1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. किसान बेचेंगे 100 रुपये लीटर दूध, कृषि कानूनों और पेट्रोल-डीजल के दाम के विरोध में खाप पंचायत का फैसला

किसान बेचेंगे 100 रुपये लीटर दूध, कृषि कानूनों और पेट्रोल-डीजल के दाम के विरोध में खाप पंचायत का फैसला

हिसार में एक खाप पंचायत ने शनिवार को तय किया कि वो कृषि कानूनों और बढ़े हुए पेट्रोल-डीजल और गैस के दाम के विरोध में दूध के दाम में बढ़ोतरी करेंगे। पंचायत के प्रवाक्ता ने कहा कि हमने 100 / लीटर की कीमत पर दूध देने का फैसला किया है। हम डेयरी किसानों से सरकारी सहकारी समितियों को समान मूल्य पर दूध बेचने का आग्रह करते हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: February 28, 2021 10:47 IST

हिसार. देश का राजधानी नई दिल्ली की सीमाओं पर जारी किसान संगठनों के आंदोलन के बीच हरियाणा की एक खाप पंचायत ने बड़ा फैसला लिया है। हिसार में एक खाप पंचायत ने शनिवार को तय किया कि वो कृषि कानूनों और बढ़े हुए पेट्रोल-डीजल और गैस के दाम के विरोध में दूध के दाम में बढ़ोतरी करेंगे। पंचायत के प्रवाक्ता ने कहा कि हमने 100 / लीटर की कीमत पर दूध देने का फैसला किया है। हम डेयरी किसानों से सरकारी सहकारी समितियों को समान मूल्य पर दूध बेचने का आग्रह करते हैं।

पढ़ें- CCTV: दिल्ली में दो साल के बच्चे को गोद में ला रही महिला से चैन स्नैचिंग, गले में मारे चाकू, मौत

पढ़ें- दिल्ली: MCD का सेमीफाइनल! AAP,BJP और कांग्रेस में से कौन मारेगा बाजी? मतदान जारी

उन्होंने कहा, "हमने निर्णय लिया है कि जो दूध है ये भी किसान पैदा करता है, मजदूर पैदा करता है। पेट्रोल का भाव इतना बढ़ गया और दूध का भाव 50 रुपये। आपस में जो दूध लिया-दिया जाएगा, वो उसी रेट में दिया जाएगा परंतु जो निगम हैं, जिस तरह डेरी हैं तो इनको 100 रुपये किलो से कम हम लोग किसान नहीं देंगे।" सतरोल खाप के प्रधान रामनिवास लोहान ने कहा कि हमने दूध डेरी में बंद करने का निर्णय लिया है। डेरी में जो दूध देगा वो भाई किसान नहीं है।

पढ़ें- भारतीय रेलवे ने दी गुड न्यूज, किया कई ट्रेनों का ऐलान, ये रही पूरी डिटेल
पढ़ें- भारतीय रेलवे ने लोकल पैंसेंजर्स के लिए किया छोटी दूरी की कई ट्रेनों का ऐलान, देखिए पूरी लिस्ट

केंद्रीय पेट्रोलियम और नेचुरल गैस व स्टील मंत्री धर्मेंद्र प्रदान ने 21 फरवरी को तेल के बढ़ते दाम को लेकर कहा था कि ज्यादा फायदा कमाने के लिए तेल उत्पादकों द्वारा कम तेल का उत्पादन दाम बढ़ने की एक बड़ी वजह है। उन्होंने कहा था, "ईंधन की कीमत बढ़ने के पीछे दो मुख्य कारण हैं। अंतर्राष्ट्रीय बाजार ने ईंधन उत्पादन कम कर दिया है और अधिक लाभ प्राप्त करने के लिए उत्पादक देश कम ईंधन का उत्पादन कर रहे हैं। इससे उपभोक्ता देश त्रस्त हैं।"

पढ़ें- डॉक्टर की शादी में शामिल हुए राजनाथ, 20 साल पहले ली थी उसकी पढ़ाई की जिम्मेदारी
पढ़ें- अखिलेश यादव को झटका! करीबी नेता ने छोड़ी पार्टी, पत्नी पर सपा कार्यकर्ताओं की अभद्र टिप्पणी से हुए आहत

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X