1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. रेवाड़ी गैंगरेप मामला: एसपी राहुल शर्मा ने कहा, पीड़िता की सेफ्टी हमारे लिए सबसे मुख्य मुद्दा

रेवाड़ी गैंगरेप मामला: एसपी राहुल शर्मा ने कहा, पीड़िता की सेफ्टी हमारे लिए सबसे मुख्य मुद्दा

रेवाड़ी गैंगरेप मामले में एसपी राहुल शर्मा ने कहा कि पीड़िता की सेफ्टी हमारे लिए सबसे मुख्य मुद्दा है। वहीं आरोपियों की गिरफ्तारी भी हमारे लिए जरूरी है। राहुल शर्मा ने कहा कि, हम सभी सबूतों को जमा कर रहे हैं जिससे दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिलेगी।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: September 17, 2018 11:18 IST
SP rahul sharma- India TV
SP rahul sharma

चंडीगढ़: रेवाड़ी गैंगरेप मामले में एसपी राहुल शर्मा ने कहा कि पीड़िता की सेफ्टी हमारे लिए सबसे मुख्य मुद्दा है। वहीं आरोपियों की गिरफ्तारी भी हमारे लिए जरूरी है। राहुल शर्मा ने कहा कि, हम सभी सबूतों को जमा कर रहे हैं जिससे दोषियों को जल्द से जल्द सजा मिलेगी। सोमवार की सुबह रेवाड़ी एसपी पीड़िता से मिल कर घटना स्थल पर जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह पीड़िता से भी मिले है और जिस घटना स्थल पर यह हादसा हुआ वहां भी गए इसके बाद एसआईटी के साथ मीटिंग में जाएंगे। एसपी शर्मा ने कहा कि, जैसे ही इस मामले में कुछ और पता चलता है वह अपडेट देंगे।

गौरतलब है कि मामले के 3 आरोपियों की धर-पकड़ के लिए पुलिस ने रविवार को कई स्थानों पर छापे मारे। रिपोर्ट्स के मुताबिक, इनमें से एक आरोपी पुलिस की पकड़ में आ गया है। पुलिस ने उस डॉक्टर को भी गिरफ्तार किया जिसने सबसे पहले युवती की जांच की थी और उस ग्रामीण को भी पकड़ा जिसकी प्रॉपर्टी से वह पाई गई थी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि खट्टर का रविवार को पंजाब के जालंधर में कार्यक्रम था लेकिन उन्होंने अपने जालंधर दौरे को छोटा कर दिया और दोपहर में चंडीगढ़ पहुंच गए।

नूह जिले की एसपी नाजनीन भसीन ने बताया कि रेवाड़ी गैंगरेप मामले में 100 से ज्यादा लोगों से पूछताछ की गई थी। उन्होंने कहा, ‘डॉक्टर संजीव को इस मामले में शामिल पाया गया है, क्योंकि वह जानता था कि तीन लड़कों ने उस लड़की को पकड़ रखा है। वह आखिर तक प्लान में शामिल रहा और उसने किसी को कुछ नहीं बताया। अपराध में शामिल सेना के जवान को हम जल्द गिरफ्तार कर लेंगे। दीन दयाल उस ट्यूब वेल का मालिक हैं, जहां यह घटना हुई। डॉक्टर संजीव को भी अबतक इस मामले में शामिल पाया गया है। 30 घंटे के अंदर-अंदर एसआईटी ने दो लोगों (दीन दयाल और डॉक्टर संजीव) को पकड़ लिया। मुख्य आरोपी नीशू भी गिरफ्तार हो चुका है। उसे यहां लाया जा रहा है। मुख्य आरोपी नीशू ने ही पहले से प्लानिंग की थी और डॉक्टर को भी उसने ही बुलाया था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment