Thursday, July 25, 2024
Advertisement

जेल से बाहर आने के लिए झुके इमरान खान, पाकिस्तान सरकार से बातचीत को हुए राजी

पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान आखिरकार जेल में लंबे समय तक रहने के बाद सरकार के सामने झुकने को तैयार हो गए हैं। कहा जा रहा है कि इमरान ने पाकिस्तान सरकार के साथ बातचीत के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। जबकि इससे पहले वह बातचीत से इनकार कर चुके थे।

Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: June 12, 2024 19:27 IST
इमरान खान, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री। - India TV Hindi
Image Source : AP इमरान खान, पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री।

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान जेल से बाहर आने के लिए अपने वसूलों से पीछे हट गए हैं। पाकिस्तान सरकार के आगे इमरान खान अब झुकने को तैयार हो गए हैं। यानि अब इमरान खान ने अपने पुराने रुख से पीछे हटते हुए मौजूदा राजनीतिक तनाव को कम करने के लिए सरकार से बातचीत के लिए हरी झंडी दे दी है। इससे पहले उन्होंने सत्ताधारी गठबंधन के साथ बातचीत से इनकार कर दिया था। जेल में बंद इमरान का विचार उस समय बदला जब देश के भ्रष्टाचार कानूनों में बदलाव के मामले की सुनवाई के दौरान उच्चतम न्यायालय ने कहा कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी को सरकार से बातचीत शुरू करनी चाहिए और संसद में बातचीत के जरिए अपने मुद्दों को सुलझाना चाहिए।

पीटीआई इमरान की पार्टी है। इमरान अभी अडियाला जेल में बंद हैं। पीटीआई नेता गौहर अली खान ने जेल के बाहर पत्रकारों से बातचीत करते हुए मंगलवार को कहा कि इमरान खान ने सरकार से बातचीत के लिए हरी झंडी दे दी है। उन्होंने कहा कि पार्टी शुरू में अपने सहयोगियों को विश्वास में लेगी, लेकिन इस मुद्दे पर अकेले भी आगे बढ़ सकती है। गौहर ने कहा, "हमने पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के संस्थापक (इमरान) से कहा कि बातचीत जरूरी है, क्योंकि दूरियां बढ़ रही हैं। वह इस पर हमसे सहमत थे।"

इमरान चाहते हैं बातचीत के रास्ते खुलें

गौहर के अनुसार, इमरान खान (71) चाहते हैं कि बातचीत के रास्ते खुलें। जियो टीवी ने गौहर के हवाले से कहा, "पीटीआई संस्थापक ने कई बार कहा है कि उनके साथ जो हुआ, वह उसे माफ करने के लिए तैयार हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या बातचीत उच्चतम न्यायालय की सलाह के तहत होगी, गौहर ने कहा: "उच्चतम न्यायालय द्वारा दिए गए विकल्प पर भी विचार किया जा रहा है।" हालांकि उन्होंने जोर दिया कि बातचीत करना पीटीआई का "अपना निर्णय" है। गौहर ने कहा कि पार्टी पख्तूनख्वा मिल्ली अवामी पार्टी के प्रमुख महमूद खान अचकजई से बातचीत के बाद अपनी चर्चा शुरू करेगी। उन्होंने कहा कि अचकजई और अन्य दलों के साथ गठबंधन है और उनकी पार्टी उन्हें विश्वास में लेगी। पार्टी प्रमुख ने कहा, "गठबंधन स्तर पर भी बातचीत हो सकती है। पीटीआई खुद भी पहल कर सकती है। (भाषा) 

यह भी पढ़ें

यूक्रेन को फिर से मिल रही पश्चिमी हथियारों की खेप के बीच पुतिन जाएंगे उत्तर कोरिया, किम जोंग क्या देंगे उपहार?


बांग्लादेश के नोबेल पुरस्कार विजेता मुहम्मद यूनुस और अन्य पर तय हुए गबन के आरोप, जानें पूरा मामला
 

 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement