चीन को लेकर न्यूजीलैंड की PM जैसिंडा ने कह दी ऐसी बात, जिनपिंग को लग जाएगी मिर्ची

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने चीन को लेकर ऐसा बयान दिया है कि चीन के पसीने छूट गए हैं। जैसिंडा अर्डर्न ने राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर कई गंभीर आरोप भी लगाए।

Ravi Prashant Edited By: Ravi Prashant @iamraviprashant
Updated on: December 09, 2022 10:50 IST
जैसिंडा अर्डर्न - India TV Hindi
Image Source : AP जैसिंडा अर्डर्न

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने चीन को लेकर बड़ा बयान दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले पांच साल के कार्यकाल पर नजर डालें तो निस्संदेह चीन के तेवर पहले से ज्यादा आक्रामक हो गए हैं। उन्होंने यह भी आगाह किया कि चीन छोटे प्रशांत देशों के साथ संबंध बनाने के लिए लगा है। इसके अलावा दूसरे पर हावी होने का प्रयास भी कर रहा है। प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि राष्ट्रपति शी जिनपिंग के नेतृत्व में चीन हाल के वर्षों में पूरी तरह से बदल गया है।

चीन पहले से काफी आक्रमक हुआ

उन्होंने आगे कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यदि मैं आसपास या दूर के इलाके पर नजर डालू तो चीन काफी आक्रमक होते दिखाई देता है। अर्डर्न ने आगे कहा कि ‘‘इसके कई कारण होंगे। क्षेत्रीय अर्थव्यवस्था में उसका एकीकरण, चीन का विकास, उसके मध्यम वर्ग का विकास ऐसे कारणों की एक पूरी लिस्ट है।’’

चीन ने इन क्षेत्रों में साहसिक कदम उठाए 
उन्होंने आगे कहा कि कई अलग-अलग मुद्दों और संबंधों पर अधिक मुखर दृष्टिकोण देखा है। चीन ने इस वर्ष प्रशांत क्षेत्र में कुछ साहसिक भू-राजनीतिक कदम उठाए। उसने सोलोमन द्वीप समूह के साथ एक सुरक्षा समझौते पर हस्ताक्षर किया। इसके बाद सुरक्षा से लेकर मत्स्य पालन तक सभी क्षेत्रों को समेटने वाले व्यापक समझौते पर 10 प्रशांत देशों से हस्ताक्षर कराने का लगातार प्रयास में लगा रहा लेकिन सफल नहीं हुआ।

चीन से परेशान ये देश 
चीन के इन कदमों से अमेरिका समेत पश्चिमी देश परेशान देखे जा सकते हैं। वहीं अर्डर्न ने इस आलोचना को भी खारिज कर दिया कि न्यूजीलैंड ने इस साल पर्याप्त उपस्थिति दर्ज नहीं कर पाई है। अर्डर्न ने कहा, "प्रशांत क्षेत्र हमारे घर जैसा है क्योंकि हम एक परिवार की तरह हैं, हम प्रशांत का हिस्सा हैं।"’ उन्होंने कहा कि ये संबंध सामुदायिक स्तर पर बनाए गए हैं। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन