections-2022