1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. राष्ट्रपति पद संभालते ही ट्रंप ने उठाया बड़ा कदम, लगाया चीनी प्रोडक्ट्स पर भारी टैक्स

राष्ट्रपति पद संभालते ही ट्रंप ने उठाया बड़ा कदम, लगाया चीनी प्रोडक्ट्स पर भारी टैक्स

अमेरिका में राष्ट्रपति का पद संभालते ही डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के प्रोडक्ट्स पर भारी टैक्स लगाने का फैसला किया है।

Ankit Tyagi Ankit Tyagi
Updated on: January 21, 2017 10:38 IST
राष्ट्रपति पद संभालते ही ट्रंप ने उठाया बड़ा कदम, लगाया चीनी प्रोडक्ट्स पर भारी टैक्स- India TV Hindi News
राष्ट्रपति पद संभालते ही ट्रंप ने उठाया बड़ा कदम, लगाया चीनी प्रोडक्ट्स पर भारी टैक्स

नई दिल्ली: अमेरिका में राष्ट्रपति का पद संभालते ही डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के प्रोडक्ट्स पर भारी टैक्स लगाने का फैसला किया है। इस पर चीन ने अमेरिका द्वारा उसके विभिन्न प्रोडक्ट्स पर भारी शुल्क लगाए जाने पर प्रश्न उठाते हुए इसका प्रतिकार करने की चेतावनी दी है।

अमेरिका ने इन प्रोडक्ट्स पर लगाया भारी टैक्स

  • अमेरिका के वाणिज्य विभाग ने डंपिंग रोधी शुल्क के तौर पर चीन से आयातित एमॉर्फस सिलिका फैब्रिक पर 162.47 फीसदी, कार्बन पर 68.27 फीसदी और संकर इस्पात पर 493.46 फीसदी शुल्क लगाने का निर्णय किया।

इसके अलावा डिपार्टमेंट  ने अंतिम सब्सिडी-रोधी शुल्क भी लगाया

  • यह चीन से आयातित एमॉर्फस सिलिका फैब्रिक पर 48.94 फीसदी से 165.39 फीसदी, कार्बन और संकर इस्पात पर 251 फीसदी और अमोनियम सल्फेट पर 206.72 फीसदी है।

तस्वीरों में देखिए चीन का यह स्पेशल प्लेन… 

China C919

-1x-1 IndiaTV Paisa

0023ae82ca0f1545201b1b IndiaTV Paisa

264EAE7400000578-2978940-Progress_The_C919_built_by_the_Commercial_Aircraft_Corporation_o-a-42_1425472983375 IndiaTV Paisa

C919-Steph-De-Wolf IndiaTV Paisa

C919 Cockpit IndiaTV Paisa

C-919IndiaTV Paisa

चीन जल्द उठाया कंपनियों के हित में कदम

  • सरकारी संवाद एजेंसी शिन्हुआ की खबर के मुताबिक चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने कहा है कि वह चीनी कंपनियों के हितों की रक्षा करने के लिए आवश्यक कदम उठाएगा।

मंत्रालय के व्यापार अधिकारी वांग हेजुन ने कहा कि चीन ने अमेरिका के इस निर्णय और तीन उत्पादों की जांच प्रक्रिया पर सवाल उठाया है और अमेरिकी अधिकारियों ने चीनी कंपनियों द्वारा पेश किए गए दस्तावेजों को अनदेखा कर उनके खुद के बचाव करने के अधिकार से वंचित किया है।

Latest Business News

Write a comment
navratri-2022