1. You Are At:
  2. India TV
  3. पैसा
  4. बाजार
  5. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती जारी, कच्चे तेल में नरमी का मिला फायदा

पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती जारी, कच्चे तेल में नरमी का मिला फायदा

पेट्रोल और डीजल कीमतों में राहत का सिलसिला जारी

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: January 30, 2020 12:27 IST
Petrol Price Cut- India TV Paisa

Petrol Price Cut

पेट्रोल और डीजल कीमतों में राहत का सिलसिला जारी है। तेल कंपनियों ने गुरुवार को फिर पेट्रोल और डीजल के दाम में बड़ी कटौती की है। पेट्रोल का दाम 23-25 पैसे प्रति लीटर घट गया है। डीजल के दाम में भी 22-24 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई है। बुधवार को तेल कीमते स्थिर रही थीं । तेल कीमतों में कटौती कच्चे तेल की कीमतों में नरमी की वजह से देखने को मिली है। 

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल का दाम 24 पैसे जबकि कोलकाता में 23 पैसे और चेन्नई में 25 पैसे प्रति लीटर घट गया है।  दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम गुरुवार को घटकर क्रमश: 73.36 रुपये, 75.99 रुपये, 78.97 रुपये और 76.19 रुपये प्रति लीटर हो गया। वहीं, चारों महानगरों में डीजल की कीमत भी घटकर क्रमश: 66.36 रुपये, 68.72 रुपये, 69.56 रुपये और 70.09 रुपये प्रति लीटर हो गई है।  11 जनवरी से पेट्रोल और डीजल के दामों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है। इस दौरान 12 बार तेल कीमतों में कटौती की जा चुकी है और पेट्रोल की कीमतें ढाई रुपये से ज्यादा सस्ती हो चुकी हैं। 

तेल कीमतों में नरमी की वजह से ही तेल कंपनियां उपभोक्ताओं का राहत दे रही हैं। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में भी नरमी का रुख बना हुआ था। अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज पर गुरुवार को ब्रेंट क्रूड के अप्रैल डिलीवरी अनुबंध में पिछले सत्र के मुकाबले 1.02 फीसदी की नरमी के साथ 58.31 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। वहीं, अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) का मार्च अनुबंध पिछले सत्र से 0.96 फीसदी की गिरावट के साथ 52.82 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था।

कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट चीन में वायरस संकट की वजह से है। चीन में कोरोनावायरस का कहर गहरा गया है और इसकी चपेट में आकर मरने वालों की संख्या बढ़कर 170 हो गई है। सरकार द्वारा सख्ती करने से कई विमानन कंपनियों ने चीन के लिए उड़ाने रद्द कर दी हैं। वही, कारोबारी गतिविधियों पर भी काफी असर पड़ा है।  । कच्चे तेल के दाम में गिरावट की एक और वजह यह है कि अमेरिका में बीते सप्ताह तेल के भंडार में इजाफा हुआ है। अमेरिकी एजेंसी एनर्जी इन्फोरमेशन एडमिनिस्ट्रेशन की बुधवार की रिपोर्ट के अनुसार, बीते सप्ताह अमेरिका में तेल के भंडार में 35 लाख बैरल का इजाफा हुआ।

Write a comment
coronavirus
X