1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. मेरा पैसा
  5. Online Shopping करते समय अगर हो गए हैं फ्रॉड का शिकार, इस नंबर पर कॉल कर पाएं सारे पैसे वापस

Online Shopping करते समय अगर हो गए हैं फ्रॉड का शिकार, इस नंबर पर कॉल कर पाएं सारे पैसे वापस

ऑनलाइन शॉपिंग (Online Shopping) करना जितना आसान है उससे कहीं ज्यादा जोखिम भरा भी है। अगर सावधानी से शॉपिंग करें तो कभी भी फ्रॉड नहीं हो सकता है।

India TV Business Desk Edited By: India TV Business Desk
Published on: September 28, 2022 18:24 IST
Online Shopping - India TV Hindi
Photo:INDIA TV Online Shopping करते समय अगर हो गए हैं फ्रॉड का शिकार

Highlights

  • कभी भी ऑनलाइन शॉपिंग करते समय जल्दबाजी नहीं करें
  • किसी वेबसाइट से शॉपिंग करते समय उस वेबसाइट की जरूर जांच करें
  • किसी भी ऐसे वेबसाइट से शॉपिंग नहीं करें जिसके बारे में आपको पहले से जानकारी नहीं हो

ऑनलाइन शॉपिंग (Online Shopping) करना जितना आसान है उससे कहीं ज्यादा जोखिम भरा भी है। अगर सावधानी से शॉपिंग करें तो कभी भी फ्रॉड नहीं हो सकता है। ई-कॉमर्स साइट अमेजॉन (Amazon) और फ्लिपकार्ट (Flipkart) के साथ ही कई अन्य वेबसाइट पर सेल होने के कारण कुछ लोग जमकर खरीदारी करते हैं। जल्दबाजी में खरीदारी करने के कारण फ्रॉड होने की संभावना बनी रहती है। अगर आपके साथ भी कभी ऑनलाइन शॉपिंग करते समय फ्रॉड (Fraud) हो जाए तो ऐसे में समय रहते आप अपने पैसे वापस ले सकते हैं। 

साइबर क्राइम (Cyber Crime) से जुड़ी शिकायत के लिए साइबर दोस्त ने एक नंबर जारी किया है। साइबर दोस्त के आधिकारिक ट्विटर हैंडल के माध्यम से इसके बारे में जानकारी दी गई है। 

फ्रॉड का शिकार होने पर डायल करें ये नंबर  

साइबर फ्रॉड की शिकायत करने के लिए केंद्र सरकार ने एक ऑनलाइन पोर्टल बनाने के साथ ही ट्विटर हैंडल भी जारी किया था। साइबर दोस्त (Cyber Dost) नाम से यह टि्वटर हैंडल है। साइबर फ्रॉड होने की स्थिति में समय रहते 1930 पर कॉल करें। इस नंबर पर कॉल करने के बाद आप जिस वेबसाइट से शॉपिंग कर रहे थे उसकी पूरी जानकारी दें। ऑनलाइन बैंकिंग (Banking) करते समय अगर किसी अकाउंट नंबर में पैसे चले जाए तो इसकी भी शिकायत आप 1930 नंबर पर कॉल कर सकते हैं। इसके अलावा ऑनलाइन cybercrime.gov.in पर जाकर अपनी शिकायत दर्ज करें।

पहले इस नंबर पर करते थे शिकायत

पहले साइबर फ्रॉड होने के बाद लोग 155260 नंबर पर शिकायत करते थे। लेकिन इसे अब बदल कर 1930 कर दिया गया है। दरअसल कठिन नंबर होने के कारण लोग 155260 नंबर को याद नहीं कर पाते थे। इसलिए इसे आसान कर दिया गया है। इस नंबर पर कॉल करने के बाद जैसे ही लोग शिकायत दर्ज करवाते हैं उसके बाद एक टिकट (Ticket) जनरेट हो जाती है। इस टिकट के आधार पर साइबर फ्रॉड से जुड़े अधिकारी जांच शुरू कर देते हैं। किस अकाउंट (Account) से किस में पैसे भेजे जा रहे हैं इस पर पैनी नजर रखी जाती है। 

ऑनलाइन शॉपिंग करने से पहले बरतें यह सावधानियां 

1. कभी भी ऑनलाइन शॉपिंग करते समय जल्दबाजी नहीं करें।

2. किसी वेबसाइट से शॉपिंग करते समय उस वेबसाइट की जरूर जांच करें।
3. किसी भी ऐसे वेबसाइट से शॉपिंग नहीं करें जिसके बारे में आपको पहले से जानकारी नहीं हो।
4. अगर संभव हो तो कैश ऑन डिलीवरी का ही चयन करें।
5. पेमेंट करते समय मैसेज और ओटीपी को ध्यान से पढ़ें।
6. सभी मैसेज और ओटीपी को तब तक संभाल कर रखें जब तक सामान घर पर डिलीवर ना हो जाए।
7. फ्रॉड होने की स्थिति में जितना जल्दी हो सके शिकायत दर्ज करवाएं।
8. किसी अननोन लिंक पर क्लिक करने से बचें।

Latest Business News