Friday, May 17, 2024
Advertisement

क्या है हंस योग, कुंडली में कैसे बनता है? इस योग के बनने से पद-पैसा-सम्मान मिलता है सबकुछ

कुंडली में कई तरह के शुभ योग बनते हैं, इन्हीं योगों में से एक है हंस योग। यह योग कुंडली में कैसे बनता है और इसके लाभ क्या हैं, विस्तार से जानें लेख में।

Written By: Naveen Khantwal
Published on: April 18, 2024 20:13 IST
Hans Yog- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV Hans Yog

कुंडली में बनने वाले कई शुभ योगों में से एक है हंस योग। यह योग जिस भी व्यक्ति की कुंडली में बनता है उसे बहुत भाग्याशाली माना जाता है। यह योग कुंडली में बनता कैसे है और कैसे परिणाम इसके बनने से व्यक्ति को मिलते हैं, आइए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं। 

क्या है हंस योग? 

हंस योग कुंडली में गुरु की कुछ विशेष स्थितियों के कारण बनता है। जब बृहस्पति ग्रह कुंडली के प्रथम, चतुर्थ, सप्तम या दशम भाव में अपनी राशियों धनु या मीन में हों, या फिर अपनी उच्च राशि कर्क में हों तो हंस योग बनता है। इस योग के बनने से कई शुभ परिणाम व्यक्ति को मिलते हैं। हालांकि यह देखना भी आवश्यक होता है कि कुंडली में गुरु की डिग्री अच्छी हो यानि गुरु मजबूत अवस्था में विराजमान हों। 

हंस योग बनने से मिलते हैं ऐसे परिणाम

जिन भी जातकों की कुंडली में हंस योग बनता है वो काफी आकर्षक माने जाते हैं।  शुभ ग्रह के प्रभाव से ऐसे लोग अपनी बातों और स्वभाव से किसी को भी अपनी ओर आकर्षित कर पाने में कामयाब होते हैं। इस योग का बनना व्यक्ति को भाग्यशाली भी बनाता है। ऐसे लोगों को कम मेहनत करके भी ऊंचे पदों पर आप देख सकते हैं। कई तरह की प्रतिभाएं भी ऐसे लोगों में आपको देखने को मिल सकती हैं। ऐसे लोग अच्छे विद्यार्थी होने के साथ ही अच्छे शिक्षक भी होते हैं। इनको सामाजिक स्तर पर भी मान-प्रतिष्ठा प्राप्त होती है। हंस योग का कुंडली में होना ऐसे लोगों को धार्मिक क्षेत्रों में भी आगे ले जाता है। ऐसे लोग अच्छे योग गुरु, ज्योतिष गुरु हो सकते हैं। 

पारिवारिक जीवन 

हंस योग के बनने से पारिवारिक जीवन में भी हमेशा संतुलन बना रहता है। ऐसे लोग रिश्तों को निभाने वाले होते हैं और परिवार में अपनी स्थिति को समझते हैं। ये लोग परिवार को एक साथ लेकर चलने वाले माने जाते हैं। हालांकि हंस योग के बनने से कई बार ऐसे लोगों में विरक्ति का भाव भी देखा जाता है, इसलिए प्रेम और वैवाहिक जीवन में बेहतर करने के लिए इन्हें मेहनत करनी पड़ सकती है। 

करियर

हंस योग के बनने से करियर से जुड़ी समस्याओं का सामना बहुत कम करना पड़ता है। ऐसे लोगों को अपने जीवन की सही दिशा पहले से ही मालूम होती है और इसलिए ये मेहनत भी सही दिशा में करते हैं, यही इनकी सफलता का एक कारण होता है। आप हंस योग में पैदा हुए लोगों को ऊंचे पदों पर देख सकते हैं। अक्सर हंस योग में पैदा हुए लोग अच्छे बिजनेस पर्सन, अध्यापक, प्रशासनिक अधिकारी हो सकते हैं। 

सेहत 

हंस योग में पैदा हुए लोगों की सेहत भी अच्छी रहती है। ये लोग अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने वाले होते हैं। हालांकि उम्र बढ़ने के साथ-साथ मोटापे, ब्लड प्रेशर, हड्डियों से जुड़ी परेशानियों का सामना ये कर सकते हैं। उम्र बढ़ने के साथ स्वास्थ्य का ख्याल इनको रखना चाहिए। 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इंडिया टीवी इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है। इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है।)

ये भी पढ़ें-

23 अप्रैल मंगल करेंगे गोचर, जानें मेष से लेकर मीन राशि तक पर क्या पड़ेगा असर

शनि कुंडली में कब होते हैं शुभ? आपकी कुंडली में है शनि की ये स्थिति तो भाग्य देगा साथ, करियर में मिलेगा फायदा

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement