1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. लाइफस्टाइल
  4. जीवन मंत्र
  5. चैत्र नवरात्रि 2021: कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और उपहार

चैत्र नवरात्रि 2021: कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और उपहार

नवरात्रि में कन्या पूजन का बड़ा महत्व है। नौ कन्याओं को नौ देवियों के प्रतिविंब के रूप में पूजने के बाद ही भक्तों का नवरात्र व्रत पूरा होता है।

India TV Lifestyle Desk Written by: India TV Lifestyle Desk
Updated on: April 20, 2021 10:24 IST
चैत्र नवरात्रि 2021: कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और उपहार- India TV Hindi
Image Source : INSTAGRAM/SPRUHA_DESHPANDE2020/ चैत्र नवरात्रि 2021: कोरोना काल में ऐसे करें कन्या पूजन, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और उपहार

नवरात्रि के दौरान कन्या पूजन का बड़ा महत्व है। नौ कन्याओं को नौ देवियों के प्रतिविंब के रूप में पूजने के बाद ही भक्तों का नवरात्र व्रत पूरा होता है। अपने सामर्थ्य के अनुसार उन्हें भोग लगाकर दक्षिणा देने मात्र से ही मां दुर्गा प्रसन्न हो जाती हैं और भक्तों को उनका मनचाहा वरदान देती हैं। कन्या पूजन अष्टमी और नवमी के दिन करना शुभ माना जाता है।

कोरोना काल में कन्या पूजन

कन्या भोज में कम से कम सात कन्या और एक लंगूर (बालक) को भोजन कराना चाहिए। लेकिन कोरोना काल के बीच बच्चों का बाहर निकलना सुरक्षित नहीं हैं। ऐसे में आप चाहे एक कन्या को भी भोज करा सकते हैं। इससे भी आपको लाभ मिलेगा। अगर आपके घर पर एक ही कन्या नहीं है तो ऐसे में मां दुर्गा को भोग लगा सकते हैं। भोग में ऐसी चीजों का इस्तेमाल करे जो लंबे समय तक चले। जिससे आप अपने अनुसार किसी कन्या को भेट दें। 

Vastu Tips: वास्तु के अनुसार नवरात्रि में कन्या पूजन के दौरान इस दिशा में कराएं मुख, होगा शुभ

कन्या पूजन शुभ मुहूर्त 

20 अप्रैल 2021 रात्रि 12 बजकर 2 मिनट के बाद से अष्टमी तिथि शुरू हो जाएगी। जोकि 20 अप्रैल को पूरे दिन रहेगी और 21 अप्रैल रात्रि 12 बजकर 43 मिनट तक रहेगी। इसके बाद नवमी तिथि का शुरू हो जाएगी। जो 22 अप्रैल 2021 मध्यरात्रि 12 बजकर 35 मिनट तक रहेगी।

कन्या पूजन विधि

जिन कन्याओ को भोज पर खाने के लिए बुलाना है , उन्हें एक दिन पहले ही न्यौता दे दे। गृह प्रवेश पर कन्याओ का पूरे परिवार के सदस्य फूल वर्षा से स्वागत करे और नव दुर्गा के सभी नौ नामों के जयकारे लगाए। अब इन कन्याओं को आरामदायक और स्वच्छ जगह बिठाकर इन सभी के पैरों को बारी- बारी दूध से भरे थाल या थाली में रखकर अपने हाथों से उनके पैर धोने चाहिए और पैर छूकर आशीष लेना चाहिए। अब उन्‍हें रोली, कुमकुम और अक्षत का टीका लगाएं। इसके बाद उनके हाथ में मौली बांधें। अब सभी कन्‍याओं और बालक को घी का दीपक दिखाकर उनकी आरती करें। आरती के बाद सभी कन्‍याओं को भोग लगाएं। भोजन के बाद कन्‍याओं को भेंट और उपहार दें।

कन्याओं को क्या दें उपहार

  1. आचार्य इंदु प्रकाश के अनुसार कन्या पूजन के दौरान उपहार देना शुभ माना जाता है। जानिए कौन-कौन सा उपहार देना माना जाता है शुभ। 
  2. अगर आप रीयल स्टेट का व्यापार करते है या किसी रीयल स्टेट की कंपनी में कार्यरत है तो आज आप कन्याओं को पत्थर की मूर्ति दान करें।
  3. अगर आप व्यापारी है तो आज आप कन्याओं को साबुत मूंग का दान करें |
  4. अगर आप ट्रांसपोर्टर्स है या किसी भी तरह के ट्रासपोर्ट के कार्य से जुड़े है तो आज आप कन्याओं को नमकीन और बादाम दान करें |
  5. अगर आप उद्योगपति है तो आज आप कन्याओं को सोने की कोई भी चीज दान करें |
  6. अगर आप लोहा व्यवसायी है या आप लोहे से सम्बंधित किसी भी प्रकार का कार्य करते है तो आज आप कन्याओं को काजू और किशमिश दान दें |
  7. अगर आप सर्राफा व्यवसायी है तो आज आप कन्याओं को मीठा शर्बत पिलायें या दान करें |
  8. अगर आप मीडिया के क्षेत्र में कार्यरत है तो आज आप कन्याओं को कमर की बेल्ट दान करें |
  9. अगर आप बैंकर्स है या आप किसी बैंक में कार्यरत है तो आज आप कन्याओं को केला और चावल दान दें |
  10. अगर ठेकेदार है या किसी भी प्रकार के कॉन्ट्रैक्ट का कार्य करते है तो आज आपको कन्याओं को नकद पैसे दान करें |
  11. अगर आप फिल्म और ग्लैमर के क्षेत्र से जुड़े है तो आज आप कन्याओं को दही दान करें |
  12. अगर आप खिलाड़ी है या आप किसी भी प्रकार के स्पोर्ट से जुड़े है तो आज आप कन्याओं को मसूर की दाल दान करें |
  13. अगर आप ज्योतिषीय या संत है तो आज आप कन्याओं को किसी भी तरह की धार्मिक किताब दान करें |
erussia-ukraine-news