Friday, May 24, 2024
Advertisement

कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी ने दिया '3T' मंत्र, जानें हाई लेवल मीटिंग में क्या कहा?

देश में कोरोना की नई लहर की चुनौतियों से निपटने के लिए पीएम मोदी ने निर्देश दिए। पीएम मोदी ने कोरोना पर मौजूदा तैयारियों के बारे में जानकारी लेते हुए वैक्सीनेशन पर खास जोर देने को कहा। पीएम मोदी ने कहा कि जिला स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं दुरुस्त रखें और मिशन मोड में बच्चों के लिए वैक्सीन अभियान चलाएं।

Reported by: Devendra Parashar @DParashar17
Published on: January 09, 2022 20:35 IST
कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी ने दिया  '3T' मंत्र, जानें हाई लेवल मीटिंग में क्या कहा?- India TV Hindi
Image Source : TWITTER/@GSSJODHPUR कोरोना को हराने के लिए पीएम मोदी ने दिया  '3T' मंत्र, जानें हाई लेवल मीटिंग में क्या कहा?

Highlights

  • जिला स्तर पर कोरोना से लड़ने की तैयारी मजबूत करें- पीएम मोदी
  • पीएम मोदी ने जीनोम सीक्वेसिंग में और वैज्ञानिक रिसर्च पर जोर दिया
  • देश में ओमिक्रॉन संक्रमित की कुल संख्या 3,623 हुई

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार शाम को एक उच्च स्तरीय बैठक में वर्तमान स्थिति की समीक्षा की। पीएम मोदी ने वीडियो कांफ्रेस के माध्यम से आयोजित हुई इस बैठक में बैठक में अधिकारियों को कोरोना फैलाव रोकने के लिए 3T यानी टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रीटमेंट का मंत्र दिया। देश में कोरोना की नई लहर की चुनौतियों से निपटने के लिए पीएम मोदी ने निर्देश दिए। पीएम मोदी ने कोरोना पर मौजूदा तैयारियों के बारे में जानकारी लेते हुए वैक्सीनेशन पर खास जोर देने को कहा। पीएम मोदी ने कहा कि जिला स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं दुरुस्त रखें और मिशन मोड में बच्चों के लिए वैक्सीन अभियान चलाएं।

पीएम मोदी ने जोर देकर कहा कि जिला स्तर पर कोरोना से लड़ने की तैयारी मजबूत करें। पीएम मोदी ने टेलीमेडिसिन पर जोर देते हुए कोरोना नियमों का पालन करने को कहा है। साथ ही पीएम मोदी ने जीनोम सीक्वेसिंग में और वैज्ञानिक रिसर्च पर जोर दिया है। इस उच्च स्तरीय बैठक में केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मन‍सुख मंडाविया, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, केंद्रीय गृह सचिव, कैबिनेट सचिव और कोविड टास्‍क फोर्स के उच्‍चाधि‍कारी मौजूद रहे। 

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने पीएम मोदी की कोरोना को लेकर बैठक के बाद ट्वीट करते हुए कहा कि 'आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने आज कोरोना की तीसरी लहर के मद्देनज़र वर्चुअल मीटिंग कर वर्तमान स्थिति की समीक्षा की। वे ताजा हालात पर लगातार नज़र बनाए हुए हैं। मोदीजी ने फैलाव रोकने के लिए #3T टेस्टिंग, ट्रैकिंग और ट्रीटमेंट का मंत्र दिया था। हम सभी को भी सरकार के प्रयासों में सहयोग करना होगा। कोरोना नियमों का उल्लंघन भूल कर भी न करें।'

बता दें कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समय-समय पर कोविड-19 को लेकर बैठकें करते रहते हैं। पिछले महीने प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों को कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से सतर्क और सावधान रहने को कहा था। उन्‍होंने कहा था कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई अभी खत्म नहीं हुई है। गौरतलब है कि, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक  देश में रविवार को कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित 552 नए मामले सामने आने के बाद इससे संक्रमित मरीजों की कुल संख्या बढ़कर 3,623 हो गई है। अब तक देश के 27 राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों में कोरोना वायरस के इस वेरिएंट की दस्तक हो चुकी है। 

मंत्रालय के सुबह आठ बजे के अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1,59,632 नए मामले सामने आए, जो पिछले 224 दिन में सामने आए सर्वाधिक दैनिक मामले हैं। देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 5,90,611 हो गई है, जो करीब 197 दिन में सर्वाधिक है। देश में पिछले 24 घंटे में 327 लोगों की मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,83,790 हो गई है। ओमीक्रोन के 3,623 मामलों में से 1,409 लोग या तो देश से बाहर चले गए हैं या स्वस्थ हो गए हैं। महाराष्ट्र में ओमीक्रोन के सर्वाधिक 1,009 मामले सामने आए। इसके बाद दिल्ली में 513, कर्नाटक में 441, राजस्थान में 373, केरल में 333 और गुजरात में 204 मामले सामने आए। देश में इससे पहले पिछले साल 29 मई को संक्रमण के 1,65,553 मामले सामने आए थे। 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement