Friday, July 19, 2024
Advertisement

नीट पेपर लीक मामले में बिहार पुलिस की बड़ी कार्रवाई, झारखंड के देवघर से 6 लोगों को हिरासत में लिया

बिहार पुलिस ने NEET पेपर लीक केस में झारखंड के देवघर जिले से छह लोगों को हिरासत में लिया है। देवघर पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सभी लोगों को बिहार ले जाया गया है।

Edited By: Akash Mishra @Akash25100607
Updated on: June 22, 2024 18:41 IST
नीट पेपर लीक मामले में बिहार पुलिस ने झारखंड के देवघर से 6 लोगों को हिरासत में लिया- India TV Hindi
Image Source : PEXELS नीट पेपर लीक मामले में बिहार पुलिस ने झारखंड के देवघर से 6 लोगों को हिरासत में लिया

नीट पेपर लीक मामले में बिहार पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। बिहार पुलिस ने झारखंड के देवघर जिले से 6 लोगों को हिरासत में लिया है। एक अधिकारी ने बताया कि मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET में कथित अनियमितताओं के मामले में झारखंड के जनपद देवघर से छह लोगों को हिरासत में लिया है। उन्होंने बताया कि उन्हें शुक्रवार रात देवीपुर थाना क्षेत्र में एम्स-देवघर के पास एक घर से हिरासत में लिया गया।

'सभी संदिग्धों को बिहार ले जाया गया'

एसडीपीओ (देवघर सदर) ऋत्विक श्रीवास्तव ने बताया, "बिहार पुलिस ने हमें सूचना दी थी। हमारी पहचान के आधार पर उन्हें हिरासत में ले लिया गया। सभी संदिग्धों को बिहार ले जाया गया है।" उन्होंने बताया कि संदिग्ध कथित तौर पर झुनू सिंह नामक व्यक्ति के घर पर रह रहे थे।

देवघर पुलिस द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, उनकी पहचान परमजीत सिंह उर्फ ​​बिट्टू, चिंटू उर्फ ​​बलदेव कुमार, काजू उर्फ ​​प्रशांत कुमार, अजीत कुमार, राजीव कुमार उर्फ ​​कारू (सभी बिहार के नालंदा जिले के निवासी) और पंकू कुमार के रूप में हुई है।

मामले में अब तक कुल 13 आरोपी हो चुके हैं गिरफ्तार 

बिहार के अलावा भी कई राज्यों से आरोपी पकड़े गए हैं। बिहार के रोहतास जिले से एक चौथी पास ट्रैक्टर चालक को भी गिरफ्तार किया गया है। पुलिस इस मामले में कुल 13 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। इनमें 38 वर्षीय बिट्टू सिंह भी शामिल है। चौथी पास बिट्टू सिंह पहले ट्रैक्टर चलाता था, लेकिन बाद में सिकंदर यादुवेंद्र का निजी ड्राइवर बन गया। सिकंदर का इस पेपर लीक में बेहद अहम रोल था। इसी वजह से बिट्टू को भी गिरफ्तार किया गया है।

बता दें कि  एनटीए ने 5 मई को नीट-यूजी का आयोजन किया था, जिसमें करीब 24 लाख उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया था। इसके नतीजे 4 जून को घोषित किए गए, लेकिन उसके बाद से ही ये विवादों के घेरे में बना हुआ है। इस परीक्षा में प्रश्नपत्र लीक होने के अलावा अन्य अनियमितताओं के आरोप भी लगे हैं।

ये भी पढ़ें- 

 

Latest Education News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें एजुकेशन सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement