1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. बचपन में धोनी के प्लान अलग थे लेकिन मैंने अलग रास्ता चुना – गुरप्रीत सिंह संधू

बचपन में धोनी के प्लान अलग थे लेकिन मैंने अलग रास्ता चुना – गुरप्रीत सिंह संधू

भारतीय टीम के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह, जो पहले तो क्रिकेट अकादमी में क्रिकेट सीखने गए थे मगर वर्तमान में फुटबॉल के गोलकीपर है।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Published on: May 13, 2020 17:50 IST
Gurpreet Singh Sandhu- India TV Hindi
Image Source : PTI Gurpreet Singh Sandhu

पूरी दुनिया में कैप्टन कूल के नाम से मशहूर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी, विकेटकीपिंग और उनकी सादगी के सभी फैन हैं। मगर इस खेल में आने से पहले वो फुटबॉल खेलते थे और अपने करियर में आगे चलकर वो एक गोलकीपर बनना चाहते थे। हालांकि नियति को कुछ और ही मंजूर था जिसके चलते फुटबॉल तो नहीं बल्कि क्रिकेट के मैदान में वो एक महान खिलाड़ी बनकर निकले। इसके बिल्कुल विपरीत भारतीय टीम के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू की कहानी है जो पहले तो क्रिकेट अकादमी में क्रिकेट सीखने गए थे मगर वर्तमान में फुटबॉल के गोलकीपर है।

इस तरह कोरोना महामारी और लॉकडाउन के चलते ऑस्ट्रेलिया में फंसे गुरप्रीत से जब धोनी के बारे में पूछा गया तो उन्होंने आईएएनएस से कहा,  "धोनी बचपन में गोलकीपर बनना चाहते थे जबकि मेरे प्लान अलग थे।"

गुरप्रीत ने आगे बताया कि उन्होंने मोहाली में क्रिकेट अकादमी में भी एडमिशन लिया था लेकिन तीन दिन के बाद वह फुटबॉल की तरफ आ गए।

आईएसएल में अपनी टीम बेंगलुरू को सेमीफाइनल में पहुंचाने वाले इस गोलकीपर ने कहा, "मैं जब छोटा था तब तीन-चार दिन क्रिकेट अकादमी गया था। मुझे क्रिकेट से प्यार नहीं था क्योंकि उसमें आक्रामकता नहीं थी, लेकिन मेरे पिता को क्रिकेट पसंद था इसिलए मैंने जोखिम लिया।"

वही खेलों के बारे में गुरप्रीत ने कहा कि अगर बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम में खेलना नया चलन है तो फिर खिलाड़ियों को इसका सम्मान करना चाहिए।

गुरप्रीत ने कहा, "हम स्टडियम में लोगों को देखना पसंद करते, लेकिन इस समय लोगों की सुरक्षा काफी अहम है।"

ये भी पढ़ें : विजेंद्र सिंह ने बताया, किस तरह प्रोफेशनल बॉक्सिंग में पहली जीत ने बदल दी उनकी जिंदगी

भारतीय फुटबॉल टीम के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू का मानना है कि जब खेल टीवी पर वापसी करेंगे चाहे वो खाली स्टेडियम में ही बिना दर्शकों के खेले जाएं, तभी लोग थोड़ा अच्छा महसूस करेंगे।

गौरतलब है कि जर्मनी की फुटबॉल लीग शनिवार से चालू हो रही है। कोरोनावायरस के कारण इसे स्थगित रखा गया था, हालांकि इसके मैच बिना दर्शकों के खाली स्टेडियम में खेले जाएंगे, लेकिन टीवी पर लोग इसे आसानी से देख सकेंगे।

वहीं अखिल भारतीय फुटबाल फेडरेशन (एआईएफएफ) ने इस साल अर्जुन अवार्ड के लिए पुरुष खिलाड़ी संदेश झिंगान और महिला खिलाड़ी बाला देवी का नाम भेजा है।

गुरप्रीत ने दोनों को शुभकामनाएं देते हुए कहा, "संदेश और बाला के लिए यह शानदार खबर है। मैं दोनों के लिए खुश हूं। वह दोनों इसके हकदार हैं। मैं दोनों को शुभकामनाएं देता हूं।"

( With input Ians )

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

coronavirus
X