1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. IMD Alert: बर्फीली हवाओं के कारण पारा और नीचे गिरने का अनुमान, जानें मौसम का हाल

IMD Alert: बर्फीली हवाओं के कारण पारा और नीचे गिरने का अनुमान, जानें मौसम का हाल

आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि अगले दो दिन में न्यूनतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट का अनुमान है, इसलिए शीतलहर की स्थिति वापस आ सकती है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 27, 2021 23:23 IST
imd alert weather forecast cold wave new delhi uttar pradesh punjab haryana fog latest news- India TV Hindi
Image Source : PTI आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि अगले दो दिन में न्यूनतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट का अनुमान है।

नयी दिल्ली: दिल्ली के न्यूनतम तापमान में बुधवार को बढ़ोतरी हुई और यह 5.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हालांकि न्यूनतम तापमान अभी भी सामान्य से तीन डिग्री सेल्सियस कम है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी। शहर का अधिकतम तापमान 21.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मंगलवार को राष्ट्रीय राजधानी शीतलहर की चपेट में रही और न्यूनतम तापमान 2.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था जो सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस कम था। 

न्यूनतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट का अनुमान

आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि अगले दो दिन में न्यूनतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट का अनुमान है, इसलिए शीतलहर की स्थिति वापस आ सकती है। उन्होंने कहा, “मैदानी इलाकों में चल रही बर्फीली हवाओं से पारा और नीचे गिर सकता है।” 

रविवार को दर्ज किया गया इस महीने सबसे कम तापमान 
बता दें कि मैदानी इलाकों में यदि न्यूनतम तापमान गिरकर चार डिग्री सेल्सियस तक हो जाता है तो आईएमडी शीतलहर की घोषणा कर देता है। गंभीर शीतलहर की स्थिति तब होती है जब न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस या उससे कम दर्ज किया जाता है। दिल्ली में रविवार को सर्द दिन दर्ज किया गया था। उस दिन अधिकतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था जो सामान्य से छह डिग्री सेल्सियस कम था। यह इस महीने सबसे कम तापमान था।

उत्तर प्रदेश में गलन और ठिठुरन भरी सर्दी का दौर जारी
पहाड़ों से होकर आ रही बर्फीली हवा के कारण उत्तर प्रदेश के ज्यादातर इलाके गलन और ठिठुरन भरी सर्दी की चपेट में हैं और इस पूरे हफ्ते राहत की कोई उम्मीद नहीं है। आंचलिक मौसम केंद्र के निदेशक जे पी गुप्ता ने बताया की पहाड़ी इलाकों में हाल में हुई बर्फबारी के बाद वहां से होकर आ रही बर्फीली हवा की वजह से मैदानी इलाकों में गलन भरी सर्दी पड़ रही है। उन्होंने बताया कि बर्फीली हवा के अलावा कोहरे और धुंध के कारण खिली धूप नहीं निकलने की वजह से भी गलन से राहत नहीं मिल रही है। उन्होंने बताया कि ठिठुरन भरी सर्दी का यह सिलसिला इस पूरे हफ्ते जारी रहने का अनुमान है, उसके बाद कुछ राहत महसूस होगी। 

पंजाब और हरियाणा में न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे
हरियाणा और पंजाब में बुधवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया और दोनों राज्यों में आदमपुर सबसे ठंडा स्थान रहा जहां तापमान एक डिग्री सेल्सियस रहा। मौसम विभाग ने बताया कि अमृतसर में गंभीर शीतलहर की स्थिति है और तापमान 1.4 डिग्री सेल्सियस रहा। दोनों राज्यों की राजधानी चंडीगढ़ में तापमान 6.2 डिग्री सेल्सियस रहा। हरियाणा के नारनौल में दो डिग्री सेल्सियस और अंबाला में 2.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मुम्बई में सर्द सुबह
मुम्बई में न्यूनतम तापमान में गिरावट से बुधवार की सुबह सर्द रही। यहां न्यूनतम तापमान 15.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस साल का अभी तक का सबसे कम तापमान है। आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तरी हवाओं के कारण मुम्बई और महाराष्ट्र के कई हिस्सों में ठंड पड़ रही है। उन्होंने कहा, ‘‘आईएमडी ने बुधवार से न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज किए जाने का पूर्वानुमान व्यक्त किया था। मुम्बई में आज सुबह न्यूनतम तापमान 15.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस साल का अभी तक का सबसे कम तापमान है।’’ उन्होंने कहा कि उत्तरी हवाओं के कारण पूरे उत्तर भारत में तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि अगले कुछ दिनों तक ऐसी स्थिति रहने का अनुमान है।

ये भी पढ़ें

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment