Tuesday, June 18, 2024
Advertisement

भीषण गर्मी की चपेट में उत्तर-पश्चिमी भारत, दिल्ली के नजफगढ़ में तापमान 47.4 डिग्री सेल्सियस

उत्तर और पश्चिमी भारत में एक बार फिर भीषण गर्मी कहर बरपा रही है। अगले पांच दिनों के दौरान मैदानी इलाकों में लू जारी रहने की संभावना है। दिल्ली के नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 47.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया।

Edited By: Niraj Kumar @nirajkavikumar1
Updated on: May 18, 2024 0:04 IST
गर्मी- India TV Hindi
Image Source : FILE गर्मी

नई दिल्ली: गर्मी एक बार फिर कहर बरपा रही है। उत्तर-पश्चिमी भारत के कई हिस्सों में शुक्रवार को भीषण गर्मी का प्रकोप रहा और दिल्ली के नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 47.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया, जो इस मौसम में अब तक देश में सबसे अधिक है। राजस्थान में 19, हरियाणा में 18, दिल्ली में आठ और पंजाब में दो स्थानों पर पारा 45 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया। अगले पांच दिनों के दौरान उत्तर-पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में लू जारी रहने की आशंका है। अमेरिका स्थित जलवायु वैज्ञानिकों के समूह ''क्लाइमेट सेंट्रल'' के शोधकर्ताओं ने कहा कि भारत में 54.3 करोड़ लोगों को इस अवधि के दौरान कम से कम एक दिन भीषण गर्मी का अनुभव होगा। 

नजफगढ़ और सिरसा में तापमान 47 के पार

उष्ण लहर की स्थिति तब मानी जाती है जब मैदानी इलाकों में अधिकतम तापमान कम से कम 40 डिग्री सेल्सियस, तटीय क्षेत्रों में 37 डिग्री और पहाड़ी क्षेत्रों में 30 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है और सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री सेल्सियस ज्यादा होता है। क्लाइमेट सेंट्रल में विज्ञान विभाग के उपाध्यक्ष एंड्रयू पर्सिंग ने कहा, ‘‘मानव-जनित जलवायु परिवर्तन ने इस भीषण गर्मी को और अधिक संभावित बना दिया है। रात का अधिकतम तापमान इस घटना को विशेष रूप से चिंताजनक बना देता है।’’ शुक्रवार को नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 47.4 डिग्री सेल्सियस और हरियाणा के सिरसा में 47.1 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। 

ऊना में अधिकतम पारा 43.2 डिग्री सेल्सियस

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के शाम 7:30 बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, नजफगढ़ देश का सबसे गर्म स्थान था। इससे पहले, 30 अप्रैल को गांगेय पश्चिम बंगाल क्षेत्र के कलाईकुंडा में अधिकतम तापमान 47.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। दिल्ली में मुंगेशपुर में पारा 46.5 डिग्री, आयानगर में 46.2 डिग्री, पूसा और जाफरपुर में 45.9 डिग्री, पीतमपुरा में 45.8 डिग्री और पालम में 45.1 डिग्री रहा। वहीं हिमाचल की निचली और मध्य पहाड़ियों में तापमान बढ़ा है तथा प्रदेश के ऊना में अधिकतम पारा 43.2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया जो प्रदेश का सबसे गर्म इलाका रहा। 

18 से 21 मई के लिए अलर्ट

आईएमडी ने दिल्ली के लिए अपने पूर्वानुमान में कहा है कि शनिवार को दिन के समय 25 से 35 किमी प्रति घंटे की गति से तेज सतही हवा चल सकती हैं तथा मुख्य रूप से आसमान साफ रह सकता है। आईएमडी ने चेतावनी दी कि 18-21 मई के दौरान राजस्थान, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के कुछ हिस्सों में भीषण लू की स्थिति होने के आसार हैं। शनिवार से पूर्वी और मध्य भारत में लू फिर चल सकती है। मौसम कार्यालय ने पश्चिमी राजस्थान के लिए रेड अलर्ट जारी किया, जिसमें "संवदेनशील लोगों के लिए अत्यधिक देखभाल" की आवश्यकता पर बल दिया गया। 

आईएमडी ने हरियाणा, पंजाब, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार और गुजरात के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया और शिशुओं, बुजुर्गों और पहले से बीमारियों से पीड़ित लोगों सहित संवेदनशील लोगों के लिए "उच्च स्वास्थ्य चिंता" जाहिर की। विभाग ने चेतावनी दी है कि लंबे समय तक धूप में रहने या खुले में भारी काम करने से लोगों के बीमार पड़ने की आशंका है। मौसम कार्यालय ने मई में पूर्वानुमान जताया था कि उत्तर के मैदानी इलाकों और मध्य भारत में सामान्य से ज्यादा दिन तक उष्ण लहर की स्थिति हो सकती है। (भाषा)

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement