ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. गैजेट
  5. Vodafone Idea ने दिखाया दम, 2021-22 की पहली तिमाही में घाटे के बावजूद किया लाइसेंस शुल्क का भुगतान

Vodafone Idea ने दिखाया दम, 2021-22 की पहली तिमाही में घाटे के बावजूद किया लाइसेंस शुल्क का भुगतान

30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही में वोडाफोन आइडिया को कुल 7,319 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। एक साल पहले समान तिमाही में कंपनी को 25,460 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: August 19, 2021 14:10 IST
Vodafone Idea Paid licence fee dues for first quarter of 2021 22 - India TV Paisa
Photo:PTI

Vodafone Idea Paid licence fee dues for first quarter of 2021 22

नई दिल्ली। वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (Vodafone Idea Ltd ) ने गुरुवार को कहा कि उसने 2021-22 की पहली तिमाही के लिए लाइसेंस शुल्क का भुगतान कर दिया है। इससे पहले खबर आई थी कि वीआईएल द्वारा जून तिमाही के लिए चुकाया गया लाइसेंस शुल्क 150 करोड़ रुपये कम था। कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि वीआईएल ने पहली तिमाही 2021-22 के लिए अपने लाइसेंस शुल्क का भुगतान कर दिया है। बयान में अधिक विवरण नहीं दिया गया।

वीआईएल अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रही है, और कर्ज में डूबी दूरसंचार कंपनी की पहली तिमाही की आय तथा शनिवार को घोषित जून तिमाही के परिचालन मेट्रिक्स ने विश्लेषकों को निराश किया। दूरसंचार कंपनी द्वारी जारी पहली तिमाही के परिणाम के अनुसार 30 जून 2021 तक वीआईएल का कुल सकल ऋण (पट्टे की देनदारियों को छोड़कर और ब्याज सहित, लेकिन बकाया नहीं) 1,91,590 करोड़ रुपये था। इसमें स्पेक्ट्रम भुगतान देनदारी के 1,06,010 करोड़ रुपये और समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) देनदारी के 62,180 करोड़ रुपये शामिल हैं। 

30 जून, 2021 को समाप्‍त तिमाही में वोडाफोन आइडिया को कुल 7,319 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। एक साल पहले समान तिमाही में कंपनी को 25,460 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। इस तिमाही में वोडाफोन आइडिया को परिचालन से प्राप्‍त राजस्‍व 14 प्रतिशत घटकर 9,152.3 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले समान तिमाही में 10,659.3 करोड़ रुपये था।

अरबपति कारोबारी कुमार मंगलम बिड़ला ने हाल ही में वोडाफोन आइडिया लिमिटेड के चेयरमैन पद से इस्‍तीफा दिया है। पिछले हफ्ते वोडाफोन आइडिया ने सुप्रीम कोर्ट में एजीआर संबंधी बकाये में गणितीय गलती पर समीक्षा याचिका दायर की है। अपनी समीक्षा याचिका में वोडाफोन आइडिया ने कहा है कि यदि कंपनी अपना कारोबार बंद करती है तो इससे कर्मचारियों के साथ ही साथ डिस्‍ट्रीब्‍यूटर्स, रिटेलर्स एवं स्‍टोर स्‍टाफ की आजीविका पर भी असर पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: अगर आपके पास भी है बैंक लॉकर तो जरूर पढ़ें ये खबर, 1 जनवरी 2022 से बदलने जा रहे हैं नियम

यह भी पढ़ें: किसानों को बड़ी राहत, नहीं खरीदने होंगे कृषि उपकरण!

यह भी पढ़ें: Vespa स्‍कूटर ने किए 75 साल पूरे, Piaggio ने भारत में लॉन्‍च किया स्‍पेशल एडिशन

यह भी पढ़ें: महंगे तेल के पीछे क्‍या है खेल, समझिए इसके पीछे की पूरी कहानी

Write a comment
elections-2022