1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. पीएम मोदी के खिलाफ की थी अभद्र टिप्पणी, हो गई यह कार्रवाई

पीएम मोदी के खिलाफ की थी अभद्र टिप्पणी, हो गई यह कार्रवाई

वाराणसी में तैनात एक अवर अभियंता को सरकारी नीतियों का विरोध करने औैर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने पर निलंबित कर दिया गया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: September 12, 2020 20:23 IST
Under engineer suspended for making inappropriate comment on PM Modi- India TV Hindi
Image Source : ANI Under engineer suspended for making inappropriate comment on PM Modi

लखनऊ: वाराणसी में तैनात एक अवर अभियंता को सरकारी नीतियों का विरोध करने औैर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र भाषा का प्रयोग करने पर निलंबित कर दिया गया है। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि वाराणसी में तैनात अवर अभियंता (यांत्रिक) नलकूप खण्ड, प्रवीण कुमार को अपने फेसबुक वाल पर प्रधानमंत्री के विरुद्ध अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने, राजनीतिक दलों के साथ फोटो साझा करने, फेसबुक पर खुद को चकिया विधानसभा के भावी विधायक के रूप में पेश करने और उत्तर प्रदेश तथा केन्द्र सरकार की नीतियों का विरोध करने पर निलंबित कर दिया गया है। 

बयान में कहा गया कि कुमार 26 अगस्त से बिना सूचना व बिना अवकाश के अनुपस्थित था। उसे मुख्य अभियन्ता, नलकूप वाराणसी तथा जिलाधिकारी वाराणसी द्वारा निलंबित करने की संस्तुति किए जाने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। कुमार निलंबन की अवधि में मेरठ कार्यालय से संबद्ध रहेगा।

सेवानिवृत्त अध्यापक की मंदिर में हत्या 

उत्तर प्रदेश के सीतापुर जिले में एक सेवानिवृत्त अध्यापक की मंदिर परिसर में धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गयी। पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह ने शनिवार को बताया कि थाना महोली के सोनारण टोला में रहने वाले सेवानिवृत्त अध्यापक कमलेश चन्द्र मिश्र (68) शुक्रवार शाम को गांव के बाहर बने मंदिर में पूजा करने गए थे। रात्रि करीब बारह बजे तक वह वापस नहीं आए तो परिजनों ने खोजबीन शुरू की। वह मंदिर के पास गिरे मिले। उनके शरीर पर धारदार हथियार के निशान थे। उन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। 

सिंह ने बताया कि परिजनों द्वारा दी गयी तहरीर के आधार पर मुकदमा पंजीकृत किया गया है । उन्होंने बताया कि अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी एवं क्षेत्राधिकारी सदर के नेतृत्व में चार टीमों का गठन कर मामले की जांच शुरू कर दी गयी है और अब तक की जांच से प्रथम दृष्टया यह पाया गया कि घटना के पीछे तंत्र-मंत्र एक कारण हो सकता है। 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि ऐसी जानकारी मिली है कि मुकेश शुक्ला नामक व्यक्ति तंत्र-मंत्र विद्या में मिश्रा का सहयोग करता था और उनसे इसकी शिक्षा भी ले रहा था। अधिकारी ने बताया कि जांच में यह भी जानकारी मिली है कि शुक्ला के सौतेले भाई प्रवीण शुक्ला को इस बात की आशंका थी कि मुकेश तंत्र-मंत्र के द्वारा उनके या उनके परिवार को कोई क्षति पहुंचा सकता है। 

उन्होंने बताया कि इसकी जानकारी मिलने के बाद मुकेश तथा उसके भाई प्रवीण को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। इस बीच, समाजवादी पार्टी ने राज्य की कानून व्यवस्था को लेकर सरकार पर हमला बोला है । पार्टी ने शनिवार को ट्वीट में कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में जंगलराज! सीतापुर में मंदिर में पूजा करने गए सेवानविृत्त शिक्षक कमलेश मिश्रा की चाकू से गोदकर निर्मम हत्या अत्यंत दुःखद! शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना। हत्यारों को गिरफ्तार कर सख़्त सज़ा दे सरकार। पीड़ित परिवार को मिले न्याय। सीएम और डीजीपी दें इस्तीफा।''

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X