Saturday, April 13, 2024
Advertisement

गाजा पर इजरायली हमले में 195 फिलिस्तीनियों और 2 हमास कमांडरों के मारे जाने का दावा, मिस्र ने खोला बॉर्डर

इजरायल के जबरदस्त हवाई हमले में गाजा के शरणार्थी शिविरों पर भी गाज गिरी है। हमास की ओर से दावा किया गया है कि इजरायल के हवाई हमले में कम से कम 195 फिलिस्तीनी नागरिक मारे गए हैं और 120 से ज्यादा मलबे के नीचे दबे हैं। साथ ही 777 लोगों के घायल होने की बात कही गई है।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Updated on: November 02, 2023 8:57 IST
गाजा पर इजरायली हमले का एक दृश्य।- India TV Hindi
Image Source : AP गाजा पर इजरायली हमले का एक दृश्य।

गाजा के शरणार्थी शिविर पर इजरायली हमले में 195 फिलिस्तीनियों और हमास के 2 कमांडरों मारे जाने का दावा किया गया है। इस वजह से अधिकांश विदेशी नागरिक गुरुवार को गाजा पट्टी को छोड़ने के लिए तैयार हो गए। हमास द्वारा इजरायली हमले में 195 फिलिस्तीनियों की मौत होने का दावा किए जाने के बाद संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार अधिकारियों ने इसे युद्ध अपराध करार दिया है। इसके बाद 500 की प्रारंभिक सूची में कम से कम 320 विदेशी नागरिक, साथ ही दर्जनों गंभीर रूप से घायल गज़ावासी, इज़राइल, मिस्र और हमास के बीच एक समझौते के तहत बुधवार को मिस्र में प्रवेश कर गए।

गाजा छोड़ने वाले विदेशियों में ज्यादातर ऑस्ट्रेलिया, ऑस्ट्रिया, बुल्गारिया, चेक गणराज्य, फिनलैंड, इंडोनेशिया, इटली, जापान, जॉर्डन, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका के पासपोर्ट धारक शामिल थे। गाजा सीमा अधिकारियों ने कहा कि बॉर्डर गुरुवार को फिर से खुल जाएगा। ताकि अधिक विदेशी बाहर निकल सकें। एक राजनयिक सूत्र ने कहा कि लगभग 7,500 विदेशी पासपोर्ट धारक लगभग दो सप्ताह में गाजा छोड़ देंगे। 

हमास के हमले का दंश भुगत रहे फिलिस्तीनी

बीते 7 अक्टूबर को दक्षिणी इज़राइल में हमास आतंकियों ने एक साथ 5000 रॉकेट से हमला किया था। सीमा पार से हुई हिंसा के बाद इजरायल ने इस्लामिक समूह को खत्म करने के अपने अभियान में हमास के आतंकवादियों के खिलाफ आक्रामक कार्रवाई शुरू कर दी। गाजा में जमीन, समुद्र और हवा से बमबारी का सिलसिला जारी है। इज़राइल ने कहा कि हमास ने हमारा 1,400 लोगों को मार डाला, जिनमें ज्यादातर नागरिक थे। और 200 से अधिक लोगों को बंधक बना लिया। फिलिस्तीनी रेड क्रिसेंट ने कहा कि घनी आबादी वाले गाजा शहर में अल-कुद्स अस्पताल के आसपास गुरुवार तड़के जोरदार विस्फोटों की आवाज सुनी गई। इज़रायली अधिकारियों ने पहले ही अस्पताल को तुरंत खाली करने की चेतावनी दी थी, जिसे संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों ने कहा है कि मरीजों को खतरे में डाले बिना ऐसा करना असंभव है।

हमास के 2 कमांडरों की मौत

इजरायल का कहना है कि ने कहा कि मंगलवार और बुधवार को उसके हमलों में गाजा के सबसे बड़े शरणार्थी शिविर जबालिया में हमास के दो सैन्य कमांडर मारे गए। इसके साथ ही हमास समूह के पास नागरिक भवनों के नीचे, आसपास और भीतर कमांड सेंटर और अन्य आतंकवादी बुनियादी ढांचे थे बनाए गए थे, जो जानबूझकर गाजा के नागरिकों को खतरे में डाल रहे थे। उन सभी को इजरायली हमले में नष्ट कर दिया गया है। गाजा में  हमास द्वारा संचालित सरकारी मीडिया कार्यालय ने गुरुवार को कहा कि जबालिया पर दो इजरायली हमलों में कम से कम 195 फिलिस्तीनी मारे गए, जबकि 120 अभी भी मलबे के नीचे लापता हैं। साथ ही कम से कम 777 लोगों के घायल होने की बात कही गई है। 

यह भी पढ़ें

इजरायल-हमास युद्ध में फिलिस्तीन के समर्थन में आए किम जोंग उन बना रहे खतरनाक प्लान, इस देश ने दी खुफिया रिपोर्ट

दुनिया में सबसे प्रदूषितों की सूची में टॉप पर पहुंचा पड़ोसी मुल्क का ये शहर, सरकार ने लगाई इमरजेंसी

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement