1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. दुनिया भर की विमानन कंपनियों को 2020 में 84.3 अरब डॉलर का नुकसान संभव: IATA

दुनिया भर की विमानन कंपनियों को 2020 में 84.3 अरब डॉलर का नुकसान संभव: IATA

एसोसिएशन ने उम्मीद जताई है कि सेक्टर के लिए सबसे बुरी स्थिति खत्म हो चुकी है

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: June 09, 2020 22:48 IST
Aviation Sector- India TV Paisa
Photo:FILE

Aviation Sector

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय एयर ट्रांस्पोर्ट एसोसिएशन (आईएटीए) ने मंगलवार को कहा कि 2020 में दुनिया भर की विमानन कंपनियों को 84.3 अरब डॉलर का नुकसान हो सकता है। ग्लोबल एविएशन इंडस्ट्री के लिए आईएटीए के अनुसार इंडस्ट्री की आय 2019 के 838 अरब डॉलर से 50 प्रतिशत गिरकर 419 डॉलर पर आ सकता है। अनुमान में कहा गया है कि 2021 में नुकसान 15.8 अरब डॉलर हो सकता है, वहीं राजस्व बढ़कर 598 अरब डॉलर पहुंच सकता है।

आईएटीए के महानिदेशक और सीईओ अलेक्जेंडर डी जुनिएक ने एक बयान में कहा, कि 2020 उड्डयन इतिहास का सबसे बुरा साल होने जा रहा है। इस साल उद्योग को प्रतिदिन औसतन 23 करोड़ डॉलर का नुकसान होगा। कुल नुकसान 84.3 अरब डॉलर होगा। जुनिएक ने कहा, "इसका अर्थ यह कि इस वर्ष अनुमानित 2.2 अरब यात्रियों के आधार पर विमानन कंपनियों को 37.54 डॉलर प्रति यात्री नुकसान होगा। इसलिए सरकारी वित्तीय राहत जरूरी है, क्योंकि विमानन कंपियां नकदी संकट से जूझ रही हैं।

उनके अनुसार, चूंकि कोविड-19 का दूसरा तथा अधिक नुकसानदायक दौर नहीं आने वाला है, लिहाजा यातायात की सबसे बुरी स्थित संभवत: समाप्त हो चुकी है। मौजूदा समय में आईएटीए कोई 290 विमानन कंपनियों का प्रतिनिधित्व करता है, जो वैश्विक हवाई यातायात का 82 प्रतिशत हैं।

Write a comment
X