1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. Tokyo Olympics 2020: कुश्ती के फाइनल में पहुंचे रवि दहिया, रणदीप हुड्डा सहित कई सितारों ने सोशल मीडिया पर दी बधाई

Tokyo Olympics 2020: कुश्ती के फाइनल में पहुंचे रवि दहिया, रणदीप हुड्डा सहित कई सितारों ने सोशल मीडिया पर दी बधाई

पहलवान रवि कुमार दहिया ने टोक्यो ओलंपिक में मेडल पक्का कर लिया है। रणदीप हुड्डा सहित कई सितारों ने सोशल मीडिया पर उन्हें बधाई दिया है।

India TV Entertainment Desk India TV Entertainment Desk
Published on: August 04, 2021 18:25 IST
ravi dahiya - India TV Hindi
Image Source : TWITTER/@RANDEEPHOODA रवि दहिया 

भारतीय पहलवान रवि कुमार दहिया ने टोक्यो ओलंपिक में भारत का चौथा मेडल पक्का कर दिया है। उन्होंने कुश्ती स्पर्धा के पुरूषों की फ्रीस्टाइल 57 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में कजाखस्तान के सानायेव नूरीस्लाम को हराकर टोक्यो ओलंपिक के फाइनल में अपनी जगह बनाई है। रवि की इस शानदार सफलता पर बॉलीवुड सितारों ने सोशल मीडिया पर अपनी खुशी जाहिर की है। 

मॉडर्न फेयरीटेल 'सिंड्रेला' का ट्रेलर हुआ रिलीज़, अमेज़न प्राइम पर किया जाएगा स्ट्रीम

रणदीप हुड्डा ने रवि कुमार दहिया की फोटो को शेयर कर लिखा-"अररर्र यो गाड़या लठ !!! रवि दहिया मेडल पक्का।" रणदीप हुड्डा ने इस ट्वीट के साथ ही #RaviDahiya #Wrestling #Olympics #GoForGold जैसे हैशटैग का भी उपयोग किया। रणदीप हुड्डा के इस ट्वीट पर जमकर रिएक्शन आ रहे हैं। 

रणदीप हुड्डा ने इससे पहले एक ट्वीट में लिखा-"लठ बजने शुरू हो गए हैं। नीरज चोपड़ा, रवि दहिया, दीपक पुनिया, बजरंग पुनिया एंड कम्पनी।" बता दें कि रवि कुमार दहिया के फाइनल में पहुंचने के साथ ही अब उनकी नजरें गोल्ड पर हैं।

विवेक दहिया का ट्वीट- 

गुरमीत चौधरी का ट्वीट-

बता दें कि रवि दहिया ने 2019 में कजाखिस्तान के नूर सुल्तान में हुई वर्ल्ड रेसलिंग चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था। 5 फीट 7 इंच की लंबाई वाले दहिया अपनी कैटेगरी में सबसे लंबे पहलवानों में से एक हैं। 1997 में रवि दहिया का जन्म हरियाणा के सोनीपत जिले के नहरी गांव में हुआ था। उनके पिता एक किसान थे, लेकिन उसके पास अपनी जमीन तक नहीं थी। 

रवि दहिया को पहलवान बनाने में उनके पिता का बहुत बड़ा हाथ है। आर्थिक तंगी होने के बावजूद उन्होंने अपने बेटे की ट्रेनिंग में कोई कसर नहीं छोड़ी। उनके पिता राकेश हर रोज अपने गांव से छत्रसाल स्टेडियम तक की 40 किलोमीटर की दूरी तय कर रवि तक दूध और फल पहुंचाते थे। हालांकि, जब रवि ने 2019 में वर्ल्ड चैम्पियनशिप में ब्रॉन्ज जीता था, तब भी उनके पिता उनके इस मैच को नहीं देख सके थे। क्योंकि वह उस वक्त भी अपना काम कर रहे थे, ताकि रवि को अपने सपने पूरे करने में कोई दिक्कत न हो। 

पढ़ें अन्य खबरें- 

मंदिरा बेदी की तरह फिट रहना जानती हैं बेटी तारा, प्यारी सी मुस्कान के साथ दिखा फिट लुक

सोनू सूद के नए सॉन्ग 'साथ क्या निभाओगे' का फर्स्ट लुक हुआ आउट, निधि अग्रवाल के साथ दिखे एक्टर

बॉलीवुड से दूर होकर यहां NGO चला रही हैं सोमी अली, जानिए उनकी फिटनेस का राज

Click Mania