1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. सरकार दे रही है सस्‍ता सोना खरीद मोटा मुनाफा कमाने का मौका, 31 अगस्‍त को इस कीमत पर शुरू होगी बिक्री

सरकार दे रही है सस्‍ता सोना खरीदकर मोटा मुनाफा कमाने का मौका, 31 अगस्‍त को इस कीमत पर शुरू होगी बिक्री

आरबीआई ने अपने बयान में कहा है कि स्वर्ण बांड का मूल्य उसके पेश होने वाले सप्ताह से पहले हफ्ते के अंतिम तीन कारोबारी दिनों में 99.9 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की औसत बंद कीमत पर आधारित होती है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: August 29, 2020 12:27 IST
Next tranche of gold bond opens on Aug 31, issue price at Rs 5,117 per gram - India TV Paisa
Photo:ECONOMIC TIMES

Next tranche of gold bond opens on Aug 31, issue price at Rs 5,117 per gram

नई दिल्‍ली। Sovereign Gold Bond Scheme (सॉवरेन गोल्‍ड बांड स्‍कीम) की छठी किस्‍त के लिए आरबीआई ने 5,117 रुपए प्रति ग्राम का मूल्‍य तय किया है। Sovereign Gold Bond Scheme 2020-21 series VI सब्‍सक्रिप्‍शन के लिए 31 अगस्‍त, 2020 को खुलेगी और यह 4 सितंबर, 2020 को बंद होगी। पांचवी किस्‍त में बांड के लिए इश्‍यू प्राइस 5,334 रुपए प्रति ग्राम था। पांचवी किस्‍त 3 अगस्‍त को खुली थी और 7 अगस्‍त को बंद हुई थी।  

आरबीआई ने अपने बयान में कहा है कि स्‍वर्ण बांड का मूल्‍य उसके पेश होने वाले सप्‍ताह से पहले हफ्ते के अंतिम तीन कारोबारी दिनों में 99.9 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने की औसत बंद कीमत पर आधारित होती है। मौजूदा श्रृंखला के लिए यह गणना 26 अगस्‍त से 28 अगस्‍त 2020 के औसत बंद भाव पर 5,117 रुपए प्रति ग्राम तय की गई है।  

आरबीआई की सहमति से सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने और बांड खरीदने के लिए डिजिटल भुगतान करने वाले उपभोक्‍ताओं को प्रति ग्राम 50 रुपए डिस्‍काउंट देने का निर्णय लिया है। ऐसे निवेशकों के लिए बांड की कीमत 5,067 रुपए प्रति ग्राम होगी। सरकार की गारंटी वाले स्‍वर्ण बांड को भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा जारी किया जाता है।

देश में सोने का आयात घटाने और इसकी भौतिक मांग में कमी लाने के लिए सरकार ने नवंबर 2015 में यह स्‍कीम पेश की थी। बांड को एक ग्राम यूनिट में खरीदा जा सकता है और इसकी परिपक्‍वता अवधि पांच साल के बाद एग्जिट ऑप्‍शन के साथ 8 साल है। इन बांड में केवल भारतीय व्‍यक्ति, हिंदु अविभाजित परिवार, ट्रस्‍ट, विश्‍वविद्यालय और सामाजिक संस्‍था निवेश कर सकते हैं।

एक वित्‍त वर्ष में न्‍यूनतम एक ग्राम गोल्‍ड बांड में निवेश के साथ अधिकतम सीमा व्‍यक्ति व एचयूएफ के लिए 4 किग्रा और ट्रस्‍ट के लिए 20 किग्रा है। वित्त वर्ष 2019-20 में रिजर्व बैंक ने दस किस्तों में कुल 2,316.37 करोड़ रुपए यानी 6.13 टन के स्वर्ण बांड जारी किए।

गोल्‍ड बांड को बैंकों, स्‍टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया, अधिसूचित पोस्‍ट ऑफ‍िस और स्‍टॉक एक्‍सचेंज (एनएसई और बीएसई) के जरिये बेचा जाएगा। आरबीआई की वार्षिक रिपोर्ट 2019-20 के मुताबिक नवंबर 2015 में लॉन्‍च होने के बाद से सॉवरेन गोल्‍ड बांड स्‍कीम के तहत 37 किस्‍तों में 30.98 टन सोने के लिए बांड की बिक्री कर कुल 9,652.78 करोड़ रुपए जुटाए हैं।

Write a comment
X