1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. आनंद महिंद्रा ने Twitter CEO पराग अग्रवाल को कहा 'यह इंडियन CEO वायरस है, इसकी कोई वैक्सीन नहीं'

आनंद महिंद्रा ने Twitter CEO पराग अग्रवाल को कहा 'यह इंडियन CEO वायरस है, इसकी कोई वैक्सीन नहीं'

आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीट में कहा कि यह एक महामारी है, जिसके बारे में हम खुशी और गर्व के साथ कह सकते हैं यह भारतीय मूल का है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: November 30, 2021 15:59 IST
आनंद महिंद्रा ने Twitter CEO...- India TV Paisa
Photo:FILE

आनंद महिंद्रा ने Twitter CEO पराग अग्रवाल को कहा 'यह इंडियन CEO वायरस है, इसकी कोई वैक्सीन नहीं'

Highlights

  • आनंद महिंद्रा ने भी अपने अलग अंदाज में पराग को बधाई दी है
  • आनंद महिंद्रा ने कहा कि यह एक महामारी है और हमें गर्व है कि यह भारतीय है
  • पराग को बधाई देने वालों में सुंदर पिचई से लेकर एलन मस्क तक शामिल हैं

भारतीय मूल के सॉफ्टवेयर इंजीनियर पराग अग्रवाल (Parag Agrawal) को Twitter का नया CEO बनाया गया है। सीईओ बनने के बाद से पराग को दुनिया भर से बधाइयां मिल रही है। पराग को बधाई देने वालों में गूगल के सीईओ सुंदर पिचई से लेकर टेस्ला के मालिक एलन मस्क तक शामिल हैं। 

इस बीच भारतीय उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने भी अपने अलग अंदाज में पराग को बधाई दी है। आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीट में कहा कि यह एक महामारी है, जिसके बारे में हम खुशी और गर्व के साथ कह सकते हैं यह भारतीय मूल का है। यह भारतीय सीईओ वायरस है, इससे बचाव की कोई वैक्सीन नहीं है।

एलन मस्क और सुंदर पिचई ने दी बधाई

पराग अग्रवाल को Twitter का CEO नियुक्त किए जाने पर इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपनी Tesla के CEO एलन मस्क (Elon Musk) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। एलन मस्क ने कहा है कि भारतीय टैलेंट से अमेरिका को काफी फायदा हो रहा है। इसी के साथ गूगल के सीईओ सुंदर पिचई ने पराग को बधाई देते हुए कहा कि वे ​ट्विटर के भविष्य को लेकर बेहद आशान्वित हैं। 

कौन हैं पराग अग्रवाल? Who Is Parag Agrawal

सीईओ के पद पर नियुक्ति से पहले पराग अग्रवाल ट्विटर में सीटीओ यानी चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर के पद पर कार्यरत थे। एडम मेसिंगर के दिसंबर 2016 में कंपनी छोड़ने के बाद पराग को यह जिम्मेदारी मिली थी। हालांकि आधिकारिक रूप से उन्हें सीटीओ पद पर नियुक्त करने की घोषणा 8 मार्च 2018 में हुई। पराग अग्रवाल ने ट्विटर पर ट्वीट्स की अहमियत को बढ़ाने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर जो काम किया था, उसकी खूब सराहना हुई थी। जब वह स्टैंडफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे थे, उस दौरान उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट, याहू और एटीएंडटी जैसी दिग्गज कंपनियों में इंटर्नशिप भी की थी।

आईआईटी बॉम्बे से पढ़े हैं पराग

ट्विटर के नए सीईओ पराग अग्रवाल ने आईआईटी बॉम्बे के प्रोडक्ट हैं। उन्होंने यहां से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है। इसके अलावा उन्होंने स्टेनफोर्ड यूनिवर्सिटी से कम्प्यूटर साइंस में डॉक्टरेट किया है। पराग अग्रवाल 2011 से ही ट्विटर में काम कर रहे हैं और 2017 से कंपनी के सीटीओ के पद पर नियुक्त हैं। जब वह कंपनी में शामिल हुए थे तब ट्विटर के कर्मचारियों की संख्या 1,000 से भी कम हुआ करती थी।

कितना होगा पराग का वेतन

‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अग्रवाल को बोनस, प्रतिबंधित शेयरों और प्रदर्शन-आधारित शेयर इकाइयों के अलावा सालाना 10 लाख डॉलर का वेतन मिलेगा।

जैक डोर्सी ने क्यों दिया इस्तीफा?

जैक डोर्सी वित्तीय भुगतान कंपनी स्क्वायर के भी सीईओ हैं। स्क्वायर की स्थापना उन्होंने ही की है। ऐसे में कुछ बड़े निवेशकों ने जैक डोर्सी के एक साथ दो कंपनी के सीईओ होने पर सवाल उठाए थे। सवाल किए जा रहे थे कि क्या वह प्रभावी रूप से दोनों कंपनियों का नेतृत्व कर सकते हैं? इसी के चलते उन्होंने इस्तीफा देने का फैसला किया। जैक डोर्सी ने ही 15 पहले मार्च 2006 में ट्विटर की स्थापना की थी और फिर 2008 तक कंपनी के सीईओ भी रहे। 

Write a comment