Monday, February 26, 2024
Advertisement

मार्गशीर्ष माह: इन 2 दिनों में भूल से भी न करें कोई शुभ काम, वरना डूब जाएगी सारी संपत्ति

मार्गशीर्ष का महीना आरंभ हो चुका है। यह मास पुण्य कमाने के लिहाज से बेहद शुभ माना जाता है। शास्त्रों के अनुसार इस महीने के वो 2 दिन होते हैं जिसमें कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए। नहीं तो धन की हानी हो सकती है। आइए जानते हैं आखिर वो 2 दिन कौन से हैं।

Aditya Mehrotra Written By: Aditya Mehrotra
Updated on: November 29, 2023 11:30 IST
Margashirsha Month 2023- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Margashirsha Month 2023

Margashirsha Month 2023: दान-पुण्य और कृष्ण भक्ति की आस्था से सराबोर यह पावन मार्गशीर्ष मास प्रारंभ हो चुका है। आज 29 नवंबर 2023 दिन बुधवार को इस महीने का दूसरा दिन है। यह महीना पूर्ण आस्था और भक्ति का प्रतीक है। इस महीने तीर्थ स्नान, दान, जप और तप का फल कई गुना अधिक प्राप्त होता है। यह महीना भगवान श्री कृष्ण को तो समर्पित होता ही है इसी के साथ यह भगवान विष्णु और मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए भी सबसे उत्तम महीना होता है।

लेकिन एक बात का ध्यान रखना होगा। इस महीने की दो तिथियां ऐसी हैं जिसमें कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए। वरना धन की बड़ी मात्रा में हानी हो सकती है। कुछ चीजों का हमें ध्यान रखना होता है। तो आइए अब जानते हैं वो दो तिथियां मार्गशीर्ष की कौन सी हैं। जिसमें किसी प्रकार का कोई भी मांगलिक कार्य नहीं करना चाहिए।

मार्गशीर्ष की ये हैं वो दो तिथियां

वैदिक पंचांग के अनुसार मार्गशीर्ष माह की कृष्ण पक्ष की सप्तमी और आष्टमी इन दो तिथियों में कोई भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिए। यह तिथियां शून्य होती है। इसे शून्य तिथि भी कहते हैं। इन तिथियों में मांगलिक कार्य करना वर्जित होता है। माना जाता है यदि मार्गशीर्ष मास की इन 2 तिथियों में कोई भी मांगलिक कार्य जैसे की मुंडन, विवाह, शादी का रिश्ता तय करना आदि घर में आयोजित किया जाता है। तो उससे कुल का नाश होता है और घर की धन संपदा भी नष्ट हो जाती है। इसलिए इन दोनों तिथियों को ध्यान में रखते हुए कोई भी ऐसा कार्य न करें जिससे आपकी परेशानियां बढ़ें और आपके धन का पतन हो।

नोट करें तिथियों की डेट

  • मार्गशीर्ष मास की कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि - 4 दिसंबर 2023 दिन सोमवार।
  • मार्गशीर्ष मास की कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि - 5 दिसंबर 2023 दिन मंगलवार।

इस एक चीज के सेवन से भी बचें

मान्यता है कि मार्गशीर्ष के महीने में जीरे का सेवन नहीं करना चाहिए। इस महीने भोजन में मसाले के तौर पर जीरे का सेवन नहीं करना चाहिए। इसी के साथ तामसिक प्रकार के भोजन से भी परहेज करना चाहिए। इस पूरे महीने जितना हो सके सात्विक आहार ही ग्रहण करें। इसी के साथ उपवास में भी एक समय का फलाहार ग्रहण करें।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इसका कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है। इंडिया टीवी एक भी बात की सत्यता का प्रमाण नहीं देता है।)

ये भी पढ़ें-

Ganadhipa Sankashti Chaturthi 2023: 30 नवंबर को मनाई जाएगी गणाधिप संकष्टी चतुर्थी, यहां जानें पूजा का शुभ मुहूर्त और चंद्रोदय का समय

Vastu Tips: घर में नहीं टिक पा रहा है पैसा, तो इस दिशा में रख लें फिश एक्वेरियम, फिर देखें इसका कमाल

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Festivals News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement