इन राशियों को शुक्राचार्य करेगा प्रभावित, अशुभ फलों से बचने के लिए करना होगा ये काम

आज मार्गशीर्ष शुक्ल पक्ष की त्रयोदशी तिथि और सोमवार का दिन है। त्रयोदशी तिथि आज का पूरा दिन पूरी रात रहेगी। आज का पूरा दिन पार कर के देर रात 3 बजकर 8 मिनट तक परिघ योग रहेगा। इस योग में शत्रु के विरुद्ध किए गए कार्य में सफलता मिलती है, अर्थात शत्रु पर विजय अवश्य मिलती है। आज सुबह 7 बजकर 15 मिनट तक अश्विनी नक्षत्र रहेगा,

Written By : Acharya Indu Prakash Edited By : Vineeta MandalPublished on: December 04, 2022 16:02 IST
Monday horoscope- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Monday horoscope

आज शाम 05 बजकर 58 मिनट पर शुक्राचार्य धनु राशि में जाएंगे। मीन राशि में शुक्र उच्च का और कन्या राशि में यह नीच का होता है। शुक्र के धनु राशि में इस गोचर का विभिन्न राशियों पर असर होगा तो किस राशि पर शुक्राचार्य के क्या प्रभाव होंगे। इसके शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए क्या उपाय करने चाहिए और इसके अशुभ फलों से बचने के लिये क्या करना चाहिए आज हम इसकी चर्चा करेंगे।

1. मेष राशि- क्राचार्य आपके नवे घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आपको भाग्य का भरपूर लाभ मिलेगा। आपके पास पैसों की कमी नहीं होगी। बेहतरी के लिए मेहनत जारी रखें और व्यर्थ के कामों में पैसे खर्च करने से बचें। संतान से सुख की आशा कुछ कम है लेकिन इस दौरान किसी तीर्थ यात्रा पर जाना आपके लिये शुभ फलदायी होगा। शुक्र के अच्छे फलों को सुनिश्चित करने के लिए आपको काली या लाल गाय की सेवा करें। नीम के पेड़ के नीचे चांदी का छोटा-सा चौकोर टुकड़ा दबाएं, आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

2. वृष राशि- शुक्राचार्य का यह आपके आठवें घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आप अपनी कही बात का मान रखेंगे, और उस कार्य को पूरा करेंगे। इस

दौरान दूसरों के लड़ाई-झगड़ों में पड़ने से बचें। साथ ही ध्यान रहे किसी से कोई चीज़ दान में या उधार न लें। इसके अलावा अपने और अपने जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ख्याल रखें। शुक्र की अशुभ स्थिति से बचने के लिये और शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए आप ज्वार का दान करें, जीवनसाथी की सेहत में सुधार होगा। प्रतिदिन मंदिर में सिर झुकाएं, शत्रु कमजोर होगा।

3. मिथुन राशि- वालों शुक्राचार्य आपके सातवें घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आपको परिवार का सुख मिलेगा, धन लाभ होगा और दूसरों के प्रति आपका
व्यवहार अच्छा रहेगा। आपकी इस दौरान किसी से लेन-देन में अधिक रुचि नहीं रहेगी। आपको कई महत्वपूर्ण यात्राएं करनी पड़ सकती हैं। अपने जीवनसाथी से इस दौरान प्रेम बनाए रखें। साथ ही अपनी संतान की पढ़ाई पर नजर बनाए रखने की आवश्यकता है। शुक्र के अशुभ प्रभावों से बचने के लिए आपको प्रतिदिन माता-पिता का आशीर्वाद लें।

4. कर्क राशि- वालों शुक्राचार्य आपके छठे घर में प्रवेश करेंगे। अगर आप विवाहित हैं तो शुक्र के इस गोचर से आपको धन लाभ होगा। आपके भाईयों की तरक्की होगी।
हालांकि सन्तान पक्ष से अधिक सुख की आशा न रखें। अपना कोई काम अधूरा न छोड़ें। कोशिश करें कि उसे जल्द से जल्द से पूरा कर लें। शुक्र के शुभ प्रभावों को
सुनिश्चित करने के लिए आपको चांदी की ठोस गोली अपने पास रखें। अपना व्यवहार अच्छा बनाए रखें।

5. सिंह राशि- शुक्राचार्य आपके पांचवे घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से परिवार के प्रति आपका लगाव बढ़ेगा। साथ ही धर्म के प्रति आस्था बढ़ेगी और हर
तरफ से आपकी तरक्की होगी, आपके पैसों में वृद्धि होगी। नवयुवकों को इस दौरान गलत संगति से बचना चाहिए। इस राशि वालों को अपने ब्यूटी प्रोडेक्ट्स संभालकर रखने की आवश्यकता है। शुक्र की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए आपको गाय और माता की सेवा करें, सम्पत्ति में वृद्धि होगी। दूध का दान करें।

6. कन्या राशि- शुक्राचार्य आपके चौथे घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आराम पसंद लोगों के साथ आप दोस्ती बढ़ायेंगे। ईष्ट देवता का हाथ आपके ऊपर बना रहेगा। आर्थिक तंगी से आपको मुक्ति मिलेगी। इस दौरान एकस्ट्रा मैरिटल रिलेशन का बड़ा अवसर आपको सामने दिखाई देगा। अपनी बोरिंग अवॉयड करने के लिए किसी न किसी काम में अपने आपको बिजी रखें और अपने साथी को ही दूसरा साथी मानकर प्रेम बनाए रखें। इस दौरान आपकी संतान को भी कुछ परेशानी हो सकती है। शुक्र की अशुभ स्थिति से बचने के लिए आप प्रतिदिन कुएं में एक चुटकी हल्दी डालने से बच्चों के काम बनेंगे। इस दौरान नशा अवायॅड करने से बेहतर करियर अपॉर्चुनिटी मिलेगी।

7. तुला राशि- शुक्राचार्य आपके तीसरे घर में प्रवेश करेंगे | शुक्र के इस गोचर से आपको माता-पिता का भरपूर सुख और सहयोग मिलेगा। उनके साथ किसी तीर्थ स्थल की यात्रा करने से मन को शांति मिलेगी। इस बीच आपके जीवनसाथी का मन कुछ अशांत हो सकता है। साथ ही इस दौरान आपको अपना मकान भी बदलना पड़ सकता है। मेहनत जारी रखने से ही काम बनेंगे। रात को जागने से बचें अन्यथा धन की हानि होगी। शुक्र के अशुभ प्रभावों से बचने के लिये आपको प्रत्येक स्त्री का सम्मान करें। अपना मन भटकने से बचाएं और किसी न किसी काम में अपने आपको बिजी रखने की कोशिश करें।

8. वृश्चिक राशि- शुक्राचार्य आपके के दूसरे घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आपको शत्रुओं से मुक्ति मिलेगी, सांसारिक सुखों की प्राप्ति होगी और आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। अपना व्यवहार अच्छा रखने से आपकी सभी परेशानियां दूर होंगी। पशुपालन और कच्ची मिट्टी के काम से जुड़े लोगों को इस दौरान दो गुना फायदा होगा। अगर आप गौ मुखी मकान, यानि ऐसे मकान में रहते हैं जो आगे से पतला और पीछे से चौड़ा हो तो आपकी संतान और भाईयों की तरक्की इस बात पर डिपेंड करेगी कि आप अपने गुरु का कितना सम्मान करते हैं। शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए आप दो सौ ग्राम गाय का घी मन्दिर में दान दें।  2 किलो आलू हल्दी से पीले करके गाय को खिलाएं।

9. धनु राशि- शुक्राचार्य आपके लग्न स्थान पर गोचर करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आपको धन, वाहन आदि सब सुख मिलेंगे। अगर आपका विवाह अभी तक नहीं हुआ है तो जल्द ही विवाह के प्रस्ताव आयेंगे। वहीं अगर आप पहले से विवाहित हैं तो आपको संतान का सुख मिलेगा। जीवनसाथी के साथ प्रेम बनाए रखें और अपने जीवनसाथी की सेहत का ख्याल रखने की जरूरत है। शुक्र की अशुभ स्थिति से बचने के लिए और शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए  सतनाज का दान करें, जीवनसाथी की सेहत में सुधार होगा। काली गाय की सेवा करें।

10. मकर राशि- शुक्राचार्य आपके के बारहवें घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र का यह गोचर आपकी किस्मत के दरवाजे खोलेगा, परिवार व संतान से सुख मिलेगा, धन
की प्राप्ति होगी और रात को आराम मिलेगा। इस दौरान कविता लेखन में आपकी रुचि बढ़ेगी। दूसरों से सहायता की अधिक अपेक्षा न रखें और अपनी सेहत का
ख्याल रखें। शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए आप घर की महिला अपने हाथों से विराने में नीला फूल या घर की धूल दबा दें, सभी परेशानियां दूर होंगी। संभव हो तो इस दौरान गाय का दान करें, अन्यथा गाय की सेवा करें।

11. कुंभ राशि-  शुक्राचार्य आपके ग्यारहवें घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आपको धन लाभ होगा, आपके चेहरे की सुंदरता बढ़ेगी। लेकिन इस दौरान
आपके स्वभाव में बार-बार बदलाव आ सकते हैं। आपको बचपन की कोई बात याद आ सकती है। इस दौरान आप दूसरों से छिपाकर और चतुराई से काम करने की कोशिश करेंगे। शुक्र की अशुभ स्थिति से बचने के लिये और शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए तेल का दान करना शुभ फलदायी होगा। मंदिर में रूई व दही का दान करें।

12. मीन राशि- शुक्राचार्य आपके दसवें घर में प्रवेश करेंगे। शुक्र के इस गोचर से आपको वाहन सुख मिलेगा। आपका बुढ़ापा और जवानी दोनों अच्छे से बितेंगे। धर्म के प्रति आपकी आस्था बढ़ेगी, जबकि पैसों के प्रति आपका आकर्षण बढ़ेगा। जीवनसाथी का स्वास्थ्य ठीक बना रहेगा। शुक्र की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिए आप संयमता से काम लें। शनि संबंधी उपाय करें और तेल का दान करें।

(आचार्य इंदु प्रकाश देश के जाने-माने ज्योतिषी हैं, जिन्हें वास्तु, सामुद्रिक शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र का लंबा अनुभव है। इंडिया टीवी पर आप इन्हें हर सुबह 7.30 बजे भविष्यवाणी में देखते हैं।)

ये भी पढ़ें-

Som Pradosh Vrat: सोम प्रदोष व्रत करने से सभी पापों से मिलेगी मुक्ति, जानें महत्व और उपाय

Aaj ka Panchang 5 December 2022: जानिए सोमवार का पंचांग, राहुकाल, शुभ मुहूर्त और सूर्योदय-सूर्यास्त का समय

Tripur Sundari Jayanti 2022: त्रिपुर सुंदरी जयंती के दिन करें ये उपाय, घर में बरसेगी लक्ष्मी की कृपा

More Rashifal News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें राशिफल सेक्‍शन