Saturday, July 13, 2024
Advertisement

फिर आ सकता है 2500 साल पहले जैसा विशाल भूकंप? गंगा नदी ने बदल दिया था अपना मुख्य रास्ता

प्रमुख डेल्टाओं से होकर बहने वाली अन्य नदियों की तरह, गंगा भी नियमित रूप से अपना मार्ग बदलने के लिए जानी जाती है। स्टेकलर ने कहा, नदियों को अपना मार्ग बदलने में वर्षों या दशकों का समय लग सकता है, लेकिन भूकंप लगभग तुरंत ही भूस्खलन का कारण बन सकता है।

Edited By: Mangal Yadav @MangalyYadav
Updated on: June 18, 2024 11:24 IST
सांकेतिक तस्वीर- India TV Hindi
Image Source : FILE-PTI सांकेतिक तस्वीर

नई दिल्लीः आज से लगभग 2500 साल पहले धरती पर एक शक्तिशाली भूकंप आया था। नेचर कम्युनिकेशंस पत्रिका में प्रकाशित एक नए अध्ययन के अनुसार, लगभग 2,500 साल पहले आए भूकंप के कारण गंगा नदी का मार्ग अचानक बदल गया था। उस समय भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7 और 8 के बीच थी। शोधकर्ताओं को इसके सबूत मिले हैं। इससे 14 करोड़ लोग प्रभावित हुए होंगे। 

आया रहा होगा 7-8 तीव्रता का भूकंप 

शोधकर्ताओं ने 2018 में गंगा नदी के मुख्य मार्ग के क्षेत्र की खोज करते हुए बांग्लादेश में भूकंप के परिणामस्वरूप बनी आकृतियों सीस्माइट को देखा था। उनके अनुसार, एक ही समय में कई ऐसी आकृतियां बनी थीं। यहां की रेत और कीचड़ के रासायनिक विश्लेषण से पता चला कि लगभग 2,500 साल पहले इस क्षेत्र में लगभग 7-8 तीव्रता का भूकंप आया था।

क्या कहते हैं शोधकर्ता

शोधकर्ता स्टेकलर ने कहा, "यह आसानी से किसी को भी और किसी भी चीज को गलत समय पर गलत जगह पर पहुंचा सकता था। नीदरलैंड के वैगनिंगन विश्वविद्यालय में सहायक प्रोफेसर और मुख्य लेखक एलिजावेथ एल. चेम्बरलेन के अनुसार यह अध्ययन खासकर गंगा जैसी विशाल नदी के लिए डेल्टा में उन्मूलन का पहला पुख्ता उदाहरण है। शोध दल ने उपग्रह की तस्वीरों का इस्तेमाल करते हुए बांग्लादेश की राजधानी ढाका से लगभग 100 किलोमीटर दक्षिण में गंगा नदी के पूर्व मुख्य मार्ग की खोज की। यह लगभग 1.5 किलोमीटर चौड़ा एक निचला इलाका है जो वर्तमान नदी के मार्ग के समानांतर लगभग 100 किलोमीटर तक बीच-बीच में पाया गया।

फिर आ सकता है बड़ा भूकंप

लेखकों ने कहा, एक दक्षिण और पूर्व में एक सबडक्शन क्षेत्र है, जहां समुद्री परत की एक विशाल प्लेट बांग्लादेश, म्यांमार और पूर्वोत्तर भारत के नीचे खुद को धकेल रही है। उन्होंने कहा, दूसरी संभावना यह है कि भूकंपीय झटका उत्तर में हिमालय की तलहटी में आया हुआ होगा। जो धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं क्योंकि भारतीय उपमहाद्वीप धीरे-धीरे शेष एशिया से टकरा रहा है।

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement