1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कोरोना संकट में काम आएगा म्यूचुअल फंड SIP का ‘पॉज’, ऐसे मिलेगी राहत

कोरोना संकट में काम आएगा म्यूचुअल फंड SIP का ‘पॉज’, ऐसे मिलेगी राहत

आर्थिक संकट आने पर SIP को कुछ महीने टाल कर फिर शुरू करने का मिलता है विकल्प

Sarabjeet Kaur Sarabjeet Kaur
Updated on: May 06, 2020 21:01 IST
- India TV Paisa

Pause option in Mutual Fund

पिछले कुछ दिनों से कोरोनावायरस संकट की वजह से बाज़ार में उतार-चढ़ाव का माहौल बना हुआ है। उसका नतीजा ये है कि लोग शेयर बाजार से अपने निवेश को बंद कर रहें हैं या फिर बेचकर निकल रहें हैं। वही हाल म्यूचुअल फंड निवेशकों का भी हो रहा है। जहां लगातार कई कंपनियां सैलरी काटने के साथ छंटनी कर रही है तो लोगों के पास कैश की कमी हो गई है। ऐसे में जिनके बैंक अकाउंट से हर महीने SIP की रकम कटती है उनके लिए चिंता का विषय हो गया है। कुछ लोगों को समझ में नहीं आ रहा है कि वो अपने मौजूदा SIP को बंद कर दें या फिर उसे कुछ दिनों के लिए रोक दें। ऐसे में हम आपको बताएंगे कि क्या है कुछ दिनों के लिए अपने SIP को रोकने का तरीका और हमेशा के लिए SIP बंद करने से बेहतर क्यों हैं कुछ दिन के लिए पॉज करने का ऑप्शन? जानिए हमारी इस खास रिपोर्ट के जरिए।

कोरोनवायरस के वजह से अगर आपके पास भी कैश की दिक्कत हो रही है तो ज्यादातर जानकारों का ये मानना है कि आप उन्हें बंद नहीं करें, बल्कि अपने एसआईपी के जरिए म्यूचुअल फंड में लगे पैसे को कुछ दिनों को पॉज के ऑप्शन में जाएं।

कैसे करें SIP को पॉज?

·   हर म्यूचुअल फंड के अपने-अपने तरीके होते हैं जिसके जरिए आप अपने महीने के एसआईपी को पॉज यानी की कुछ दिनों के लिए रोक सकते हैं

·   पॉज के ऑप्शन का समय एसेट मैनेजमेंट कंपनी (ASSET Management) तय करती है

·   SIP को पॉज करने के लिए एक निवेशक को SIP Pause फॉर्म भरना पड़ता है

·   पॉज फॉर्म कंपनी के सर्विस सेंटर ऑफिस जाकर या फिर कंपनी के वेबसाइट से ऑनलाइन डाउनलोड करके भी भरा जा सकता है

·   ध्यान रहें कि SIP पॉज करने के लिए तारीख को ठीक से भरें। किस तारीख से कब तक के समय के लिए आपको अपने SIP को पॉज करना उस तारीख को ध्यान से भरें।

·   फॉर्म में अपने मौजूदा SIP की पूरी जानकारी देनी होती है

·   निवेशक को अपना SIP फोलियो नंबर और अपना नाम भरके पॉज फॉर्म साइन करना जरुरी होता है

·   बैंक मैंडेट सिस्टम को भी जानकारी देनी होती है वरना आपका पैसा हर महीने की तरह कट सकता है

·   बैंक को एसेट मैनेजमेंट कंपनी पॉज समय के दौरान SIP के पैसे नहीं काटने की सारी जानकारी देती है

·   ध्यान रहे अगर आप अपने SIP को पॉज करना चाहते है कुछ महीनों के लिए तो आपको कम से कम एक महीने पहले पॉज फॉर्म एसेट मैनेजमेंट कंपनी को भर के जमा करना होगा

·    पास में मौजूद एसेट मैनेजमेंट कंपनी के ऑफिस में जाकर फॉर्म जमा कर सकते हैं। कई कंपनियां ऑनलाइन भी ये सुविधा देती हैं।

·   जैसे ही आपके पॉज का समय खत्म होगा आपके SIP का पैसा तय समय से कटना शुरू हो जाएगा

 

कुछ अहम बातों का रखे ध्यान:

·   अगर आपने पॉज के समय के बीच अपने बैंक को बदला है या बंद किया है तो उसकी जानकारी जल्द अपने एसेट मैनेजमेंट कंपनी को सूचित करें

·   अगर बैंक को सूचित नहीं करते तो पॉज समय के बाद आपकी SIP रुक जाएगी क्योंकि आपके बैंक खाते से डेबिट होना बंद हो जाएगा।

·   इसी फोलियो के जरिए अगर निवेशक चाहे तो दोबारा SIP शुरू कर सकता है

·   हर एसेट मैनेजमैंट कंपनी पॉज के ऑप्शन अपने निवेशकों को नहीं देती। इसलिए पॉज ऑप्शन में जाने से पहले अपने फंड हाउस से जानकारी प्राप्त कर लें

·   म्यूचुअल फंड्स निवेशकों को SIP के पूरे टैन्योर के दौरान एक ही बार पॉज का ऑप्शन देती है

·   ऑनलाइन डिस्ट्रिब्यूटर पोर्टल या इनवेस्टर्स स्टॉक एक्सचेंज के जरिए अगर किसी ने SIP के जरिए म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश किया है तो उन्हें पॉज का ऑप्शन नहीं मिलेगा

·   SIP को आप मिनिमम तीन महीने से लेकर 6 महीने तक के लिए ही पॉज कर सकते हैं

·   पॉज करने के लिए 10 दिन से लेकर एक महीने के अंदर अपने एसेट कंपनी को बताना पड़ता है

·   Nippon India Mutual Fund, ICICI Prudential Fund, Tata Mutual Fund, Aditya Birla Sun life Mutual Fund, Mirrae Asset Mutual Fund, UTI Mutual Fund, Reliance Mutual Fund और अन्य ऐसी कंपनियां हैं जिनमें आप SIP को पॉज कर सकते हैं। साथ ही ऑनलाइन या ई-मेल के जरिए भी पॉज करने का रिक्वेस्ट भेज सकते हैं

·   सभी म्यूचुअल फंड में पॉज का ऑपशन नहीं हैं। इसलिए हमेशा अपने ब्रोकर या रजिस्टर्ड एजेंट से पता कर लें कि आपके SIP को पॉज कर सकते हैं या नहीं

·   तो अगर आपके पास भी कैश की कमी है और कुछ दिनों को लिए अपने SIP को पॉज करना चाहते हैं तो उपर दिए गये जानकारी के जरिए आसानी से ऐसा करें। किसी भी फैसले से पहले अपने निवेश सलाहकार की जानकारी अवश्य लें।

Write a comment
X