1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. एजुकेशन
  4. परीक्षा
  5. NEET UG 2021: साल में दो बार होनी चाहिए नीट परीक्षा- टॉपर मृणाल कुटेरी

NEET UG 2021: साल में दो बार होनी चाहिए नीट परीक्षा- टॉपर मृणाल कुटेरी

परीक्षा की तैयारियों को किए गए सवाल पर मृणाल कुटेरी ने बताया कि उन्होंने इसके लिए कोई विशेष स्ट्रैटजी नहीं बनाई बल्कि विषयों के प्रति उनका प्यार और चिकित्सा पेशे में आने की प्रेरणा ने उन्हें ये मुकाम दिलवाया।

अर्नब मित्रा अर्नब मित्रा
Updated on: November 02, 2021 8:09 IST
NEET UG 2021 Topper Mrinal Kutteri reveals his preparation plan NEET UG 2021: साल में दो बार होनी चा- India TV Hindi
Image Source : SPECIAL ARRANGEMENTS UG 2021: साल में दो बार होनी चाहिए नीट-यूजी परीक्षा- टॉपर मृणाल कुटेरी

नई दिल्ली. मेडिकल प्रवेश परीक्षा (NEET-UG 2021) के परिणाम सोमवार को घोषित कर दिए गए और इसमें तीन छात्रों ने शीर्ष रैंक हासिल की है। इस परीक्षा में तेलंगाना के मृणाल कुटेरी, दिल्ली के तन्मय गुप्ता और महाराष्ट्र की कार्तिका जी नायर ने शत-प्रतिशत अंक हासिल कर शीर्ष स्थान साझा किया। मृणाल कुटेरी ने इंडिया टीवी के संवाददाता अर्नब मित्रा से बातचीत में कहा कि NEET परीक्षा दो बार होनी चाहिए। पता नहीं क्यों परीक्षा आयोजित करने वाली एजेंसी एनटीए मेडिकल उम्मीदवारों को दूसरा मौका देने को तैयार नहीं है।

परीक्षा की तैयारियों को किए गए सवाल पर मृणाल कुटेरी ने बताया कि उन्होंने इसके लिए कोई विशेष स्ट्रैटजी नहीं बनाई बल्कि विषयों के प्रति उनका प्यार और चिकित्सा पेशे में आने की प्रेरणा ने उन्हें ये मुकाम दिलवाया। मृणाल कुटेरी ने बताया, "मैंने केवल NCERT और आकाश स्टडी मटीरियल फॉलो किया। NCERT की किताबों ने जीव विज्ञान और रसायन शास्त्र दोनों ही पेपर में मेरी मदद की, जबकि भौतिकी के लिए मैंने आकाश के स्टडी मेटीरियल को फॉलो किया। मैंने बहुत सारे मॉक टेस्ट का भी प्रयास किया जिससे मुझे पेपर और टेस्ट सीरीज़ से परिचित होने में मदद मिली।"

कोविड ने तैयारियों पर नहीं डाला कोई प्रभाव

NEET परीक्षा की तैयारियों के दौरान कोविड-19 की लहर ने मृणाल की तैयारियों पर कोई खास प्रभाव नहीं डाला। मृणाल ने बताया, "ऑफलाइन अध्ययन ऑनलाइन की तुलना में थोड़ा टाइम टेकिंग है। ऑनलाइन क्लासेज में आप फीजिकल क्लासेज के बाद का समय डिजिटल लर्निंग के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। इसलिए मैंने महामारी के समय का उपयोग NEET की तैयारी के लिए किया।" मृणाल अब एम्स दिल्ली से एमबीबीएस करेंगे और भविष्य में सर्जन बनने की इच्छा रखते हैं। टॉपर ने कहा, "मैं सेना का डॉक्टर बनना चाहता था, लेकिन अब मैं एक फुल टाइम डॉक्टर बनना चाहता हूं। मैं एमबीबीएस पूरा करने के बाद सर्जन बनना चाहता हूं।"

bigg boss 15