Saturday, May 18, 2024
Advertisement

शनि कुंडली में कब होते हैं शुभ? आपकी कुंडली में है शनि की ये स्थिति तो भाग्य देगा साथ, करियर में मिलेगा फायदा

शनि को ज्योतिष में क्रूर ग्रह माना जाता है, लेकिन कुंडली में शनि की कुछ ऐसी स्थितियां भी हैं जो बहुत शुभ मानी जाती हैं। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि शनि किन भावों में बैठकर शुभ फल देते हैं।

Written By: Naveen Khantwal
Updated on: April 12, 2024 22:35 IST
Shani Dev - India TV Hindi
Image Source : FILE Shani Dev

शनि को ज्योतिष में न्याय का देवता कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि ये कर्म के अनुसार आपको फल प्रदान करते हैं। यानि आपके कर्म अच्छे हैं तो परिणाम भी शनि अच्छे देंगे। वहीं अगर आप गलत कार्य करते हैं तो आपको दंडित भी शनि अवश्य करेंगे। कुंडली के अलग-अलग भावों में शनि की स्थिति का परिणाम भी अलग-अलग होता है। ऐसे में आज हम आपको बताएंगे कि कुंडली के किन भावों में शनि हों तो आपको अच्छे परिणाम देते हैं, और आपको भाग्य का सहयोग मिलता है। 

कुंडली के दशम भाव में शनि 

अगर आपकी कुंडली के दसवें भाव में शनि ग्रह विराजमान हैं, तो समझ जाइए भाग्य आपका साथ देगा। खासकर करियर के मामले में आपको अच्छे परिणाम देखने को मिलेंगे। आप कर्मठ और अनुशासित होंगे जिसके चलते करियर में ऊंचाइयों को आप छू सकते हैं। वहीं शनि अगर दसवें भाव में राहु के साथ युति में हों या फिर राहु की दृष्टि शनि पर हो तो व्यक्ति समाज में सम्मान पाता है। ऐसे लोग राजनीति के क्षेत्र में आगे बढ़ सकते हैं। 

कुंडली के तृतीय भाव में शनि 

यह भाव पराक्रम का कहा जाता है। इस भाव में शनि के होने से व्यक्ति अच्छा वक्ता बनता है। ऐसे लोग न्याय के लिए लड़ते हैं और न अपने साथ न किसी और के साथ अन्याय सह सकते हैं। ऐसे लोगों को भी भाग्य का सहयोग मिलता है। ये लोग आईटी क्षेत्र, लोहे से संबंधित व्यापार आदि में बड़े पदों पर पहुंच सकते हैं। ऐसे लोग पारिवारिक जीवन में भी काफी अच्छे होते हैं और हर किसी का ख्याल रखते हैं। 

कुंडली के प्रथम भाव में शनि 

इस भाव में बैठा शनि भी अच्छे परिणाम देता है लेकिन जब लग्न में ये अपनी राशि या अपनी मित्र राशि में हो। ऐसे लोग गंभीर और मेहनती माने जाते हैं। ऐसे लोगों को कार्य के प्रति निष्ठावान माना जाता है। हालांकि शनि की ये स्थिति आलस्य भी व्यक्ति को दे सकती है। ऐसे लोग किसी भी काम को करने में आवश्यकता से अधिक समय लगा सकते हैं। लेकिन इनके काम में आपको अलग चमक देखने को मिलती है

कुंडली के षष्ठम भाव में शनि 

कुंडली के इस भाव में बैठकर शनि अच्छे परिणाम देता है। ऐसे लोग अपने शत्रुओं पर विजय प्राप्त करते हैं। ऐसे लोग धनवान होते हैं और कभी इन्हें किसी से पैसा मांगने की जरूरत नहीं पड़ती। शनि के इस भाव में होने से भाग्य का भी व्यक्ति को साथ मिलता है। ऐसे लोग मेडिकल के क्षेत्र में उपलब्धियां हासिल कर सकते हैं। 

इन सभी भावों में ज्यादातर शनि अच्छे परिणाम देते हैं। जिन लोगों के भी इन भावों में शनि शुभ अवस्था में होते हैं उनका भाग्य एक न एक दिन अवश्य चमकता है। 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारियां धार्मिक आस्था और लोक मान्यताओं पर आधारित हैं। इंडिया टीवी इस बारे में किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं करता है। इसे सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर यहां प्रस्तुत किया गया है।)

ये भी पढ़ें-

कन्या पूजन के दौरान भूलकर भी न करें ये गलती, माता की कृपा से रह जाएंगे वंचित

कौन सी राशि के लोग ज्यादा सफल होते हैं? जानें आपकी राशि भी इनमें शामिल है या नहीं

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement