1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. इस कंपनी ने 250 कर्मचारियों को अचानक जॉब से निकाला, सभी सैलरी बढ़ने का कर रहें थे इंतजार

इस कंपनी ने 250 कर्मचारियों को अचानक जॉब से निकाला, सभी सैलरी बढ़ने का कर रहें थे इंतजार

सॉफ्टवेयर सर्विस प्रोवाइडर कंपनी फॉरआई ने अप्रेजल टाइम पर ही अपने 250 कर्मचारियों की छुट्टी कर दी। अप्रेजल टाइम का इंतजार हर कर्मचारियों को होती है।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Published on: June 12, 2022 11:06 IST
Layoff in Fareye company- India TV Paisa
Photo:GOOGLE

Layoff in Fareye company

Highlights

  • फारआई कंपनी ने अपने 250 कर्मचारियों को जॉब से निकाला
  • कंपनी के CEO ने कहा- मुश्किल दौर से गुजर रही है कंपनी
  • फारआई एक सॉफ्टवेयर सर्विस प्रोवाइडर कंपनी है

सॉफ्टवेयर सर्विस प्रोवाइडर कंपनी फॉरआई ने अप्रेजल टाइम पर ही अपने 250 कर्मचारियों की छुट्टी कर दी। अप्रेजल टाइम का इंतजार हर कर्मचारियों को होती है। लोग बहुत ही उम्मीद लगाए बैठे होते हैं कि इस बार उनकी सैलरी बढ़ेगी और हर एक कंपनी साल भर के परफॉर्मेंस के आधार पर अपने कर्मचारियों का अप्रेजल करती है। लेकिन ठीक इसी समय अपने 250 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल देना बहुत ही बड़ी बात है। कंपनी ने भी इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि बाजार परिस्थितियों में नरमी आने और टीम के पुनर्गठन की वजह से संख्या में कटौती करनी पड़ी है।

कर्मचारियों को निकालने पर कंपनी की सफाई

फारआई के सह-संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) कुशल नाहटा ने कहा कि बाजार अभी धीमी गती से चल रहा है और ऐसे समय में हम अपना पूरा प्रयास और संसाधन उपभोक्ताओं को अधिकतम मूल्य दे सकने वाले क्षेत्रों में ही केंद्रित करना चाहते हैं। साथ ही साथ परिचालन सक्षमता बढ़ाने, लागत में कमी लाने और आपूर्ति अनुभव को बेहतर बनाने पर फोकस करेंगे।

मुश्किल दौर से गुजर रही है कंपनी इसलिए उठाना पड़ा यह कदम

फारआई के CEO ने यह भी कहा कि कंपनी अभी बहुत ही मुश्किल दौर से गुजर रही है। इस कंपनी ने हमेशा ही अपने कर्मचारियों को सबसे बड़ी संपत्ति माना है लेकिन ऐसे समय में हम मजबूर हैं। तमाम परिचालन और सेवाओं में कार्यरत कर्मचारियों की संख्या में कटौती इसकी ही एक प्रमुख वजह है। आपको बता दें कि ई-कॉमर्स क्षेत्र को सॉफ्टवेयर सेवाएं देने वाली फारआई ने पिछले साल शृंखला-बी वित्तपोषण दौर में 10 करोड़ डॉलर का फंड जुटाया था।

Write a comment