1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. सर्दियों में हार्ट अटैक का खतरा अधिक, स्वामी रामदेव से जानिए कैसे रखें दिल का ख्याल?

सर्दियों में हार्ट अटैक का खतरा अधिक, स्वामी रामदेव से जानिए कैसे रखें दिल का ख्याल?

सर्दियों में हार्ट अटैक के 53% मामले सुबह के हैं। स्वामी रामदेव से जानिए दिल को हेल्दी रखने के लिए कौन से योगासन, प्राणायाम और डाइट प्लान है कारगर।

India TV Health Desk India TV Health Desk
Published on: October 18, 2021 10:06 IST
How to care your heart in winters - India TV Hindi
Image Source : INDIA TV How to care your heart in winters 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की ताज़ा रिपोर्ट में के अनुसार ज्यादातर लोग रोज़ फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते और जो लोग फिजिकल एक्टिविटी करते भी हैं वो रेग्युलर नहीं हैं और ना ही उनका एक्सरसाइज का तरीका सही है।

इस रिपोर्ट में साफ जिक्र है कि अगर लोग फिजिकली एक्टिव हो तो हर साल ग्लोबली 50 लाख मौत टाली जा सकती है। WHO की इस रिपोर्ट के मुताबिक. 10-19 साल के युवा जिनसे सबसे ज्यादा एक्टिव रहने की उम्मीद की जाती है उनमें  से 5 में 4 इनएक्टिव हैं। वहीं पुरुषों  के मुकाबले महिलाएं एक्सरसाइज के मामल में 8 प्रतिशत पीछे हैं। 

दरअसल खराबलाइफ स्टाइल, ज्यादा देर तक जागना, सुबह देर से उठना हैं और फिर उनके पास वर्कआउट के लिए वक्त ही नहीं निकाल पाने के कारण कई बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। वहीं दूसरी ओर सर्दी भी धीरे-धीरे दस्तकर दे रही हैं। 

नसों में उलझन और मसल्स में ऐंठन से हैं परेशान? स्वामी रामदेव से जानिए वैरिकोज का यौगिक-आयुर्वेदिक उपचार 

ठंड के मौसम में दिल का ख़्याल रखना बहुत ज़रूरी  है। रिसर्च बताती है कि ठंड में दिल का दौरा पड़ने के चांसेज बढ़ जाते हैं। खास तौर पर सुबह के वक्त क्योंकि उस वक्त ब्लड वेसल सिकुड़ जाते हैं, जिसका असर हार्ट को ब्लड सप्लाई करने वाली धमनियों पर पड़ता है।

सर्दियों में हार्ट अटैक के 53% मामले सुबह के हैं। गर्मियों के मुकाबले सर्दियों में हार्ट अटैक से होने वाली डेथ भी 26-36% तक बढ़ जाती हैं। लेकिन इस समस्या से घबराने की जरुरत नहीं है। बल्कि बदलते मौसम में दिल को हेल्दी रखने के लिए स्वामी रामदेव से जानिए कारगर उपाय। 

Heart ATTACK cAUSES

Image Source : INDIA TV
Heart ATTACK cAUSES

हार्ट अटैक की वजह 

  1. स्ट्रेस 
  2. एंग्जायटी 
  3. स्मोकिंग
  4. हाई कोलेस्ट्रॉल 
  5. मोटापा 
  6. डायबिटीज
  7. नींद की कमी 
  8. हाई ब्लड प्रेशर 

हार्ट डिजीज के लक्षण

  1. तेज हार्ट बीट
  2. सीने में दर्द
  3. सांस लेने में तकलीफ
  4. कमजोरी
  5. तेज दिल की धड़कन
  6. हाथ-पैर ठंडा पड़ जाना
  7. असामान्य धड़कन

प्रदूषण से बचाव के लिए फेफड़ों को कैसे बनाएं फौलादी? स्वामी रामदेव से जानें योगासन और आयुर्वेदिक उपचार

दिल को हेल्दी रखने के लिए योगासन

यौगिक जॉगिंग

  • इम्यूनिटी होगी मजबूत
  • फेफड़ों को ज्यादा ऑक्सीजन बढ़ाए
  • शरीर को फिट बनाए
  • ऊर्जावान बनाए

सूर्य नमस्कार

  • फेफड़ों में ज्यादा ऑक्सीजन पहुंचाए
  • माइग्रेन, सिरदर्द में लाभकारी
  • शरीर को ऊर्जा मिलती है
  • वजन बढ़ाने में कारगर
  • एनर्जी लेवल बढ़ाए

सूक्ष्म व्यायाम

  • बॉडी को करे एक्टिव
  • स्फूर्ति का संचार करे
  • पूरे शरीर को स्ट्रेच करे
  • सिरदर्द में फायदेमंद
  • अस्थमा, अर्थराइटिस, सर्वाइकल में कारगर

मंडूकासन

  • वजन घटाने के करे कम
  • हाईजेशन को सही रखें 
  • गैस और कब्ज की समस्या में लाभकारी
  • सिरदर्द  में फायदेमंद
  • लिवर, किडनी के लिए लाभकारी
  • डायबिटीज को करे कंट्रोल

शशकासन

  • लिवर, किडनी रोगों में कारगर
  • पाचन तंत्र को रखे ठीक
  • मानसिक रोगों से दिलाए मुक्ति
  • मोटापा कम करने में करे मदद
  • क्रोध, चिड़चिड़ापन को करे दूर

वक्रासन

  • शरीर में ऑक्सीजन की कमी करे पूरी
  • शरीर की इम्यूनिटी को करें मजबूत
  • पेट की हर बीमारी से दिलाए छुटकारा
  • पाचन क्रिया को रखें ठीक

गोमुखासन

  • पीठ, बाहों को मजबूत करे
  • रीढ़ की हड्डी को करे मजबूत 
  • थकान, तनाव को करे कम
  • सर्वाइकल के दर्द में कारगर
  • फेफड़ों के लिए फयदेमंद

उत्तानकुर्मासन

इस आसन के लिए वज्रासन में बैठ जाए और दाए हाथ से बाए कंधों के नीचे रखें। इसी तरह बाए हाथ से दाएं कंधों को छुएं। 

पवनमुक्तासन

  • फेफड़ों को रखें हेल्दी औऱ मजबूत
  • ब्लड प्रेशर को करे नॉर्मल
  • किडनी को रखे हेल्दी
  • पेट की चर्बी करे कम
  • एसिडिटी में कारगर

उत्तापादासन

  • बदलते मौसम में रोगों से करे बचाव
  • पेट और पैर के मसल्स को बनाए मजबूत
  • शरीर को सुंदर औस सुडौल बनाए
  • मोटापा कम करने में सहायक

नौकासन

  • पाचन शक्ति को रखें ठीक
  • वजन कम करने में करे मदद
  • शरीर का करे खिंचाव
  • सिरदर्द से दिलाए निजात
  • जोड़ों के दर्द को करे कम

सेतुबंधासन

  • साइनस, अस्थमा में कारगर
  • तनाव में फायदेमंजद
  • पीठ और सिरदर्द में कारगर
  • अनिद्रा में लाभकारी
  • पैरों को रखें मजबूत

मर्कटासन

  • पीठ दर्द में लाभकारी
  • गैस और कब्ज में फायदेमंद
  • सर्वाइकल में लाभकारी
  • गुर्दे, अग्नाश्य में लाभकारी

हेल्दी हार्ट के लिए प्राणायाम

भस्त्रिका
इस प्राणायाम को 3 तरह से किया जाता है। पहले में 5 सेकंड में सांस ले और 5 सेकंड में सांस छोड़े। दूसरे में ढाई सेकंड सांस लें और ढाई सेकंड में छोड़ें। तीसरा तेजी के साथ सांस लें और छोड़े।  इस प्राणायाम को लगातार 5  मिनट करें।

कपालभाति
इस प्राणायाम को 5 से 10  मिनट करें। हर 5 मिनट के बाद 1 मिनट आराम करें। कफ , सर्दी, जुकाम, अस्थमा, ब्रोंकाइटिस, कैंसर, टीबी,  हाइपरटेंशन, अस्थमा, खून की कमी, बीपी, हार्ट के ब्लॉकेज सहित कई बीमारियों से दिलाएं निजात।

अनुलोम-विलोम
सबसे पहले पद्मासन की मुद्रा में बैठ जाएं। अब दाएं हाथ की अनामिका और सबसे छोटी उंगली को मिलाकर बाएं नाक पर रखें और अंगूठे को दाएं वाले नाक पर लगा लें। तर्जनी और मध्यमा को मिलाकर मोड़ लें।अब बाएं नाक की ओर से सांस भरें और उसे अनामिका और सबसे छोटी उंगली को मिलाकर बंद कर लें। इसके बाद दाएं नाक की ओर से अंगूठे को हटाकर सांस बाहर निकाल दें। इस आसन को 5 मिनट से लेकर आधा घंटा कर सकते हैं।

भ्रामरी प्राणायाम
इस प्राणायाम को करने के लिए पहले सुखासन या पद्मासन की अवस्था में बैठ जाएं। अब अंदर गहरी सांस भरते हैं। सांस भरकर पहले अपनी अंगूलियों को ललाट में रखते हैं। जिसमें 3 अंगुलियों से आंखों को बंद करते हैं। अंगूठे से कान को बंद कते हैं। मुंह को बंदकर 'ऊं' का नाद करते हैं। इस प्राणायाम को 3-21 बार किया जा सकता है। 

हार्ट होगा मजबूत बस करें इस काढ़ा का सेवन

  1. 1 चम्मच अर्जुन की छाल , 2 ग्राम दालचीनी , 5 तुलसी को 400 एमएम पानी में उबाल लें। जब पानी 100  ग्राम रह जाए तो इसे छान लें और गुनगुना सेवन करें। 
  2. हरड़ का उपयोग हार्ट,र्गैस्टिक में फायदेमंद
  3. शहद दिल को मजबूत बनाता है
  4. अलसी हार्ट के लिए फायदेमंद
  5. सेब का जूस और आंवला से हार्ट मजबूत
  6. बादाम खाने से हार्ट मजबूत होता है
  7. जामुन, सेब का सिरका भी फायदेमंद
  8. 100-100 ग्राम अदरक, प्याज, लहसुन, हल्दी, नींबू लेकर अच्छी तरह से पका लें। जब ये आधा बच जाए तो इसे किसी बर्तन में छान लें। इसके बाद बराबर मात्रा में शहद मिला लें। रोजाना सुबह-शाम 2-2 चम्मच इसका सेवन करे। 

क्या खाएं 

  1. नाश्ते में अंकुरित खाएं
  2. मल्टीग्रेन दलिया जरूर खाएं
  3. लौकी , गाजर का जूस जरूर लें 
  4. ज्यादा फैट वाले खाने से दूर रहें 
  5. दूध, दही, छाछ जरूर लें 
  6. रात में अनाज न खाएं तो बेहतर 

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सुझाव केवल सामान्य जानकारी के उद्देश्य से हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी फिटनेस व्यवस्था या चिकित्सकीय सलाह शुरू करने से पहले कृपया डॉक्टर से सलाह लें। 

 

bigg boss 15