1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. प्रशांत कुमार ने संभाला Yes Bank के प्रशासक का पदभार, गवर्नर दास ने कहा 30 दिन के भीतर पेश करेंगे समाधान

प्रशांत कुमार ने संभाला Yes Bank के प्रशासक का पदभार, गवर्नर दास ने कहा 30 दिन के भीतर पेश करेंगे समाधान

केंद्रीय बैंक शीघ्र ही संकटग्रस्त बैंक के लिए समाधान योजना लेकर आएगा, और इसे 30 दिन की निर्धारित समय सीमा के भीतर ही पूरा किया जाएगा।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: March 06, 2020 12:22 IST
Prashant Kumar takes charge as Yes Bank administrator - India TV Paisa

Prashant Kumar takes charge as Yes Bank administrator

नई दिल्‍ली। येस बैंक ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय स्‍टेट बैंक के पूर्व डिप्‍टी मैनेजिंग डायरेक्‍टर और सीएफओ प्रशांत कुमार ने बैंक के प्रशासक का कार्यभार संभाल लिया है। आरबीआई ने गुरुवार को येस बैंक पर एक महीने का प्रतिबंध लगाया है और जमाकर्ताओं के लिए निकासी की सीमा प्रति खाता 50,000 रुपए तय की है। आरबीआई ने येस बैंक के बोर्ड को भी भंग कर दिया है। आरबीआई और वित्‍त मंत्रालय के वित्‍तीय सेवा विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के मुताबिक कुमार ने शुक्रवार को येस बैंक के प्रशासक के तौर पर अपनी जिम्‍मेदारी संभाल ली है।

येस बैंक ने बीएसई फाइलिंग में कहा कि आरबीआई के आदेशानुसार प्रशांत कुमार, पूर्व-डीएफडी और सीएफओ, एसबीआई ने आरबीआई द्वारा बैंकिंग नियमन कानून, 1949 की धारा 36एसीए(2) के तहत जारी आदेश के अनुसार बैंक के प्रशासक का पदभार शुक्रवार से संभाल लिया है।

30 दिन की सीमा के भीतर शीघ्र आएगा येस बैंक के लिए समाधान: गवर्नर

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को येस बैंक पर लगाए गए प्रतिबंध की समय-सीमा का बचाव करते हुए कहा कि केंद्रीय बैंक शीघ्र ही संकटग्रस्‍त बैंक के लिए समाधान योजना लेकर आएगा, और इसे 30 दिन की निर्धारित समय सीमा के भीतर ही पूरा किया जाएगा। दास ने कहा कि येस बैंक का समाधान शीघ्र किया जाएगा, इसे बहुत तेजी से किया जाएगा। इसके लिए निर्धारित 30 दिन की समय सीमा पर्याप्‍त है। आप आरबीआई को शीघ्र कार्रवाई करते हुए देखेंगे।

दास ने कहा कि मैं सभी आश्‍वस्‍त करना चाहता हूं कि हमारा बैंकिंग सेक्‍टर निरंतर मजबूत और सुरक्षित बना हुआ है। उन्‍होंने कहा कि आगे आने वाली सभी चुनौतियों का सामना करने के लिए आरबीआई हमेशा तैयार है। उन्‍होंने कहा कि हम वित्‍तीय और बैंकिंग सेक्‍टर में स्थिरता बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं।  

Write a comment
X