1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. भुवनेश्वरी जयंती: देवी मां की आराधना से मिलेगा सौभाग्य, राशिनुसार ऐसे करें पूजा

भुवनेश्वरी जयंती: देवी मां की आराधना से मिलेगा सौभाग्य, राशिनुसार ऐसे करें पूजा

भाद्रपद शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को भुवनेश्वरी जयंती मनायी जाती है। इस दिन मां भुवनेश्वरी की साधना के लिए बड़ा ही प्रशस्त है।आज के दिन करें खास उपाय।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Published on: August 28, 2020 19:36 IST
भुवनेश्वरी देवी- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/SID_290_THE_HEART_ROB_HUMBLE_ भुवनेश्वरी देवी

भाद्रपद शुक्ल पक्ष की एकादशी  सुबह 8:18 तक है उसके बाद द्वादशी तिथि लग जाएगी। भाद्रपद शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को भुवनेश्वरी जयंती मनायी जाती है। इस दिन मां भुवनेश्वरी की साधना के लिए बड़ा ही प्रशस्त है। माना जाता है कि इस ही के दिन मां भुवनेश्वरी का अवतरण हुआ था। दस महाविद्याओं में से एक मां भुवनेश्वरी इस ब्रहमांड की शक्ति का आधार हैं। इनका स्वरूप बड़ा ही कांतिपूर्ण और सौम्य है। स्वयं शंकरजी भी इनके पाठ से ही समस्त आगमों तथा तन्त्रों में विज्ञानी हुए हैं।

गुरू के सानिध्य में बैठकर गुरू के मुख से अभ्यास करके शिवालय में, शून्य घर में या चौराहे पर जो मनुष्य इनके मंत्र का जप करता है, वह योगी होता है,  एकाग्रचित्त होकर जो इसे सदा पढ़ता या सुनता है, वह दीर्घायु और सुखी होता है, उसकी वाणी ओजस्वी हो जाती है। वह व्यक्ति गुरू के चरणों में श्रद्धावान होकर स्त्रियों का प्रिय होता है।

राशिफल 29 अगस्त: कुंभ राशि के जातकों को करियर में मिलेगी तरक्की, वहीं मकर राशि के लोग रहें सतर्क

मंत्रमहार्णव के अनुसार जो नारी दुर्भाग्य से पीड़ित है, धन-धान्य से विमुक्त है, रोग और कष्टों से परेशान है, उसे भोजपत्र पर देवी का मंत्र लिखकर बाएं हाथ में बांधना चाहिए, इससे उसे सुख-सौभाग्य, दोनों प्राप्त होंगे। पुरुषों को यह मंत्र दाहिने हाथ में बांधना चाहिए। अतः अगर आप भी इन सब चीज़ों को पाना चाहते हैं तो आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी की साधना जरूर करनी चाहिए ।

आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए भुवनेश्वरी जयंती के दिन किये जाने वाले  उपाय उपायों के बारे में।

भुवनेश्वरी देवी का मंत्र

देवी का एकाक्षरी मंत्र है- ह्रीं

विशेष मंत्र है- 'ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:'

परिवर्तिनी एकादशी 2020: चार मास बाद भगवान विष्णु बदलेंगे करवट, इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, व्रत कथा

जप का दक्षांश भैरव मंत्र का जप करें
दक्षांश हवन, दक्षांश तर्पण, दक्षांश मार्जन करें
दक्षांश ब्राह्मण भोज भी करें

'ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:'
इस मंत्र का 1100 बार जप करना चाहिए। पीपल, बरगद की समिधाओं, खीर, घी से हवन करें 

देवी भुवनेश्वरी का एकाक्षरी मंत्र है-
" ह्रीं "

और उनका विशेष मंत्र है -      

"ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: ।।" 

मंत्र मैं एक बार फिर दोहरा देता हूं, आप चाहें तो नोट भी कर सकते हैं- "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:।"

आज  इस मंत्र का कम से कम 11 सौ बार जाप करना चाहिए। साथ ही आपको बता दूं- किसी भी मंत्र का जितना जप किया जाता है, उस जप का 10 परसेन्ट हवन करना चाहिए, उसका 10 परसेन्ट तर्पण, उसका 10 परसेन्ट मार्जन और उसका 10 परसेन्ट ब्राह्मणों को भोजन कराना चाहिए। आपको बता दूं- मां भुवनेश्वरी का  होम  पीपल, गूलर, पलाश, बरगद की समिधाएं, पीली सरसों, खीर और घी आदि से करना चाहिए । आज  मंत्र जाप के बाद आप इनमें से किसी भी एक चीज़ का होम कर सकते हैं।

आज के दिन विभिन्न राशि वालों को किस चीज़ से होम करना चाहिए या कौन-सा उपाय करना चाहिए। 

मेष राशि 
आज आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: " का जाप करने के बाद पीपल की समिधा से हवन करना चाहिए। जीवन में बार-बार आ रही परेशानियों से आपको छुटकारा मिलेगा।

वृष राशि 
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: "..... का जाप करके दूध-चावल से बनी खीर का होम करना चाहिए। जल्दी ही आपको बिजनेस में बढ़ोतरी के लिये आर्थिक रूप से मदद मिलेगी।

मिथुन राशि
आज के दिन ब्राह्मी और घी लेकर, उन्हें देवी भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:।"  से अभिमंत्रित करके, पूरे एक साल तक उस ब्राह्मी और घी को पीने से आपके अन्दर सुन्दर कविता करने की अद्भुत क्षमता आ जायेगी।

कर्क राशि 
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र -"ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: " का जाप करके बरगद की समिधा से हवन करना चाहिए। आपको हर तरह के वाद-विवाद से छुटकारा मिलेगा।

सिंह राशि 
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:।" का जाप करके गूलर की समिधा से होम करना चाहिए। आपको  विरोधियों से छुटकारा मिलेगा ,  भय दूर होगा।

कन्या राशि 
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: " का जाप करके पीली सरसों का होम करना चाहिए। आप किसी को भी अपने वश में करने की क्षमता हासिल कर लेंगे।

तुला राशि
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:।" का जाप करके घी, मधु और शक्कर से युक्त खीर से होम करना चाहिए। आपको जॉब में तरक्की मिलेगी।

वृश्चिक राशि 
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: " का जाप करके चन्दन के जल से युक्त चावल से होम करना चाहिए।  आप जिस भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं, आपको उस क्षेत्र में सफलता जरूर मिलेगी ।

धनु राशि
सुख-सौभाग्य पाना चाहते हैं, , तो  भोजपत्र पर देवी भुवनेश्वरी का एकाक्षरी मंत्र लिखकर अपने हाथ में बांधना चाहिए। - देवी का एकाक्षरी मंत्र है-"ह्रीं" भोजपत्र पर ये मंत्र लिखकर। स्त्रियों को अपने बाएं हाथ में और  पुरुषों को अपने दायें हाथ में  बांधना चाहिए। शीघ्र ही  आपको सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होगी और आपके जीवन में कोई अड़चन नहीं आयेगी।

मकर राशि 
अगर आप अपने जीवन में खुशहाली चाहते हैं तो अपने सामने एक लोटा जल लेकर बैठ जाएँ और देवी भुवनेश्वरी के इस मंत्र का 21  बार जाप करें  । मंत्र है-"ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: " जाप करने के बाद उस जल से अपना अभिषेक करना है।  ऐसा करने से आपके जीवन में खुशहाली बनी रहेगी।

कुंभ राशि 
आज के दिन आपको मां भुवनेश्वरी के मंत्र - "ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम:।" का जाप करके देवी को चन्दन, अगर, कपूर और केसर की गंध अर्पित करके, पलाश की समिधा से हवन करना चाहिए।  ऐसा करने से आपको श्रेष्ठ वाणी की प्राप्ति होगी,  आप सभी को जल्द ही प्रभावित कर पाने में सफल होंगे।

मीन राशि 
आज आपको  शुद्ध जल लेकर, उसे देवी के मंत्र से इक्कीस बार अभिमन्त्रित करना चाहिए और अभिमन्त्रित करने के बाद उस जल को  पीना चाहिए।  मंत्र  है-"ॐ ह्रीं भुवनेश्वर्ये नम: "  इस प्रकार मंत्र से अभिमन्त्रित जल का पान करने से आपकी बौद्धिक क्षमता में बढ़ोतरी होगी।  

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Religion News in Hindi के लिए क्लिक करें लाइफस्टाइल सेक्‍शन
Write a comment